बचपन के दोस्त हैं चारो आरोपी...ऐसी है डॉक्टर से गैंगरेप फिर मुंह दबाकर मारने और जलाने वालों की कुंडली

First Published 2, Dec 2019, 5:17 PM IST

नई दिल्ली. हैदराबाद में डॉक्टर से गैंगरेप फिर हत्या के मामले में पुलिस ने चारो आरोपियों की कुंडली निकाल ली है। चौंकाने वाली बात यह है कि चारो आरोपी बचपन के दोस्त हैं। एक ट्रक ड्राइवर है और बाकी के तीनों क्लीनर हैं। पुलिस के मुताबिक चारों ने शराब के नशे में 27 नंवबर की रात 10 बजे से सुबह 4 बजे तक पूरी वारदात को अंजाम दिया। डॉक्टर को भी जबरदस्ती शराब पिलाने की कोशिश की गई। उसके मुंह में शराब उढ़ेली गई। शिवा नाम का आरोपी शराब लाया था। 20-20 साल के दो आरोपी, एक 21 और एक 26 साल का है। 27 नवंबर को हुई इस घटना का मुख्‍य आरोपी पिछले दो साल से बिना ड्राइविंग लाइसेंस के ट्रक चला रहा था। वारदात के महज 48 घंटे पहले आरोपी अली पुलिस की गिरफ्त में आया था भी था लेकिन चकमा देकर फरार हो गया।

पुलिस ने पड़ताल में पाया कि पहले आरोपी का नाम आरिफ है, जिसकी उम्र 26 साल है। वह 10वीं पास है। फिर पढ़ाई छोड़ ट्रक ड्राइवर बन गया।

पुलिस ने पड़ताल में पाया कि पहले आरोपी का नाम आरिफ है, जिसकी उम्र 26 साल है। वह 10वीं पास है। फिर पढ़ाई छोड़ ट्रक ड्राइवर बन गया।

दूसरे आरोपी का नाम शिवा का है। 20 साल का शिवा के बारे में कहा जा रहा है कि यही वह शख्स है जो शराब लेकर आया।

दूसरे आरोपी का नाम शिवा का है। 20 साल का शिवा के बारे में कहा जा रहा है कि यही वह शख्स है जो शराब लेकर आया।

तीसरे आरोपी का नाम नवीन कुमार है। 20 साल का नवीन शिवा का रिश्तेदार बताया जा रहा है।

तीसरे आरोपी का नाम नवीन कुमार है। 20 साल का नवीन शिवा का रिश्तेदार बताया जा रहा है।

चौथे आरोपी का नाम चेन्ना केशवल्लु है। 21 साल के केशवल्लु का परिवार खेती करता है। साल भर पहले ही इसकी शादी हुई है।

चौथे आरोपी का नाम चेन्ना केशवल्लु है। 21 साल के केशवल्लु का परिवार खेती करता है। साल भर पहले ही इसकी शादी हुई है।

डॉक्टर की हत्या कैसे हुई ? जानिए घर से निकलने से लेकर जली हालत में लाश मिलने तक 9 घंटों में क्या क्या हुआ।

डॉक्टर की हत्या कैसे हुई ? जानिए घर से निकलने से लेकर जली हालत में लाश मिलने तक 9 घंटों में क्या क्या हुआ।

पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने स्कूटी पंक्चर किया। इसके बाद मदद के बहाने अपहरण कर लिया। इसके बाद उसे टोंडुपल्ली टोल गेट के पास सुनसान जगह पर ले गए। इसके बाद पार्क किए गए ट्रकों के बीच रेप किया और फिर मार डाला। बाद में शव को एक ट्रक में पुलिया पर ले जाया गया और उसके जला दिया। इस बीच स्कूटर को बाहरी इलाके कोथुर में सड़क किनारे छोड़ दिया।

पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने स्कूटी पंक्चर किया। इसके बाद मदद के बहाने अपहरण कर लिया। इसके बाद उसे टोंडुपल्ली टोल गेट के पास सुनसान जगह पर ले गए। इसके बाद पार्क किए गए ट्रकों के बीच रेप किया और फिर मार डाला। बाद में शव को एक ट्रक में पुलिया पर ले जाया गया और उसके जला दिया। इस बीच स्कूटर को बाहरी इलाके कोथुर में सड़क किनारे छोड़ दिया।

डॉक्टर की पहचान होने पर पुलिस ने पड़ताल शुरू की तो घटनास्थल से 11 किमी. की दूरी पर स्कूटी मिली।

डॉक्टर की पहचान होने पर पुलिस ने पड़ताल शुरू की तो घटनास्थल से 11 किमी. की दूरी पर स्कूटी मिली।

महिला डॉक्टर को किस तरह मारा गया? : पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने महिला डॉक्टर के होश में आने के बाद जान ले ली। आरिफ ने उसके मुंह और नाक को अपने हाथों से बंद कर दिया, इसके बाद महिला का दम घुटने लगा और फिर उसकी मौत हो गई।

महिला डॉक्टर को किस तरह मारा गया? : पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने महिला डॉक्टर के होश में आने के बाद जान ले ली। आरिफ ने उसके मुंह और नाक को अपने हाथों से बंद कर दिया, इसके बाद महिला का दम घुटने लगा और फिर उसकी मौत हो गई।

loader