Asianet News Hindi

सिंह राशिफल 2021: शुभ संकेत वाला साल..जाने कैसा रहेगा जनवरी से दिसंबर तक 12 महीना

First Published Dec 7, 2020, 3:18 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. सिंह राशि के लोगों के लिए साल 2021 शुभ संकेत लेकर आ रहा है। पूरे साल शनिदेव आपकी राशि से छठे स्थान पर रहेंगे। इस साल आपको पुराने रोगों में आराम मिलेगा। शत्रुओं पर विजय प्राप्त होगी। बिजनेस में नए अनुबंध हो सकते हैं। इस साल आपको काम में गंभीरता रखनी होगी, नहीं तो नुकसान हो सकता है। नौकरी में सहकर्मी और बॉस आपके काम से खुश होंगे। विद्यार्थियों के लिए ये साल अपेक्षाकृत कम सफल रहेगा। प्रेम प्रसंगों के चलते लक्ष्य से ध्यान भटक सकता है। पति-पत्नी एक-दूसरे की भावनाओं का सम्मान करेंगे। इस साल धन लाभ के योग प्रबल रूप से बन रहे हैं। मंगल स्वगृही होने से जहां भाइयों से संबंध में प्रगाढ़ता आएगी। कारोबार को बढ़ाने के नए-नए आइडिया आपको आएंगे। आयकर, जीएसटी संबंधित समस्याएं आपके सामने आ सकती हैं। इस साल आपके कुछ नए मित्र बन सकते हैं, जो भविष्य में आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। निवेश करने से पहले सावधानी रखें, नहीं तो नुकसान का सामना करना पड़ सकता है। चल-अचल संपत्ति के लिए लोन लेना पड़ सकता है। काम को लेकर यात्राओं का योग भी बन रहा है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पंडित प्रवीण द्विवेदी से जानिए सिंह राशिवालों के लिए कैसा रहेगा साल 2021

इस महीने केतु-शुक्र वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, सूर्य-बुध धनु राशि का पांचवें भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का छठे भाव में, मंगल मेष राशि का नौवें भाव में, राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में, चंद्रमा कर्क राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में अप्रिय समाचार सुनने को मिल सकता है। प्रेम प्रसंगों के मामले उजागर हो सकते हैं। कोई गुप्त बात सबके सामने आ सकती है। 4 जनवरी के बाद किसी खास व्यक्ति से मुलाकात होगी। बिजनेस में कोई नया अनुबंध हो सकता है। 8 जनवरी के बाद रुका हुआ पैसा मिल सकता है। संपत्ति को लेकर विवाद हो सकता है। कोई खास व्यक्ति ही आपके विरुद्ध षड़यंत्र रच सकता है। महीने के मध्य में आप किसी की मदद करेंगे। 18 जनवरी के बाद समय थोड़ा निराशाजनक रहेगा। हेल्थ खराब हो सकती है। पुरानी मेहनत पर पानी फिर सकता है। शत्रु हावी होने का प्रयास करेंगे। 22 जनवरी के बाद समय पक्ष का बनेगा। सरकारी कामों में सफलता मिलेगी। महीने का अंतिम सप्ताह थोड़ा भागदौड़ वाला रहेगा। स्वयं के लिए भी समय नहीं निकाल पाएंगे। इस समय फिजूलखर्च पर नियंत्रण रखना जरूरी है।

इस महीने केतु-शुक्र वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, सूर्य-बुध धनु राशि का पांचवें भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का छठे भाव में, मंगल मेष राशि का नौवें भाव में, राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में, चंद्रमा कर्क राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में अप्रिय समाचार सुनने को मिल सकता है। प्रेम प्रसंगों के मामले उजागर हो सकते हैं। कोई गुप्त बात सबके सामने आ सकती है। 4 जनवरी के बाद किसी खास व्यक्ति से मुलाकात होगी। बिजनेस में कोई नया अनुबंध हो सकता है। 8 जनवरी के बाद रुका हुआ पैसा मिल सकता है। संपत्ति को लेकर विवाद हो सकता है। कोई खास व्यक्ति ही आपके विरुद्ध षड़यंत्र रच सकता है। महीने के मध्य में आप किसी की मदद करेंगे। 18 जनवरी के बाद समय थोड़ा निराशाजनक रहेगा। हेल्थ खराब हो सकती है। पुरानी मेहनत पर पानी फिर सकता है। शत्रु हावी होने का प्रयास करेंगे। 22 जनवरी के बाद समय पक्ष का बनेगा। सरकारी कामों में सफलता मिलेगी। महीने का अंतिम सप्ताह थोड़ा भागदौड़ वाला रहेगा। स्वयं के लिए भी समय नहीं निकाल पाएंगे। इस समय फिजूलखर्च पर नियंत्रण रखना जरूरी है।

इस महीने चंद्रमा कन्या राशि का दूसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शुक्र-शनि-सूर्य-गुरु मकर राशि का छठे भाव में, बुध कुंभ राशि का सातवें भाव में, मंगल मेष राशि का नौवें भाव में, राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में किसी सामाजिक या धार्मिक कार्यक्रम में जाने का योग बनेगा। इस समय आपको नौकरी और परिवार के बीच सामंजस्य बनाकर चलना पड़ेगा, नहीं तो विवाद की स्थिति बन सकती है। आपके पराक्रम में वृद्धि होगी। रुका हुआ पैसा इस समय मिल सकता है। 11 फरवरी के बाद काम में मेहनत अधिक करनी पड़ेगी। घर के लिए नई चीजें खरीद सकते हैं। काम पूरा न होने के कारण बॉस आपसे नाराज हो सकते हैं। प्रेम प्रसंगों के कारण परिवार में विवाद हो सकता है। 16 फरवरी के बाद समय थोड़ा विपरीत रहेगा। ससुराल पक्ष से कोई बुरी खबर आपको मिल सकती है। कुछ मामलों में आप समझौता नहीं करेंगे। 24 से 28 फरवरी के बीच में स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव की स्थिति बनेगी। बनता हुआ काम अंत में जाकर रूक जाएगा। नया वाहन खरीदने के योग इस समय बन रहे हैं।

इस महीने चंद्रमा कन्या राशि का दूसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शुक्र-शनि-सूर्य-गुरु मकर राशि का छठे भाव में, बुध कुंभ राशि का सातवें भाव में, मंगल मेष राशि का नौवें भाव में, राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में किसी सामाजिक या धार्मिक कार्यक्रम में जाने का योग बनेगा। इस समय आपको नौकरी और परिवार के बीच सामंजस्य बनाकर चलना पड़ेगा, नहीं तो विवाद की स्थिति बन सकती है। आपके पराक्रम में वृद्धि होगी। रुका हुआ पैसा इस समय मिल सकता है। 11 फरवरी के बाद काम में मेहनत अधिक करनी पड़ेगी। घर के लिए नई चीजें खरीद सकते हैं। काम पूरा न होने के कारण बॉस आपसे नाराज हो सकते हैं। प्रेम प्रसंगों के कारण परिवार में विवाद हो सकता है। 16 फरवरी के बाद समय थोड़ा विपरीत रहेगा। ससुराल पक्ष से कोई बुरी खबर आपको मिल सकती है। कुछ मामलों में आप समझौता नहीं करेंगे। 24 से 28 फरवरी के बीच में स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव की स्थिति बनेगी। बनता हुआ काम अंत में जाकर रूक जाएगा। नया वाहन खरीदने के योग इस समय बन रहे हैं।

इस महीने में चंद्रमा कन्या राशि का दूसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, गुरु-बुध-शनि मकर राशि का छठे भाव में सूर्य-शुक्र कुंभ राशि का सातवें भाव में, राहु-मंगल वृषभ राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में कोई नई जिम्मेदारी आपको मिल सकती है। ऑफिस में कई परिवर्तन होंगे। अधिकारी किसी बात पर आपसे नाराज हो सकते हैं। 7 मार्च के बाद सहयोगियों की मदद से रुके हुए काम फिर गति पकड़ेंगे। 11 मार्च के बाद पति-पत्नी में किसी बात पर विवाद हो सकता है। बिजनेस में कोई बड़ा अवसर हाथ लग सकता है। परिवार के किसी सदस्य के कारण चिंता का माहौल बन सकता है। वाहन से क्षति होने के योग भी बन रहे हैं। 16 से 18 के बीच सामाजिक कार्यक्रमों में आने-जाने का मौका मिलेगा। कानूनी मामलों में किसी से राय लेना पड़ेगी। दसवां चंद्रमा आपको इतना व्यस्त कर देगा कि आप परिवार के लिए भी समय नहीं निकाल पाएंगे। महीने के अंतिम सप्ताह में शत्रु पक्ष आप पर हावी हो सकता है। इस समय अनैतिक कामों से दूर रहें तो अच्छा रहेगा। 28 से 31 के बीच दिन मिला-जुला रहेगा।

इस महीने में चंद्रमा कन्या राशि का दूसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, गुरु-बुध-शनि मकर राशि का छठे भाव में सूर्य-शुक्र कुंभ राशि का सातवें भाव में, राहु-मंगल वृषभ राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में कोई नई जिम्मेदारी आपको मिल सकती है। ऑफिस में कई परिवर्तन होंगे। अधिकारी किसी बात पर आपसे नाराज हो सकते हैं। 7 मार्च के बाद सहयोगियों की मदद से रुके हुए काम फिर गति पकड़ेंगे। 11 मार्च के बाद पति-पत्नी में किसी बात पर विवाद हो सकता है। बिजनेस में कोई बड़ा अवसर हाथ लग सकता है। परिवार के किसी सदस्य के कारण चिंता का माहौल बन सकता है। वाहन से क्षति होने के योग भी बन रहे हैं। 16 से 18 के बीच सामाजिक कार्यक्रमों में आने-जाने का मौका मिलेगा। कानूनी मामलों में किसी से राय लेना पड़ेगी। दसवां चंद्रमा आपको इतना व्यस्त कर देगा कि आप परिवार के लिए भी समय नहीं निकाल पाएंगे। महीने के अंतिम सप्ताह में शत्रु पक्ष आप पर हावी हो सकता है। इस समय अनैतिक कामों से दूर रहें तो अच्छा रहेगा। 28 से 31 के बीच दिन मिला-जुला रहेगा।

इस महीने में चंद्रमा-केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शनि-गुरु मकर राशि का छठे भाव में, शुक्र-सूर्य-बुध मीन राशि का आठवें भाव में, राहु-मंगल वृषभ राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ आपके लिए ठीक नहीं रहेगा। कोई आपके साथ विश्वासघात कर सकता है। पैसों से जुड़े मामलों में किसी पर विश्वास न करें। किसी भी दस्तावेज पर बिना पढ़े साइन न करें। संतान की हरकतें आपके मान-सम्मान में कमी ला सकती हैं। 5 अप्रैल के बाद परेशानियां कुछ कम होंगी। महीने के दूसरे सप्ताह में आप किसी गलतफहमी का शिकार हो सकते हैं। हेल्थ से जुड़ी परेशानियां कुछ कम हो सकती हैं। भविष्य की योजनाओं पर काम करने का मौका मिलेगा। उच्चाधिकारियों के सहयोग से रुका हुआ काम फिर से बन सकता है। 18 अप्रैल के बाद धन लाभ के योग बन रहे हैं। साफ बोलने की आदत लोगों को आपके खिलाफ कर सकती है। आपकी कार्यक्षमता में कमी आ सकती है। महीने के अंतिम सप्ताह में बिजनेस से संबंधित परेशानियां का हल निकाल लेंगे। पारिवारिक सुख मिलेगा। किसी वैवाहिक कार्यक्रम में जाने का मौका मिलेगा।

इस महीने में चंद्रमा-केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शनि-गुरु मकर राशि का छठे भाव में, शुक्र-सूर्य-बुध मीन राशि का आठवें भाव में, राहु-मंगल वृषभ राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ आपके लिए ठीक नहीं रहेगा। कोई आपके साथ विश्वासघात कर सकता है। पैसों से जुड़े मामलों में किसी पर विश्वास न करें। किसी भी दस्तावेज पर बिना पढ़े साइन न करें। संतान की हरकतें आपके मान-सम्मान में कमी ला सकती हैं। 5 अप्रैल के बाद परेशानियां कुछ कम होंगी। महीने के दूसरे सप्ताह में आप किसी गलतफहमी का शिकार हो सकते हैं। हेल्थ से जुड़ी परेशानियां कुछ कम हो सकती हैं। भविष्य की योजनाओं पर काम करने का मौका मिलेगा। उच्चाधिकारियों के सहयोग से रुका हुआ काम फिर से बन सकता है। 18 अप्रैल के बाद धन लाभ के योग बन रहे हैं। साफ बोलने की आदत लोगों को आपके खिलाफ कर सकती है। आपकी कार्यक्षमता में कमी आ सकती है। महीने के अंतिम सप्ताह में बिजनेस से संबंधित परेशानियां का हल निकाल लेंगे। पारिवारिक सुख मिलेगा। किसी वैवाहिक कार्यक्रम में जाने का मौका मिलेगा।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, चंद्रमा धनु राशि का पांचवें भाव में, शनि मकर राशि का छठे भाव में, गुरु कुंभ राशि का सातवें भाव में, सूर्य-शुक्र मेष राशि का नौवें भाव में, बुध-राहु वृष राशि का दसवें भाव में, मंगल मिथुन राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ में विद्यार्थी वर्ग को बड़ी सफलता मिल सकती है। संपत्ति से जुड़ा कोई फैसला आपके पक्ष में हो सकता है। माता-पिता का स्नेह प्राप्त होगा और परिवार के साथ कहीं घूमने जा सकते हैं। 7 मई के बाद कोई बुरी खबर सुनने को मिल सकती है। आता हुआ पैसा रुक जाएगा। इस समय आप बुरे लोगों की संगति से दूर रहें तो अच्छा रहेगा। कोई मंहगी वस्तु चोरी या गुम हो सकती है। 13-14 को भौतिक सुख-संपत्ति की प्राप्ति होगी। आय के स्त्रोतों में भी वृद्धि होने के योग इस समय बन बन रहे हैं। 17 मई के बाद कोई विचित्र घटना आपके साथ हो सकती है। कुंडली के दसवें भाव में चतुष्ग्रह युति होने के कारण पैसों से जुड़ी परेशानियां बनी रहेंगी। महीने के अंतिम सप्ताह में हंसी-खुशी का माहौल परिवार में रहेगा। योग, व्यायाम आदि पर आपका झुकाव बढ़ सकता है।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, चंद्रमा धनु राशि का पांचवें भाव में, शनि मकर राशि का छठे भाव में, गुरु कुंभ राशि का सातवें भाव में, सूर्य-शुक्र मेष राशि का नौवें भाव में, बुध-राहु वृष राशि का दसवें भाव में, मंगल मिथुन राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ में विद्यार्थी वर्ग को बड़ी सफलता मिल सकती है। संपत्ति से जुड़ा कोई फैसला आपके पक्ष में हो सकता है। माता-पिता का स्नेह प्राप्त होगा और परिवार के साथ कहीं घूमने जा सकते हैं। 7 मई के बाद कोई बुरी खबर सुनने को मिल सकती है। आता हुआ पैसा रुक जाएगा। इस समय आप बुरे लोगों की संगति से दूर रहें तो अच्छा रहेगा। कोई मंहगी वस्तु चोरी या गुम हो सकती है। 13-14 को भौतिक सुख-संपत्ति की प्राप्ति होगी। आय के स्त्रोतों में भी वृद्धि होने के योग इस समय बन बन रहे हैं। 17 मई के बाद कोई विचित्र घटना आपके साथ हो सकती है। कुंडली के दसवें भाव में चतुष्ग्रह युति होने के कारण पैसों से जुड़ी परेशानियां बनी रहेंगी। महीने के अंतिम सप्ताह में हंसी-खुशी का माहौल परिवार में रहेगा। योग, व्यायाम आदि पर आपका झुकाव बढ़ सकता है।

इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का छठे भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का सातवें भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में, मंगल-बुध-शुक्र मिथुन राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में ग्रीष्म ऋतु से संबंधित रोग जैसे लू आदि के कारण परेशानी रहेंगे। खर्च बढ़ सकता है। कोई नया काम हाथ में आ सकता है, लेकिन सफलता में संदेह रहेगा। 6 जून के बाद कोई महत्वपूर्ण जिम्मेदारी आपको मिल सकती है। शत्रु परास्त होंगे। अधिकारी वर्ग आपसे खुश रहेगा। 11 जून के बाद आर्थिक पक्ष थोड़ा मजबूत होगा। पत्नी व बच्चों के साथ खरीदी करने जा सकते हैं। आपके काम का फायदा किसी और को मिल सकता है। किसी काम को लेकर आपकी आलोचना हो सकती है। महीने के दूसरे सप्ताह में आपके सोचे हुए सभी काम समय पर हो जाएंगे। पुरानी चिंताओं का अंत होगा। काम में रुचि बढ़ेगी। आपका मूड इस समय अच्छा रहेगा। 24 से 30 जून के बीच में मेहमानों का आना-जाना लगा रहेगा। हास-परिहास में समय बीतेगा। समय आपके पक्ष में बना रहेगा, फिर भी शत्रुओं से सावधान रहें।

इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का छठे भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का सातवें भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में, मंगल-बुध-शुक्र मिथुन राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में ग्रीष्म ऋतु से संबंधित रोग जैसे लू आदि के कारण परेशानी रहेंगे। खर्च बढ़ सकता है। कोई नया काम हाथ में आ सकता है, लेकिन सफलता में संदेह रहेगा। 6 जून के बाद कोई महत्वपूर्ण जिम्मेदारी आपको मिल सकती है। शत्रु परास्त होंगे। अधिकारी वर्ग आपसे खुश रहेगा। 11 जून के बाद आर्थिक पक्ष थोड़ा मजबूत होगा। पत्नी व बच्चों के साथ खरीदी करने जा सकते हैं। आपके काम का फायदा किसी और को मिल सकता है। किसी काम को लेकर आपकी आलोचना हो सकती है। महीने के दूसरे सप्ताह में आपके सोचे हुए सभी काम समय पर हो जाएंगे। पुरानी चिंताओं का अंत होगा। काम में रुचि बढ़ेगी। आपका मूड इस समय अच्छा रहेगा। 24 से 30 जून के बीच में मेहमानों का आना-जाना लगा रहेगा। हास-परिहास में समय बीतेगा। समय आपके पक्ष में बना रहेगा, फिर भी शत्रुओं से सावधान रहें।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का छठे भाव में, गुरु कुंभ राशि का सातवें भाव में, चंद्रमा मीन राशि का आठवें भाव में, राहु-बुध वृषभ राशि का दसवें भाव में, सूर्य-मिथुन राशि का ग्यारहवें भाव में, मंगल-शुक्र कर्क राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में आठवां चंद्रमा हेल्थ से जुड़ी परेशानी खड़ी कर सकता है। किसी प्रियजन से जुड़ी बुरी खबर मिल सकती है, जिससे आपका मन उदास रहेगा। 5 जुलाई के बाद आत्मविश्वास व सकारात्मकता से भरपूर रहेंगे। स्वास्थ्य पहले से बेहतर होगा। लोग आपके प्रयासों की सराहना करेंगे। 13 से 15 जुलाई के मध्य चंद्रमा का आपकी राशि में भ्रमण सफलता के रास्ते खोल देगा। आगे बढ़ने के अवसर मिलेंगे। रुका हुआ पैसा किसी की मदद से मिल सकता है। 20 से 23 जुलाई के बीच में किसी से आपका विवाद हो सकता है। अधिकारी वर्ग भी आपसे नाराज रहेगा। इस समय आपको थोड़ा सावधान रहने की जरूरत है। महीने के अंतिम सप्ताह में आप अपनी गलतियों को न सिर्फ पहचानेंगे बल्कि उन्हें ठीक भी करेंगे। दूर-दराज के क्षेत्रों में भ्रमण पर जाने का मौका मिलेगा।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का छठे भाव में, गुरु कुंभ राशि का सातवें भाव में, चंद्रमा मीन राशि का आठवें भाव में, राहु-बुध वृषभ राशि का दसवें भाव में, सूर्य-मिथुन राशि का ग्यारहवें भाव में, मंगल-शुक्र कर्क राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में आठवां चंद्रमा हेल्थ से जुड़ी परेशानी खड़ी कर सकता है। किसी प्रियजन से जुड़ी बुरी खबर मिल सकती है, जिससे आपका मन उदास रहेगा। 5 जुलाई के बाद आत्मविश्वास व सकारात्मकता से भरपूर रहेंगे। स्वास्थ्य पहले से बेहतर होगा। लोग आपके प्रयासों की सराहना करेंगे। 13 से 15 जुलाई के मध्य चंद्रमा का आपकी राशि में भ्रमण सफलता के रास्ते खोल देगा। आगे बढ़ने के अवसर मिलेंगे। रुका हुआ पैसा किसी की मदद से मिल सकता है। 20 से 23 जुलाई के बीच में किसी से आपका विवाद हो सकता है। अधिकारी वर्ग भी आपसे नाराज रहेगा। इस समय आपको थोड़ा सावधान रहने की जरूरत है। महीने के अंतिम सप्ताह में आप अपनी गलतियों को न सिर्फ पहचानेंगे बल्कि उन्हें ठीक भी करेंगे। दूर-दराज के क्षेत्रों में भ्रमण पर जाने का मौका मिलेगा।

इस महीने मंगल-शुक्र सिंह राशि का लग्न में, केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का छठे भाव में, गुरु कुंभ राशि का सातवें भाव में, चंद्रमा मेष राशि का नौवें भाव में, राहु वृष राशि का दसवें भाव में, सूर्य-बुध कर्क राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में सरकारी कामों में सफलता मिलेगी। जीवन शैली में बदलाव आएगा। नौकरी में बॉस आपके काम से खुश रहेंगे। लॉटरी, जुआ, सट्टा आदि से लाभ के योग बन रहे हैं। मंगल की स्थिति के कारण क्रोध व अति उत्साह आप पर हावी हो सकता है। 8 अगस्त के बाद घर-परिवार में व्यस्त रहेंगे। अपने प्रयासों और परिणाम से आपको संतुष्टि मिलेगी। पढ़ाई व शोध जैसे कामों में समय व्यतीत होगा। आर्थिक स्थिति में पहले से सुधार आएगा। महीने के मध्य में आप बिना कारण किसी से उलझ सकते हैं। इस समय कोर्ट संबंधित मामलों में असफलता का मुंह देखना पड़ेगा। 18 अगस्त के बाद कोई शुभ समाचार मिल सकता है। विद्यार्थियों के लिए ये समय अनुकूल रहेगा। महीने के अंतिम दिनों में प्रेम प्रसंगों में सफलता मिल सकती है। रुपयों की आवक बनी रहेगी। आठवां चंद्रमा होने से स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव बना रहेगा।

इस महीने मंगल-शुक्र सिंह राशि का लग्न में, केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का छठे भाव में, गुरु कुंभ राशि का सातवें भाव में, चंद्रमा मेष राशि का नौवें भाव में, राहु वृष राशि का दसवें भाव में, सूर्य-बुध कर्क राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में सरकारी कामों में सफलता मिलेगी। जीवन शैली में बदलाव आएगा। नौकरी में बॉस आपके काम से खुश रहेंगे। लॉटरी, जुआ, सट्टा आदि से लाभ के योग बन रहे हैं। मंगल की स्थिति के कारण क्रोध व अति उत्साह आप पर हावी हो सकता है। 8 अगस्त के बाद घर-परिवार में व्यस्त रहेंगे। अपने प्रयासों और परिणाम से आपको संतुष्टि मिलेगी। पढ़ाई व शोध जैसे कामों में समय व्यतीत होगा। आर्थिक स्थिति में पहले से सुधार आएगा। महीने के मध्य में आप बिना कारण किसी से उलझ सकते हैं। इस समय कोर्ट संबंधित मामलों में असफलता का मुंह देखना पड़ेगा। 18 अगस्त के बाद कोई शुभ समाचार मिल सकता है। विद्यार्थियों के लिए ये समय अनुकूल रहेगा। महीने के अंतिम दिनों में प्रेम प्रसंगों में सफलता मिल सकती है। रुपयों की आवक बनी रहेगी। आठवां चंद्रमा होने से स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव बना रहेगा।

इस महीने सूर्य-मंगल सिंह राशि का लग्न में, बुध-शुक्र कन्या राशि का दूसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का छठे भाव में, गुरु कुंभ राशि का सातवें भाव में, राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में, चंद्रमा मिथुन राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में आपका आर्थिक पक्ष मजबूत रहेगा। बिजनेस में पूरी लग्न के साथ आगे बढ़ेंगे। किसी को उधार दिया पैसा वापस मिलेगा। 4 व 5 सितंबर को कलह की स्थिति बन सकती है। भावनाओं में बहकर कोई गलत निर्णय ले सकते हैं। 8 से 15 सितंबर के बीच घर के लिए नवीन वस्तुओं की खरीदारी संभव है। आप भविष्य की योजनाओं पर काम करेंगे। 10 व 11 सितंबर को धनदायक समय है। इस दौरान पारिवारिक जिम्मेदारियों का निर्वहन आप बेहतर तरीके से कर पाएंगे। 22 सितंबर के बाद हर काम सोच-विचार कर करें। पिता पुत्र में किसी बात पर विवाद हो सकता है। 23 सितंबर को ग्रहों की स्थिति आपके पक्ष में बनती नजर आएगी। हास परिहास में समय बीतेगा। महीने का अंतिम सप्ताह मिले-जुले फल देने वाला रहेगा। नए मित्र बनेंगे।

इस महीने सूर्य-मंगल सिंह राशि का लग्न में, बुध-शुक्र कन्या राशि का दूसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का छठे भाव में, गुरु कुंभ राशि का सातवें भाव में, राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में, चंद्रमा मिथुन राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में आपका आर्थिक पक्ष मजबूत रहेगा। बिजनेस में पूरी लग्न के साथ आगे बढ़ेंगे। किसी को उधार दिया पैसा वापस मिलेगा। 4 व 5 सितंबर को कलह की स्थिति बन सकती है। भावनाओं में बहकर कोई गलत निर्णय ले सकते हैं। 8 से 15 सितंबर के बीच घर के लिए नवीन वस्तुओं की खरीदारी संभव है। आप भविष्य की योजनाओं पर काम करेंगे। 10 व 11 सितंबर को धनदायक समय है। इस दौरान पारिवारिक जिम्मेदारियों का निर्वहन आप बेहतर तरीके से कर पाएंगे। 22 सितंबर के बाद हर काम सोच-विचार कर करें। पिता पुत्र में किसी बात पर विवाद हो सकता है। 23 सितंबर को ग्रहों की स्थिति आपके पक्ष में बनती नजर आएगी। हास परिहास में समय बीतेगा। महीने का अंतिम सप्ताह मिले-जुले फल देने वाला रहेगा। नए मित्र बनेंगे।

इस महीने सूर्य-मंगल कन्या राशि का दूसरे भाव में, बुध-शुक्र तुला राशि का तीसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का छठे भाव में, राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में, चंद्रमा कर्क राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में आर्थिक रूप से परेशान रहेंगे। बिजनेस में कोई बड़ा आर्डर हाथ से निकल सकता है। अचानक होने वाले खर्चों से आप परेशान हो सकते हैं। किसी से पैसा उधार लेना पड़ सकता है। नौकरी में बॉस किसी बात पर आपसे नाराज हो सकते हैं। 8 अक्टूबर के बाद स्थितियां फिर से आपके पक्ष में बनने लगेगी। वाहन, भूमि खरीदने के योग इस समय बन रहे हैं। विद्यार्थी वर्ग को मेहनत के अनुसार फल प्राप्त होंगे। अधिकारी आपकी मेहनत से खुश हो सकते हैं। 16 से 23 अक्टूबर के बीच पति-पत्नी में सामंजस्य बना रहेगा। ये भविष्य के लिए योजना बनाने के लिए उचित समय है। इस समय प्रेम प्रसंगों की बातें सबके सामने ऊजागर हो सकती है। 24 से 31 अक्टूबर के बीच प्रतियोगी परीक्षा में ज्यादा मेहनत की जरूरत होगी। आप अपनी जिम्मेदारी निभाने में सफल रहेंगे। बिजनेस में कोई ठोस निर्णय इस समय ले सकते हैं।

इस महीने सूर्य-मंगल कन्या राशि का दूसरे भाव में, बुध-शुक्र तुला राशि का तीसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का छठे भाव में, राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में, चंद्रमा कर्क राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में आर्थिक रूप से परेशान रहेंगे। बिजनेस में कोई बड़ा आर्डर हाथ से निकल सकता है। अचानक होने वाले खर्चों से आप परेशान हो सकते हैं। किसी से पैसा उधार लेना पड़ सकता है। नौकरी में बॉस किसी बात पर आपसे नाराज हो सकते हैं। 8 अक्टूबर के बाद स्थितियां फिर से आपके पक्ष में बनने लगेगी। वाहन, भूमि खरीदने के योग इस समय बन रहे हैं। विद्यार्थी वर्ग को मेहनत के अनुसार फल प्राप्त होंगे। अधिकारी आपकी मेहनत से खुश हो सकते हैं। 16 से 23 अक्टूबर के बीच पति-पत्नी में सामंजस्य बना रहेगा। ये भविष्य के लिए योजना बनाने के लिए उचित समय है। इस समय प्रेम प्रसंगों की बातें सबके सामने ऊजागर हो सकती है। 24 से 31 अक्टूबर के बीच प्रतियोगी परीक्षा में ज्यादा मेहनत की जरूरत होगी। आप अपनी जिम्मेदारी निभाने में सफल रहेंगे। बिजनेस में कोई ठोस निर्णय इस समय ले सकते हैं।

इस महीने में चंद्रमा सिंह राशि का लग्न में, बुध कन्या राशि का दूसरे भाव में, सूर्य-मंगल तुला राशि का तीसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शुक्र धनु राशि का पांचवें भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का छठे भाव में, राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में दूसरा चंद्रमा अध्यात्म की ओर झुकाव बढ़ा सकता है। कोई महत्वपूर्ण उत्तरदायित्व आपको मिल सकता है। आप किसी धार्मिक या सामाजिक काम में व्यस्त रहेंगे। इस समय आपको अपनी हेल्थ का खास ध्यान रखना होगा। 9 नवंबर के बाद आप किसी धोखाधड़ी का शिकार हो सकते हैं। नई नौकरी के प्रस्ताव पर विचार कर सकते हैं। 14-15 नवंबर को धन हानि के योग बन रहे हैं। निवेश से जुड़े फैसले सोच-समझ कर करें। महीने के मध्य में दुर्घटना के योग बन रहे हैं, इसलिए वाहन चलाते समय संयम बरतें। किसी नए व्यक्ति से मुलाकात आपके लिए किस्मत के दरवाजे खोल सकती है। 24 से 26 के बीच का समय घोर निराशाजनक रहेगा। हाथ आता-आता पैसा रुक जाएगा। वरिष्ठ लोग आपके काम की प्रशंसा करेंगे। शादी-विवाह जैसे मांगलिक कार्यक्रम में जाने का मौक मिलेगा।

इस महीने में चंद्रमा सिंह राशि का लग्न में, बुध कन्या राशि का दूसरे भाव में, सूर्य-मंगल तुला राशि का तीसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शुक्र धनु राशि का पांचवें भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का छठे भाव में, राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में दूसरा चंद्रमा अध्यात्म की ओर झुकाव बढ़ा सकता है। कोई महत्वपूर्ण उत्तरदायित्व आपको मिल सकता है। आप किसी धार्मिक या सामाजिक काम में व्यस्त रहेंगे। इस समय आपको अपनी हेल्थ का खास ध्यान रखना होगा। 9 नवंबर के बाद आप किसी धोखाधड़ी का शिकार हो सकते हैं। नई नौकरी के प्रस्ताव पर विचार कर सकते हैं। 14-15 नवंबर को धन हानि के योग बन रहे हैं। निवेश से जुड़े फैसले सोच-समझ कर करें। महीने के मध्य में दुर्घटना के योग बन रहे हैं, इसलिए वाहन चलाते समय संयम बरतें। किसी नए व्यक्ति से मुलाकात आपके लिए किस्मत के दरवाजे खोल सकती है। 24 से 26 के बीच का समय घोर निराशाजनक रहेगा। हाथ आता-आता पैसा रुक जाएगा। वरिष्ठ लोग आपके काम की प्रशंसा करेंगे। शादी-विवाह जैसे मांगलिक कार्यक्रम में जाने का मौक मिलेगा।

इस महीने चंद्रमा कन्या राशि का दूसरे भाव में, मंगल तुला राशि का तीसरे भाव में, सूर्य-केतु-बुध वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शुक्र धनु राशि का पांचवें भाव में, शनि मकर राशि का छठे भाव में, गुरु कुंभ राशि का सातवें भाव में, राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में तनाव कम रहेगा। गुरु के सातवें भाव में होने से आप अपनी क्षमता व बुद्धिमानी का उपयोग कर भविष्य की योजना बनाएंगे। कोई शुभ समाचार प्राप्त होगा। दांपत्य जीवन में मधुरता आएगी। 5-6 दिसंबर की किसी की बातों में आकर आप अपना पैसा कहीं गलत जगह इन्वेस्ट कर सकते हैं। 9 दिसंबर के बाद आप पर काम का जबरदस्त बोझ आ सकता है। अविवाहितों के लिए विवाह प्रस्ताव आ सकते हैं। महीने के मध्य में आपका रुझान धर्म-कर्म की ओर हो सकता है। 19 से 21 के बीच में लाभ स्थान पर चंद्रमा होने से धन लाभ के योग बनेंगे। संतान पक्ष की ओर से भी चिंतामुक्त रहेंगे। वरिष्ठ लोगों को मार्गदर्शन मिलेगा। 24 से 31 के बीच का समय आपके लिए सुख-शांति वाला रहेगा। आप आत्मविश्वास से भरपूर रहेंगे। आप दिल की बजाए दिमाग से काम लेंगे।

इस महीने चंद्रमा कन्या राशि का दूसरे भाव में, मंगल तुला राशि का तीसरे भाव में, सूर्य-केतु-बुध वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शुक्र धनु राशि का पांचवें भाव में, शनि मकर राशि का छठे भाव में, गुरु कुंभ राशि का सातवें भाव में, राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में तनाव कम रहेगा। गुरु के सातवें भाव में होने से आप अपनी क्षमता व बुद्धिमानी का उपयोग कर भविष्य की योजना बनाएंगे। कोई शुभ समाचार प्राप्त होगा। दांपत्य जीवन में मधुरता आएगी। 5-6 दिसंबर की किसी की बातों में आकर आप अपना पैसा कहीं गलत जगह इन्वेस्ट कर सकते हैं। 9 दिसंबर के बाद आप पर काम का जबरदस्त बोझ आ सकता है। अविवाहितों के लिए विवाह प्रस्ताव आ सकते हैं। महीने के मध्य में आपका रुझान धर्म-कर्म की ओर हो सकता है। 19 से 21 के बीच में लाभ स्थान पर चंद्रमा होने से धन लाभ के योग बनेंगे। संतान पक्ष की ओर से भी चिंतामुक्त रहेंगे। वरिष्ठ लोगों को मार्गदर्शन मिलेगा। 24 से 31 के बीच का समय आपके लिए सुख-शांति वाला रहेगा। आप आत्मविश्वास से भरपूर रहेंगे। आप दिल की बजाए दिमाग से काम लेंगे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios