Asianet News Hindi

तुला राशिफल 2021: मुश्किलों से भरा रहेगा 12 महीना, जानिए जनवरी से दिसंबर तक का संपूर्ण राशिफल

First Published Dec 1, 2020, 5:16 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. तुला राशि वालों के लिए साल 2021 ठीक नहीं रहेगा। इस साल हर मोर्चे पर उन्हें मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। शनि की ढैया का प्रभाव तुला राशि पर पूरे साल रहेगा। इस साल आपको धैर्य और संयम का परिचय देना होगा, क्योंकि समय गति आप के पक्ष में नहीं है। पुरानी बीमारी से इस साल कष्ट के योग बने हुए हैं। बिजनेस में मनचाही सफलता नहीं मिल पाएगी। व्यापार के विस्तार की योजना तो बनेगी, लेकिन पूरी नहीं हो पाएगी। प्रतिस्पर्धी आपसे आगे निकल सकते हैं। तुला राशि के विद्यार्थियों को इस साल सफलता पाने के लिए अधिक मेहनत करनी होगी। करियर और नौकरी में कदम कदम पर सावधानी रखने की जरूरत है। कामकाज में लापरवाही नुकसानदायक साबित हो सकती है। यात्राओं में कष्ट का अनुभव होगा और फायदा भी नहीं मिल पाएगा। आर्थिक मामलों में किसी पर भी आंख मूंदकर भरोसा ना करें। कोई अपना ही आपके साथ विश्वासघात कर सकता है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पंडित प्रवीण द्विवेदी से जानिए तुला राशिवालों के लिए जनवरी 2021 से लेकर दिसंबर 2021 तक का समय कैसा रहने वाला है...

इस महीने केतु- शुक्र वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, सूर्य-बुध धनु राशि का तीसरे भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का चौथे भाव में, मंगल मेष राशि का सातवें भाव में, राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कर्क राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में आप प्रसन्न रहेंगे। आपका व्यवहार सभी के प्रति सौम्य रहेगा। इंक्रीमेंट के माध्यम से अतिरिक्त आय हो सकती है। प्रेम संबंधों में असफलता हाथ लग सकती है। 8 से 15 जनवरी के बीच इंटरव्यू में सफलता मिलने के योग बन रहे हैं। परिवार में सुख-शांति का माहौल रहेगा। इस समय आपको अपनी जरूरतों को सीमित रखना होगा। परिवार के लोग आपकी उन्नति से खुश होंगे। महीने के मध्य समय में संतान पक्ष की ओर से कोई चिंताजनक समाचार मिल सकता है। 16-17 जनवरी को घर में मेहमानों का आवागमन होगा। इस समय नौकरी में चली आ रही परेशानियां दूर हो सकती हैं। आपने आत्मविश्वास बढ़ा हुआ रहेगा। 24-31 जनवरी के बीच हेल्थ को लेकर परेशानी बढ़ सकती है। किसी से विवाद होने के योग भी इस समय बन रहे हैं। घर में भी वातावरण अशांत रहेगा। इस समय आपको सूझबूझ से स्थिति को संभालना होगा।

इस महीने केतु- शुक्र वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, सूर्य-बुध धनु राशि का तीसरे भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का चौथे भाव में, मंगल मेष राशि का सातवें भाव में, राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कर्क राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में आप प्रसन्न रहेंगे। आपका व्यवहार सभी के प्रति सौम्य रहेगा। इंक्रीमेंट के माध्यम से अतिरिक्त आय हो सकती है। प्रेम संबंधों में असफलता हाथ लग सकती है। 8 से 15 जनवरी के बीच इंटरव्यू में सफलता मिलने के योग बन रहे हैं। परिवार में सुख-शांति का माहौल रहेगा। इस समय आपको अपनी जरूरतों को सीमित रखना होगा। परिवार के लोग आपकी उन्नति से खुश होंगे। महीने के मध्य समय में संतान पक्ष की ओर से कोई चिंताजनक समाचार मिल सकता है। 16-17 जनवरी को घर में मेहमानों का आवागमन होगा। इस समय नौकरी में चली आ रही परेशानियां दूर हो सकती हैं। आपने आत्मविश्वास बढ़ा हुआ रहेगा। 24-31 जनवरी के बीच हेल्थ को लेकर परेशानी बढ़ सकती है। किसी से विवाद होने के योग भी इस समय बन रहे हैं। घर में भी वातावरण अशांत रहेगा। इस समय आपको सूझबूझ से स्थिति को संभालना होगा।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शुक्र-सूर्य-शनि-गुरु मकर राशि का चौथे भाव में, बुध कुंभ राशि का पांचवें भाव में, मंगल मेष राशि का सातवें भाव में, राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कन्या राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के प्रथम सप्ताह में दुर्घटना के योग बन रहे हैं। पुराना रोग भी इस समय परेशान कर सकता है। आप पर जिम्मेदारियों का बोझ और बढ़ सकता है, इस वजह से आप परिवार को समय नहीं दे पाएंगे। 6-7 फरवरी को किसी सामाजिक कार्यक्रम में जा सकते हैं। ससुराल पक्ष से फायदा मिल सकता है। 12 फरवरी के बाद समय अनुकूल आएगा। बिजनेस को लेकर कोई नई योजना बन सकती है। विद्यार्थी वर्ग के लिए भी यह समय अनुकूल है। 17-19 फरवरी के बीच चंद्रमा और मंगल की युति के प्रभाव से धन लाभ होगा। आप अपने शौक पूरे कर सकेंगे। खेलकूद में रुचि बढ़ेगी। महीने का अंतिम सप्ताह अनुकूल रहेगा। इस समय नौकरी में प्रमोशन के योग बन रहे हैं। सभी बाधाओं को पार करते हुए आप आगे बढ़ेंगे। दिलचस्प लोगों से मुलाकात हो सकती है।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शुक्र-सूर्य-शनि-गुरु मकर राशि का चौथे भाव में, बुध कुंभ राशि का पांचवें भाव में, मंगल मेष राशि का सातवें भाव में, राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कन्या राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के प्रथम सप्ताह में दुर्घटना के योग बन रहे हैं। पुराना रोग भी इस समय परेशान कर सकता है। आप पर जिम्मेदारियों का बोझ और बढ़ सकता है, इस वजह से आप परिवार को समय नहीं दे पाएंगे। 6-7 फरवरी को किसी सामाजिक कार्यक्रम में जा सकते हैं। ससुराल पक्ष से फायदा मिल सकता है। 12 फरवरी के बाद समय अनुकूल आएगा। बिजनेस को लेकर कोई नई योजना बन सकती है। विद्यार्थी वर्ग के लिए भी यह समय अनुकूल है। 17-19 फरवरी के बीच चंद्रमा और मंगल की युति के प्रभाव से धन लाभ होगा। आप अपने शौक पूरे कर सकेंगे। खेलकूद में रुचि बढ़ेगी। महीने का अंतिम सप्ताह अनुकूल रहेगा। इस समय नौकरी में प्रमोशन के योग बन रहे हैं। सभी बाधाओं को पार करते हुए आप आगे बढ़ेंगे। दिलचस्प लोगों से मुलाकात हो सकती है।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, गुरु-शनि-बुध मकर राशि का चौथे भाव में, सूर्य-शुक्र कुंभ राशि का पांचवें भाव में, मंगल-राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कन्या राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में खर्च अधिक होने से आप परेशान हो सकते हैं। कामकाज में लक्ष्य प्राप्त ना होने के कारण तनाव रहेगा, इसकी वजह से पारिवारिक सुख शांति पल भी प्रतिकूल असर पड़ेगा। 4 मार्च के बाद कोई फायदेमंद यात्रा हो सकती है। इस दौरान पैसों की आवक बनी रहेगी। 8 से 15 मार्च के बीच सभी कामों में सफलता प्राप्त होगी। परिवार में भी आपकी सलाह सभी लोग मानेंगे। कोर्ट संबंधी मामलों में नतीजा आ सकता है। महीने के मध्य समय में किस्मत आपका साथ देगी। 19 मार्च के बाद थोड़ी सावधानी रखनी पड़ेगी। समाज से कुछ लोग आपके खिलाफ षड्यंत्र रच सकते हैं। स्वास्थ्य पर भी प्रतिकूल असर होगा। पैसों से जुड़े मामलों में खुद को असुरक्षित महसूस करेंगे। महीने के अंतिम सप्ताह में मान-सम्मान की प्राप्ति होगी। 26 और 27 मार्च अत्यंत शुभ दिन रहेंगे। वैवाहिक जीवन में मधुरता आएगी। आपने संतुष्टि का भाव रहेगा।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, गुरु-शनि-बुध मकर राशि का चौथे भाव में, सूर्य-शुक्र कुंभ राशि का पांचवें भाव में, मंगल-राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कन्या राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में खर्च अधिक होने से आप परेशान हो सकते हैं। कामकाज में लक्ष्य प्राप्त ना होने के कारण तनाव रहेगा, इसकी वजह से पारिवारिक सुख शांति पल भी प्रतिकूल असर पड़ेगा। 4 मार्च के बाद कोई फायदेमंद यात्रा हो सकती है। इस दौरान पैसों की आवक बनी रहेगी। 8 से 15 मार्च के बीच सभी कामों में सफलता प्राप्त होगी। परिवार में भी आपकी सलाह सभी लोग मानेंगे। कोर्ट संबंधी मामलों में नतीजा आ सकता है। महीने के मध्य समय में किस्मत आपका साथ देगी। 19 मार्च के बाद थोड़ी सावधानी रखनी पड़ेगी। समाज से कुछ लोग आपके खिलाफ षड्यंत्र रच सकते हैं। स्वास्थ्य पर भी प्रतिकूल असर होगा। पैसों से जुड़े मामलों में खुद को असुरक्षित महसूस करेंगे। महीने के अंतिम सप्ताह में मान-सम्मान की प्राप्ति होगी। 26 और 27 मार्च अत्यंत शुभ दिन रहेंगे। वैवाहिक जीवन में मधुरता आएगी। आपने संतुष्टि का भाव रहेगा।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, गुरु-शनि-बुध मकर राशि का चौथे भाव में, सूर्य-शुक्र कुंभ राशि का पांचवें भाव में, मंगल-राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कन्या राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में खर्च अधिक होने से आप परेशान हो सकते हैं। कामकाज में लक्ष्य प्राप्त ना होने के कारण तनाव रहेगा, इसकी वजह से पारिवारिक सुख शांति पल भी प्रतिकूल असर पड़ेगा। 4 मार्च के बाद कोई फायदेमंद यात्रा हो सकती है। इस दौरान पैसों की आवक बनी रहेगी। 8 से 15 मार्च के बीच सभी कामों में सफलता प्राप्त होगी। परिवार में भी आपकी सलाह सभी लोग मानेंगे। कोर्ट संबंधी मामलों में नतीजा आ सकता है। महीने के मध्य समय में किस्मत आपका साथ देगी। 19 मार्च के बाद थोड़ी सावधानी रखनी पड़ेगी। समाज से कुछ लोग आपके खिलाफ षड्यंत्र रच सकते हैं। स्वास्थ्य पर भी प्रतिकूल असर होगा। पैसों से जुड़े मामलों में खुद को असुरक्षित महसूस करेंगे। महीने के अंतिम सप्ताह में मान-सम्मान की प्राप्ति होगी। 26 और 27 मार्च अत्यंत शुभ दिन रहेंगे। वैवाहिक जीवन में मधुरता आएगी। आपने संतुष्टि का भाव रहेगा।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, गुरु-शनि-बुध मकर राशि का चौथे भाव में, सूर्य-शुक्र कुंभ राशि का पांचवें भाव में, मंगल-राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कन्या राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में खर्च अधिक होने से आप परेशान हो सकते हैं। कामकाज में लक्ष्य प्राप्त ना होने के कारण तनाव रहेगा, इसकी वजह से पारिवारिक सुख शांति पल भी प्रतिकूल असर पड़ेगा। 4 मार्च के बाद कोई फायदेमंद यात्रा हो सकती है। इस दौरान पैसों की आवक बनी रहेगी। 8 से 15 मार्च के बीच सभी कामों में सफलता प्राप्त होगी। परिवार में भी आपकी सलाह सभी लोग मानेंगे। कोर्ट संबंधी मामलों में नतीजा आ सकता है। महीने के मध्य समय में किस्मत आपका साथ देगी। 19 मार्च के बाद थोड़ी सावधानी रखनी पड़ेगी। समाज से कुछ लोग आपके खिलाफ षड्यंत्र रच सकते हैं। स्वास्थ्य पर भी प्रतिकूल असर होगा। पैसों से जुड़े मामलों में खुद को असुरक्षित महसूस करेंगे। महीने के अंतिम सप्ताह में मान-सम्मान की प्राप्ति होगी। 26 और 27 मार्च अत्यंत शुभ दिन रहेंगे। वैवाहिक जीवन में मधुरता आएगी। आपने संतुष्टि का भाव रहेगा।

इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, चंद्रमा धनु राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, बुध कुंभ राशि का पांचवें भाव में, सूर्य शुक्र मेष राशि का सातवें भाव में, बुध-राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, मंगल मिथुन राशि का नौवें भाव में रहेगा। महीने के प्रथम सप्ताह में आपको अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना होगा, क्रोध के कारण बने हुए मामले बिगड़ सकते हैं। आप के सम्मान में कमी आएगी। कोई प्रिय वस्तु चोरी या गुम हो सकती है। 9 मई के बाद मनचाही वस्तु की प्राप्ति होगी। बिजनेस में भी लाभ होगा। स्वास्थ्य उत्तम रहेगा। सभी काम समय पर हो जाएंगे। घर के लिए नवीन वस्तुओं की खरीदी कर सकते हैं। 14 मई के बाद आठवां चंद्रमा होने के कारण स्थितियां विपरीत हो सकती हैं। कोर्ट केस में असफलता का मुंह देखना पड़ सकता है। 21 मई के बाद आर्थिक स्थिति पहले से मजबूत होगी। उधार दिया पैसा वापस मिलेगा। कुछ गलत निर्णय इस समय आप ले सकते हैं। भविष्य में इसके दुष्परिणाम सामने आएंगे। 24 से 31 मई के बीच वैवाहिक कार्यक्रम में जाने का मौका मिलेगा। रोजमर्रा के काम में व्यस्त रहेंगे।

इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, चंद्रमा धनु राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, बुध कुंभ राशि का पांचवें भाव में, सूर्य शुक्र मेष राशि का सातवें भाव में, बुध-राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, मंगल मिथुन राशि का नौवें भाव में रहेगा। महीने के प्रथम सप्ताह में आपको अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना होगा, क्रोध के कारण बने हुए मामले बिगड़ सकते हैं। आप के सम्मान में कमी आएगी। कोई प्रिय वस्तु चोरी या गुम हो सकती है। 9 मई के बाद मनचाही वस्तु की प्राप्ति होगी। बिजनेस में भी लाभ होगा। स्वास्थ्य उत्तम रहेगा। सभी काम समय पर हो जाएंगे। घर के लिए नवीन वस्तुओं की खरीदी कर सकते हैं। 14 मई के बाद आठवां चंद्रमा होने के कारण स्थितियां विपरीत हो सकती हैं। कोर्ट केस में असफलता का मुंह देखना पड़ सकता है। 21 मई के बाद आर्थिक स्थिति पहले से मजबूत होगी। उधार दिया पैसा वापस मिलेगा। कुछ गलत निर्णय इस समय आप ले सकते हैं। भविष्य में इसके दुष्परिणाम सामने आएंगे। 24 से 31 मई के बीच वैवाहिक कार्यक्रम में जाने का मौका मिलेगा। रोजमर्रा के काम में व्यस्त रहेंगे।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का पांचवें भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का आठवे भाव में, मंगल-बुध-शुक्र-मिथुन राशि का नौवें भाव में रहेगा। 1 से 7 जून के बीच नौकरी में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। अधिकारी किसी बात पर आपसे नाराज हो सकते हैं। वसीयत से जुड़े काम इस समय पूरे हो सकते हैं। सामाजिक पद-प्रतिष्ठा में इजाफा होगा। धन प्राप्ति के लिए समय ठीक है। घर व काम से जुड़ी सभी जिम्मेदारियां समय पर पूरी कर पाएंगे। महीने के दूसरे सप्ताह में अपनी मनचाही जगह पर घूमने जा सकते हैं। जीवन साथी के साथ क्वालिटी टाइम बिताने का मौका मिलेगा। खानपान को लेकर लापरवाही ना करें। 18 जून के बाद किसी साजिश का शिकार हो सकते हैं। आपके हाथों से कोई ऐसा काम होगा, जिसका आपको पछतावा रहेगा। कोई बड़ा अनुबंध टूट सकता है। आर्थिक मामलों में किसी से विवाद होने के योग बन रहे हैं। 24 जून के बाद का समय आपके लिए अनुकूल है। किसी प्रतियोगिता में सफलता मिल सकती है। घर में कोई नया मेहमान आ सकता है। अपने आत्मविश्वास के सहारे आप सभी कामों में विजय होंगे।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का पांचवें भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का आठवे भाव में, मंगल-बुध-शुक्र-मिथुन राशि का नौवें भाव में रहेगा। 1 से 7 जून के बीच नौकरी में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। अधिकारी किसी बात पर आपसे नाराज हो सकते हैं। वसीयत से जुड़े काम इस समय पूरे हो सकते हैं। सामाजिक पद-प्रतिष्ठा में इजाफा होगा। धन प्राप्ति के लिए समय ठीक है। घर व काम से जुड़ी सभी जिम्मेदारियां समय पर पूरी कर पाएंगे। महीने के दूसरे सप्ताह में अपनी मनचाही जगह पर घूमने जा सकते हैं। जीवन साथी के साथ क्वालिटी टाइम बिताने का मौका मिलेगा। खानपान को लेकर लापरवाही ना करें। 18 जून के बाद किसी साजिश का शिकार हो सकते हैं। आपके हाथों से कोई ऐसा काम होगा, जिसका आपको पछतावा रहेगा। कोई बड़ा अनुबंध टूट सकता है। आर्थिक मामलों में किसी से विवाद होने के योग बन रहे हैं। 24 जून के बाद का समय आपके लिए अनुकूल है। किसी प्रतियोगिता में सफलता मिल सकती है। घर में कोई नया मेहमान आ सकता है। अपने आत्मविश्वास के सहारे आप सभी कामों में विजय होंगे।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, गुरु-कुंभ राशि का पांचवें भाव में, चंद्रमा मीन राशि का छठे भाव में, राहु-बुध वृषभ राशि का आठवे भाव में, सूर्य मिथुन राशि का नौवें भाव में, मंगल-शुक्र कर्क राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ मांगलिक कार्यक्रम से होगा। परिवार में सुखद वातावरण बनेगा। दांपत्य जीवन में भी मधुरता आएगी। 5 से 7 जुलाई के बीच आठवां चंद्रमा विपरीत परिणाम देगा। आपका पैसा कहीं फंस सकता है। कानूनी मामले उलझ सकते हैं। 8 जुलाई के बाद कामकाज को लेकर नई योजना बन सकती है। आप जिस काम में हाथ डालेंगे सफलता प्राप्त करेंगे। पैसों की आवक पहले से बेहतर होगी। 16 जुलाई के बाद स्वास्थ्य को लेकर परेशानी आ सकती है। अटके हुए काम इस समय पूरे हो सकते हैं। 20 और 21 जुलाई को संतोषजनक समय रहेगा। किसी नई जगह जाने का मौका मिलेगा। परिवार के साथ समय बिता पाएंगे। महीने के अंतिम सप्ताह में पैसा तो आएगा, लेकिन टिकेगा नहीं। नए वस्त्र और आभूषण खरीद सकते हैं। युवा वर्ग अति उत्साह में रहेगा।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, गुरु-कुंभ राशि का पांचवें भाव में, चंद्रमा मीन राशि का छठे भाव में, राहु-बुध वृषभ राशि का आठवे भाव में, सूर्य मिथुन राशि का नौवें भाव में, मंगल-शुक्र कर्क राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ मांगलिक कार्यक्रम से होगा। परिवार में सुखद वातावरण बनेगा। दांपत्य जीवन में भी मधुरता आएगी। 5 से 7 जुलाई के बीच आठवां चंद्रमा विपरीत परिणाम देगा। आपका पैसा कहीं फंस सकता है। कानूनी मामले उलझ सकते हैं। 8 जुलाई के बाद कामकाज को लेकर नई योजना बन सकती है। आप जिस काम में हाथ डालेंगे सफलता प्राप्त करेंगे। पैसों की आवक पहले से बेहतर होगी। 16 जुलाई के बाद स्वास्थ्य को लेकर परेशानी आ सकती है। अटके हुए काम इस समय पूरे हो सकते हैं। 20 और 21 जुलाई को संतोषजनक समय रहेगा। किसी नई जगह जाने का मौका मिलेगा। परिवार के साथ समय बिता पाएंगे। महीने के अंतिम सप्ताह में पैसा तो आएगा, लेकिन टिकेगा नहीं। नए वस्त्र और आभूषण खरीद सकते हैं। युवा वर्ग अति उत्साह में रहेगा।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, गुरु कुंभ राशि का पांचवें भाव में, चंद्रमा मेष राशि का सातवें भाव में, राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, सूर्य बुध कर्क राशि का दसवें भाव में, मंगल-शुक्र सिंह राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में स्थिति विपरीत रहेगी। अधीनस्थ कर्मचारी मुश्किलें पैदा कर सकते हैं। स्थिति आपके हाथ से निकल सकती है। शनि के प्रभाव से हेल्थ में गिरावट महसूस करेंगे। 8 से 15 अगस्त के बीच धनेश मंगल के स्थिति अच्छी होने के कारण आर्थिक मामलों में सुधार होगा। कार्य योजना में परिवर्तन का अच्छे परिणाम प्राप्त करेंगे। किसी मूल्यवान वस्तु के खोने या चोरी होने से तनाव बढ़ सकता है। 13 अगस्त के बाद समय आपके पक्ष में होता नजर आएगा। बच्चों की पढ़ाई पर ध्यान दे पाएंगे। नौकरी में प्रमोशन हो सकता है। 21 अगस्त के बाद चौथा चंद्रमा कष्टकारी रहेगा। इस समय बिजनेस में सोच समझकर कदम उठाएं। 24 अगस्त के बाद आमदनी के हिसाब से खर्च अधिक होगा। इस दौरान संतान पक्ष से किसी बात पर विरोध हो सकता है। घनिष्ठ मित्रों से मुलाकात होगी।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, गुरु कुंभ राशि का पांचवें भाव में, चंद्रमा मेष राशि का सातवें भाव में, राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, सूर्य बुध कर्क राशि का दसवें भाव में, मंगल-शुक्र सिंह राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में स्थिति विपरीत रहेगी। अधीनस्थ कर्मचारी मुश्किलें पैदा कर सकते हैं। स्थिति आपके हाथ से निकल सकती है। शनि के प्रभाव से हेल्थ में गिरावट महसूस करेंगे। 8 से 15 अगस्त के बीच धनेश मंगल के स्थिति अच्छी होने के कारण आर्थिक मामलों में सुधार होगा। कार्य योजना में परिवर्तन का अच्छे परिणाम प्राप्त करेंगे। किसी मूल्यवान वस्तु के खोने या चोरी होने से तनाव बढ़ सकता है। 13 अगस्त के बाद समय आपके पक्ष में होता नजर आएगा। बच्चों की पढ़ाई पर ध्यान दे पाएंगे। नौकरी में प्रमोशन हो सकता है। 21 अगस्त के बाद चौथा चंद्रमा कष्टकारी रहेगा। इस समय बिजनेस में सोच समझकर कदम उठाएं। 24 अगस्त के बाद आमदनी के हिसाब से खर्च अधिक होगा। इस दौरान संतान पक्ष से किसी बात पर विरोध हो सकता है। घनिष्ठ मित्रों से मुलाकात होगी।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, गुरु कुंभ राशि का पांचवें भाव में, राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा मिथुन राशि का नौवें भाव में, सूर्य-मंगल सिंह राशि का 11वें भाव में, बुध-शुक्र कन्या राशि का बारहवें भाव में रहेगा। 1 से 7 सितंबर के बीच किसी नए काम की योजना बन सकती है। आप पर काम करने का जुनून सवार होगा। गुरु की पंचम स्थिति के कारण संतान से सुख प्राप्त होने के योग बन रहे हैं। आपकी छवि पहले से बेहतर होगी। महीने के दूसरे सप्ताह में ज्यादा लालच नुकसान का कारण बन सकता है। किसी से विवाद की संभावना बन रही है इसलिए किसी मसले का शांत होकर समाधान निकालें। 14 सितंबर के बाद आप आमदनी बढ़ाने के लिए कठोर परिश्रम करेंगे। इसका फायदा भी आपको मिलेगा। व्यापारिक यात्राएं इस दौरान हो सकती हैं। 16 से 23 सितंबर के बीच कमर के निचले भाग में कोई रोग हो सकता है। सरकारी कामों में बाधा आ सकती है। महीने का अंतिम सप्ताह मिला-जुला फल देने वाला रहेगा। परिवार जनों में प्रेम बढ़ेगा। युवा वर्ग में हताशा का माहौल रहेगा। आपके फैसले सही साबित होंगे।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, गुरु कुंभ राशि का पांचवें भाव में, राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा मिथुन राशि का नौवें भाव में, सूर्य-मंगल सिंह राशि का 11वें भाव में, बुध-शुक्र कन्या राशि का बारहवें भाव में रहेगा। 1 से 7 सितंबर के बीच किसी नए काम की योजना बन सकती है। आप पर काम करने का जुनून सवार होगा। गुरु की पंचम स्थिति के कारण संतान से सुख प्राप्त होने के योग बन रहे हैं। आपकी छवि पहले से बेहतर होगी। महीने के दूसरे सप्ताह में ज्यादा लालच नुकसान का कारण बन सकता है। किसी से विवाद की संभावना बन रही है इसलिए किसी मसले का शांत होकर समाधान निकालें। 14 सितंबर के बाद आप आमदनी बढ़ाने के लिए कठोर परिश्रम करेंगे। इसका फायदा भी आपको मिलेगा। व्यापारिक यात्राएं इस दौरान हो सकती हैं। 16 से 23 सितंबर के बीच कमर के निचले भाग में कोई रोग हो सकता है। सरकारी कामों में बाधा आ सकती है। महीने का अंतिम सप्ताह मिला-जुला फल देने वाला रहेगा। परिवार जनों में प्रेम बढ़ेगा। युवा वर्ग में हताशा का माहौल रहेगा। आपके फैसले सही साबित होंगे।

इस महीने बुध-शुक्र तुला राशि का लग्न में, केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का चौथे भाव में, राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कर्क राशि का दसवें भाव में, सूर्य-मंगल कन्या राशि का बारहवें भाव में रहेगा। 1 से 7 अक्टूबर के बीच भाग्योदय के नए अवसर मिलेंगे। नई योजना की शुरुआत हो सकती है। सरकारी कामों में सफलता मिलेगी। कोर्ट-कचहरी के मामले किसी की मध्यस्थता से सुलझ सकते हैं। काम को टालने की आदत नुकसानदायक साबित हो सकती है। इस समय आपको नए संपर्कों से सावधान रहने की जरूरत है। 12 अक्टूबर के बाद कारोबार से जुड़ी यात्रा हो सकती है। स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। इस समय आप कम मेहनत से अधिक लाभ प्राप्त करेंगे। 20 अक्टूबर के बाद उत्तम संपत्ति दायक समय रहेगा। आपके पराक्रम में वृद्धि होगी। विद्यार्थियों के लिए ये समय कुछ नया सीखने के लिए उपयुक्त है। बिजनेस में विरोधी मुश्किल खड़ी कर सकते हैं। महीने के अंतिम सप्ताह में समय थोड़ा खराब रहेगा। गलत संगति दुख का कारण बन सकती है। आय के स्रोतों में बढ़ोत्तरी हो सकती है। प्रेम संबंधों में सफलता मिलने के योग इस दौरान बन रहे हैं।

इस महीने बुध-शुक्र तुला राशि का लग्न में, केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का चौथे भाव में, राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कर्क राशि का दसवें भाव में, सूर्य-मंगल कन्या राशि का बारहवें भाव में रहेगा। 1 से 7 अक्टूबर के बीच भाग्योदय के नए अवसर मिलेंगे। नई योजना की शुरुआत हो सकती है। सरकारी कामों में सफलता मिलेगी। कोर्ट-कचहरी के मामले किसी की मध्यस्थता से सुलझ सकते हैं। काम को टालने की आदत नुकसानदायक साबित हो सकती है। इस समय आपको नए संपर्कों से सावधान रहने की जरूरत है। 12 अक्टूबर के बाद कारोबार से जुड़ी यात्रा हो सकती है। स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। इस समय आप कम मेहनत से अधिक लाभ प्राप्त करेंगे। 20 अक्टूबर के बाद उत्तम संपत्ति दायक समय रहेगा। आपके पराक्रम में वृद्धि होगी। विद्यार्थियों के लिए ये समय कुछ नया सीखने के लिए उपयुक्त है। बिजनेस में विरोधी मुश्किल खड़ी कर सकते हैं। महीने के अंतिम सप्ताह में समय थोड़ा खराब रहेगा। गलत संगति दुख का कारण बन सकती है। आय के स्रोतों में बढ़ोत्तरी हो सकती है। प्रेम संबंधों में सफलता मिलने के योग इस दौरान बन रहे हैं।

इस महीने मंगल तुला राशि का लग्न में, सूर्य-बुध-केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शुक्र धनु राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, गुरु कुंभ राशि का पांचवें भाव में, राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कन्या राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में समय खराब है। बेकार के कामों में लगे रहेंगे। इस समय स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। कोई विश्वासपात्र व्यक्ति धोखा दे सकता है। 5 नवंबर के बाद मतभेदों को दूर करने का प्रयास करना होगा। घर के रखरखाव पर खर्च हो सकता है। 8 नवंबर के बाद प्रॉपर्टी से जुड़े विवाद सुलझ सकते हैं। अधिकारियों के आदेशों की अनदेखी महंगी पड़ सकती है। 14 नवंबर के बाद कोई शुभ समाचार मिल सकता है। मित्रों की सलाह से फायदा हो सकता है। 16 से 23 नवंबर के बीच काम करने के तरीकों में सुधार आएगा। कोई नया प्रयोग आपको फायदा पहुंचा सकता है। मान- सम्मान में वृद्धि होगी। परिवार में किसी का स्वास्थ्य बिगड़ सकता है। महीने के अंतिम सप्ताह में विरोधी चाहकर भी आपका कुछ बिगाड़ नहीं पाएंगे। इस दौरान बिजनेस में कोई बड़ा निर्णय आप ले सकते हैं।

इस महीने मंगल तुला राशि का लग्न में, सूर्य-बुध-केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शुक्र धनु राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, गुरु कुंभ राशि का पांचवें भाव में, राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कन्या राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में समय खराब है। बेकार के कामों में लगे रहेंगे। इस समय स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। कोई विश्वासपात्र व्यक्ति धोखा दे सकता है। 5 नवंबर के बाद मतभेदों को दूर करने का प्रयास करना होगा। घर के रखरखाव पर खर्च हो सकता है। 8 नवंबर के बाद प्रॉपर्टी से जुड़े विवाद सुलझ सकते हैं। अधिकारियों के आदेशों की अनदेखी महंगी पड़ सकती है। 14 नवंबर के बाद कोई शुभ समाचार मिल सकता है। मित्रों की सलाह से फायदा हो सकता है। 16 से 23 नवंबर के बीच काम करने के तरीकों में सुधार आएगा। कोई नया प्रयोग आपको फायदा पहुंचा सकता है। मान- सम्मान में वृद्धि होगी। परिवार में किसी का स्वास्थ्य बिगड़ सकता है। महीने के अंतिम सप्ताह में विरोधी चाहकर भी आपका कुछ बिगाड़ नहीं पाएंगे। इस दौरान बिजनेस में कोई बड़ा निर्णय आप ले सकते हैं।

इस महीने मंगल तुला राशि का लग्न में, बुध-सूर्य-केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शुक्र धनु राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, गुरु कुंभ राशि का पांचवे भाव में, राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कन्या राशि का बारहवें भाव में रहेगा। 1 से 7 दिसंबर के बीच दूसरा चंद्रमा फायदे के योग बना रहा है। इस दौरान सुखद यात्रा हो सकती है। उपहार भी मिल सकते हैं। खानपान का लुत्फ उठाएंगे। नया निवेश करने के लिए यह समय बेहतर है। 8 और 9 दिसंबर को खर्च अधिक होने के कारण बजट बिगड़ सकता है। किसी से पैसा उधार लेना पड़ सकता है। 14 दिसंबर के बाद किसी सामूहिक कार्यक्रम में जाने का मौका मिलेगा। धार्मिक कामों में रुचि बढ़ेगी। पारिवारिक जिम्मेदारी ठीक से निभा पाएंगे। 18 दिसंबर के बाद किसी कारण मन उदास हो सकता है। आपका लालचीपन नुकसान पहुंचा सकता है, जिससे आपकी छवि लोगों के सामने धूमिल हो सकती है। महीने का अंतिम सप्ताह हास-परिहास और मनोरंजन में व्यतीत होगा। इस समय आप निवेश करने के मूड में रहेंगे। पुराने दिनों को याद कर खुश होंगे। दूसरों की समस्याओं से आप चिंतित हो सकते हैं।

इस महीने मंगल तुला राशि का लग्न में, बुध-सूर्य-केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शुक्र धनु राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, गुरु कुंभ राशि का पांचवे भाव में, राहु वृषभ राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कन्या राशि का बारहवें भाव में रहेगा। 1 से 7 दिसंबर के बीच दूसरा चंद्रमा फायदे के योग बना रहा है। इस दौरान सुखद यात्रा हो सकती है। उपहार भी मिल सकते हैं। खानपान का लुत्फ उठाएंगे। नया निवेश करने के लिए यह समय बेहतर है। 8 और 9 दिसंबर को खर्च अधिक होने के कारण बजट बिगड़ सकता है। किसी से पैसा उधार लेना पड़ सकता है। 14 दिसंबर के बाद किसी सामूहिक कार्यक्रम में जाने का मौका मिलेगा। धार्मिक कामों में रुचि बढ़ेगी। पारिवारिक जिम्मेदारी ठीक से निभा पाएंगे। 18 दिसंबर के बाद किसी कारण मन उदास हो सकता है। आपका लालचीपन नुकसान पहुंचा सकता है, जिससे आपकी छवि लोगों के सामने धूमिल हो सकती है। महीने का अंतिम सप्ताह हास-परिहास और मनोरंजन में व्यतीत होगा। इस समय आप निवेश करने के मूड में रहेंगे। पुराने दिनों को याद कर खुश होंगे। दूसरों की समस्याओं से आप चिंतित हो सकते हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios