Asianet News Hindi

जैसे ही CMO ने दरवाजा खोला, सामने छापा मारने पहुंची टीम मुस्कराते दिखी, परिचय सुनकर होश उड़ गए

First Published Sep 15, 2020, 10:18 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन, मध्य प्रदेश.  बड़नगर के CMO कुलदीप टीनसुख के घर पर मंगलवार को लोकायुक्त ने छापा मारा। सुबह जब CMO ने दरवाजा खोला, तो सामने छापा मारने वाली टीम को मुस्कराकर खड़े देखा। जैसे ही उन्हें मालूम चला कि उनके यहां छापा डाला जा रहा है, तो उनके होश उड़ गए। लोकायुक्त टीम को छापे के दौरान CMO के घर से करोड़ों की काली कमाई का पता चला है। टीम ने CMO के उज्जैन, बड़नगर और माकड़ौन स्थित तीन ठिकानों पर एक साथ कार्रवाई की। शुरुआती जांच में 3 करोड़ रुपए की काली कमाई सामने आई है। जांच में घर से छोटे-छोटे नोटों में 4 लाख नकद, लाखों के जेवर मिले। इसके अलावा दो भव्य मकान, जमीन, एक निर्माणाधीन होटल और अन्य प्रापर्टी के दस्तावेज भी मिले। लोकायुक्त इंस्पेक्टर बसंत श्रीवास्तव के मुताबिक, CMO खिलाफ जून में एक शिकायत आई थी। शिकायत सही पाए जाने के बाद यह कार्रवाई की गई।

जब लोकायुक्त टीम  CMO के घर छापा मारने पहुंची, तब उनके साथ एक दोस्त भी था। टीम को माकड़ौन में लाखों रुपए कैश और बड़ी मात्रा में सोने-चांदी की ज्वेलरी मिली है।

जब लोकायुक्त टीम  CMO के घर छापा मारने पहुंची, तब उनके साथ एक दोस्त भी था। टीम को माकड़ौन में लाखों रुपए कैश और बड़ी मात्रा में सोने-चांदी की ज्वेलरी मिली है।

शुरुआती जांच में  माकड़ौन में एक मकान, दो लग्जरी कार, दो स्कूटी, दो बाइक, साढ़े 3 एकड़ जमीन मिली। वहीं, उज्जैन रेलवे स्टेशन के सामने कमर्शियल निर्माण चल रहा है। यह होटल बताया जाता है। उज्जैन में ही दो मंजिला मकान, 4 लाख नकदी, सोने चांदी के लाखों के जेवर मिले हैं।

शुरुआती जांच में  माकड़ौन में एक मकान, दो लग्जरी कार, दो स्कूटी, दो बाइक, साढ़े 3 एकड़ जमीन मिली। वहीं, उज्जैन रेलवे स्टेशन के सामने कमर्शियल निर्माण चल रहा है। यह होटल बताया जाता है। उज्जैन में ही दो मंजिला मकान, 4 लाख नकदी, सोने चांदी के लाखों के जेवर मिले हैं।

कुलदीप टीनसुख की पहली पोस्टिंग 2008 में पंचायत सचिव के पद पर हुई थी। फिलहाल ये राजस्व निरीक्षक हैं। बड़नगर के प्रभारी CMO भी हैं।
 

कुलदीप टीनसुख की पहली पोस्टिंग 2008 में पंचायत सचिव के पद पर हुई थी। फिलहाल ये राजस्व निरीक्षक हैं। बड़नगर के प्रभारी CMO भी हैं।
 

माना जा रहा है कि छापे के दौरान जो दोस्त घर में मिला, उसके नाम भी इन्होंने प्रॉपर्टी खरीदी है।

माना जा रहा है कि छापे के दौरान जो दोस्त घर में मिला, उसके नाम भी इन्होंने प्रॉपर्टी खरीदी है।

इस तरह घर में कैश रखा मिला।  CMO ने छोटे-छोटे नोटों की गड्डियां भी संभालकर रखी हुई थीं।

इस तरह घर में कैश रखा मिला।  CMO ने छोटे-छोटे नोटों की गड्डियां भी संभालकर रखी हुई थीं।

छापे के दौरान कीमती चीजों का मूल्यांकन करती टीम।

छापे के दौरान कीमती चीजों का मूल्यांकन करती टीम।

छापे में मिली ज्वेलरी। लोकायुक्त को अंदेशा है कि छापे में और भी कई चीजें सामने आ सकती हैं।

छापे में मिली ज्वेलरी। लोकायुक्त को अंदेशा है कि छापे में और भी कई चीजें सामने आ सकती हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios