Asianet News Hindi

कन्या राशिफल 2021: बुध ग्रह बनाएंगे बिगड़े काम...इस राशि वालों के लिए जानें कैसा होगा 12 महीना

First Published Dec 4, 2020, 4:25 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. कन्या राशि वालों के लिए साल 2021 मिले-जुले फल देने वाला रहेगा। पांचवें भाव में गुरु व शनि की स्थिति बन रही है, वही आठवें स्थान पर मंगल स्वगृही है। इस साल मौसमी बीमारियों का खतरा बना रहेगा। नौकरी में प्रमोशन के योग बन रहे हैं। विद्यार्थियों का मन पढ़ाई में कम ही लगेगा, बार-बार उच्चाटन के योग बनेंगे। बुध ग्रह चौथे स्थान पर होने से इस साल भूमि व भवन खरीदने के योग बन रहे हैं। पति-पत्नी में मनमुटाव की स्थिति बन सकती है। परिवार में किसी बुजुर्ग की तबीयत परेशान कर सकती है। पैसा आएगा, लेकिन रुकेगा नहीं। किसी धार्मिक यात्रा पर जाने का कार्यक्रम बन सकता है। बिजनेस में किसी अपरिचित व्यक्ति पर भरोसा ना करें। कारोबार के विस्तार की रूपरेखा इस साल बन सकती है, जिन लोगों को दिल से संबंधित बीमारियां हैं, उन्हें समय-समय पर चेकअप जरूर करवाना चाहिए। इस साल जमा पूंजी का एक बड़ा हिस्सा खर्च हो सकता है। परिवार में छोटे-मोटे मांगलिक कार्यक्रम हो सकते हैं। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पंडित प्रवीण द्विवेदी से जानिए कन्या वालों के लिए कैसा रहेगा साल 2021…

इस महीने केतु-शुक्र वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, सूर्य-बुध धनु राशि का चौथे भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का पांचवे भाव में, मंगल मेष राशि का आठवें भाव में, राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में और चंद्रमा कर्क राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने की शुरुआत आपके लिए शुभ रहेगी। परिवार की जिम्मेदारी ठीक से निभा पाएंगे। बिजनेस में कोई बड़ा निर्णय ले सकते हैं, इसका फायदा आगे जाकर मिलेगा। प्रेम प्रसंगों के कारण थोड़ा तनाव हो सकता है। 8 जनवरी के बाद समय आपके पक्ष में रहेगा। अच्छे कामों के नतीजे मिलेंगे। बौद्धिक क्षमता का विकास होगा। पैसों से जुड़े मामले आपके पक्ष में हो सकते हैं 16 से 23 जनवरी के बीच दोस्तों का सहयोग मिलेगा। परिवार में खुशियां आएंगी। आप भविष्य की योजनाओं में व्यस्त रहेंगे। वाहन चलाते समय सावधानी जरूर रखें। महीने का अंतिम सप्ताह कुछ विशेष नहीं रहेगा। आप तनाव व आलस महसूस करेंगे। जीवनसाथी का स्वास्थ्य अचानक खराब हो सकता है। अचानक कोई परेशानी आ सकती है। घर-परिवार के लिए समय निकाल पाने में सफल साबित होंगे।

इस महीने केतु-शुक्र वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, सूर्य-बुध धनु राशि का चौथे भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का पांचवे भाव में, मंगल मेष राशि का आठवें भाव में, राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में और चंद्रमा कर्क राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने की शुरुआत आपके लिए शुभ रहेगी। परिवार की जिम्मेदारी ठीक से निभा पाएंगे। बिजनेस में कोई बड़ा निर्णय ले सकते हैं, इसका फायदा आगे जाकर मिलेगा। प्रेम प्रसंगों के कारण थोड़ा तनाव हो सकता है। 8 जनवरी के बाद समय आपके पक्ष में रहेगा। अच्छे कामों के नतीजे मिलेंगे। बौद्धिक क्षमता का विकास होगा। पैसों से जुड़े मामले आपके पक्ष में हो सकते हैं 16 से 23 जनवरी के बीच दोस्तों का सहयोग मिलेगा। परिवार में खुशियां आएंगी। आप भविष्य की योजनाओं में व्यस्त रहेंगे। वाहन चलाते समय सावधानी जरूर रखें। महीने का अंतिम सप्ताह कुछ विशेष नहीं रहेगा। आप तनाव व आलस महसूस करेंगे। जीवनसाथी का स्वास्थ्य अचानक खराब हो सकता है। अचानक कोई परेशानी आ सकती है। घर-परिवार के लिए समय निकाल पाने में सफल साबित होंगे।

इस महीने चंद्रमा कन्या राशि का लग्न में, केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शुक्र-गुरु-शनि और सूर्य मकर राशि का पांचवें भाव में, बुध कुंभ राशि का छठे भाव में, मंगल मेष राशि का आठवें भाव में, राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में रहेगा। इस महीने की शुरुआत शानदार रहेगी। सुख संपत्ति से जुड़े सभी ऐशो आराम आपको मिलेंगे। धार्मिक और सामाजिक कार्यक्रमों में जाने का मौका मिलेगा। परिवार में हंसी खुशी का माहौल रहेगा। बिगड़े काम भी इस समय बन सकते हैं। संतान से सुख प्राप्त होगा। 8 से 15 फरवरी के बीच आप कोई गलत निर्णय ले सकते हैं। किसी से विवाद की स्थिति भी बन सकती है। काम में किसी भी तरह की लापरवाही ना करें। कुछ लोग आपकी मदद करेंगे तो कुछ आपका बुरा करने में लगे रहेंगे। 16 फरवरी के बाद समय फिर से आपके पक्ष में हो सकता है। जीवन साथी से चली आ रही गलतफहमियां दूर होंगी। कोई शुभ समाचार सुनने को मिल सकता है। समाज सेवा के काम में पैसा खर्च होगा। महीने का अंतिम सप्ताह उत्साह व उमंग से भरपूर रहेगा। लाभ और खुशी दोनों के अवसर प्राप्त होंगे। इस समय स्वास्थ्य को लेकर सावधानी रखने की जरूरत है।

इस महीने चंद्रमा कन्या राशि का लग्न में, केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शुक्र-गुरु-शनि और सूर्य मकर राशि का पांचवें भाव में, बुध कुंभ राशि का छठे भाव में, मंगल मेष राशि का आठवें भाव में, राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में रहेगा। इस महीने की शुरुआत शानदार रहेगी। सुख संपत्ति से जुड़े सभी ऐशो आराम आपको मिलेंगे। धार्मिक और सामाजिक कार्यक्रमों में जाने का मौका मिलेगा। परिवार में हंसी खुशी का माहौल रहेगा। बिगड़े काम भी इस समय बन सकते हैं। संतान से सुख प्राप्त होगा। 8 से 15 फरवरी के बीच आप कोई गलत निर्णय ले सकते हैं। किसी से विवाद की स्थिति भी बन सकती है। काम में किसी भी तरह की लापरवाही ना करें। कुछ लोग आपकी मदद करेंगे तो कुछ आपका बुरा करने में लगे रहेंगे। 16 फरवरी के बाद समय फिर से आपके पक्ष में हो सकता है। जीवन साथी से चली आ रही गलतफहमियां दूर होंगी। कोई शुभ समाचार सुनने को मिल सकता है। समाज सेवा के काम में पैसा खर्च होगा। महीने का अंतिम सप्ताह उत्साह व उमंग से भरपूर रहेगा। लाभ और खुशी दोनों के अवसर प्राप्त होंगे। इस समय स्वास्थ्य को लेकर सावधानी रखने की जरूरत है।

इस महीने चंद्रमा कन्या राशि का लग्न में, केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में,  गुरु-बुध-शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, सूर्य-शुक्र कुंभ राशि का छठे भाव में, मंगल-राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में रहेगा। इस महीने के प्रथम सप्ताह में कहीं घूमने जाने का प्लान बन सकता है। लोगों से सुमधुर संबंध बनेंगे। परिवार के बुजुर्ग लोगों का आशीर्वाद प्राप्त होगा। आप अपने लक्ष्य की ओर अग्रसर होंगे। 7 मार्च के बाद किसी रिश्तेदार से संबंधित कोई बुरा समाचार सुनने को मिल सकता है। 8 से 15 मार्च के बीच बेकार के कामों में समय नष्ट होगा। कोई महंगी वस्तु गुम हो सकती है। परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन ना होने के कारण तनाव बढ़ सकता है। इंटरव्यू में सफलता मिलने की योग है। महीने के तीसरे सप्ताह में नया वाहन खरीदने के योग बन रहे हैं। इस दौरान आप नए लक्ष्य तलाश कर सकते हैं। आपके मान-सम्मान में वृद्धि होगी। किसी रोचक गतिविधि में भाग लेने का मौका मिलेगा। 24 से 31 मार्च के बीच व्यापार में नए प्रयोग सफल रहेंगे। प्रेम संबंधों के कारण पारिवारिक जीवन प्रभावित हो सकता है। नए लोगों से जान-पहचान बढ़ेगी।

इस महीने चंद्रमा कन्या राशि का लग्न में, केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में,  गुरु-बुध-शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, सूर्य-शुक्र कुंभ राशि का छठे भाव में, मंगल-राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में रहेगा। इस महीने के प्रथम सप्ताह में कहीं घूमने जाने का प्लान बन सकता है। लोगों से सुमधुर संबंध बनेंगे। परिवार के बुजुर्ग लोगों का आशीर्वाद प्राप्त होगा। आप अपने लक्ष्य की ओर अग्रसर होंगे। 7 मार्च के बाद किसी रिश्तेदार से संबंधित कोई बुरा समाचार सुनने को मिल सकता है। 8 से 15 मार्च के बीच बेकार के कामों में समय नष्ट होगा। कोई महंगी वस्तु गुम हो सकती है। परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन ना होने के कारण तनाव बढ़ सकता है। इंटरव्यू में सफलता मिलने की योग है। महीने के तीसरे सप्ताह में नया वाहन खरीदने के योग बन रहे हैं। इस दौरान आप नए लक्ष्य तलाश कर सकते हैं। आपके मान-सम्मान में वृद्धि होगी। किसी रोचक गतिविधि में भाग लेने का मौका मिलेगा। 24 से 31 मार्च के बीच व्यापार में नए प्रयोग सफल रहेंगे। प्रेम संबंधों के कारण पारिवारिक जीवन प्रभावित हो सकता है। नए लोगों से जान-पहचान बढ़ेगी।

इस महीने में चंद्रमा-केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शनि-गुरु मकर राशि का पांचवें भाव में सूर्य-शुक्र-बुध मीन राशि का सातवें भाव में, राहु-मंगल वृषभ राशि का नौवें भाव में रहेगा। महीने की शुरुआत में अधिकारियों से किसी बात पर विवाद हो सकता है। जीएसटी आयकर संबंधित मामलों में पूछताछ हो सकती है। धर्म के प्रति आपका रुझान बढ़ेगा। बुजुर्गों की तबीयत इस समय खराब हो सकती है। विद्यार्थी वर्ग परीक्षा की तैयारियों में व्यस्त रहेगा। कोई नए सदस्य परिवार में आ सकता है, जिससे घर का माहौल खुशनुमा हो जाएगा। 8 और 9 अप्रैल को जबरदस्त लाभ के योग बन रहे हैं। आभूषण-कपड़े जैसी आरामदायक और मनोरंजन का सुख भी आपको इस समय प्राप्त होगा। 13 अप्रैल के बाद समय कुछ ठीक नहीं है। कोई अशुभ समाचार मिल सकता है। यात्रा में कष्ट का योग है। 20 अप्रैल के बाद प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिल सकती है। इस समय आप को अपनी मेहनत का उचित परिणाम मिलेगा। महीने के अंतिम दिनों में बेरोजगारों को रोजगार मिल सकता है। यह समय पैसा कमाने के लिए ठीक है। आर्थिक स्थिति पहले से मजबूत होगी। परिवार का साथ मिलेगा।

इस महीने में चंद्रमा-केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शनि-गुरु मकर राशि का पांचवें भाव में सूर्य-शुक्र-बुध मीन राशि का सातवें भाव में, राहु-मंगल वृषभ राशि का नौवें भाव में रहेगा। महीने की शुरुआत में अधिकारियों से किसी बात पर विवाद हो सकता है। जीएसटी आयकर संबंधित मामलों में पूछताछ हो सकती है। धर्म के प्रति आपका रुझान बढ़ेगा। बुजुर्गों की तबीयत इस समय खराब हो सकती है। विद्यार्थी वर्ग परीक्षा की तैयारियों में व्यस्त रहेगा। कोई नए सदस्य परिवार में आ सकता है, जिससे घर का माहौल खुशनुमा हो जाएगा। 8 और 9 अप्रैल को जबरदस्त लाभ के योग बन रहे हैं। आभूषण-कपड़े जैसी आरामदायक और मनोरंजन का सुख भी आपको इस समय प्राप्त होगा। 13 अप्रैल के बाद समय कुछ ठीक नहीं है। कोई अशुभ समाचार मिल सकता है। यात्रा में कष्ट का योग है। 20 अप्रैल के बाद प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिल सकती है। इस समय आप को अपनी मेहनत का उचित परिणाम मिलेगा। महीने के अंतिम दिनों में बेरोजगारों को रोजगार मिल सकता है। यह समय पैसा कमाने के लिए ठीक है। आर्थिक स्थिति पहले से मजबूत होगी। परिवार का साथ मिलेगा।

इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, चंद्रमा धनु राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, गुरु कुंभ राशि का छठे भाव में, सूर्य-शुक्र मेष राशि का आठवें भाव में, बुध-राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में, मंगल मिथुन राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में परिवार वालों से किसी बात पर विवाद हो सकता है। इस समय कानूनी मामलों में थोड़ी सावधानी रखें। 5 और 6 मई को धन लाभ के योग बन रहे हैं। 8 से 15 मई के बीच आठवां चंद्रमा परेशानियां खड़ी कर सकता है। इस समय स्वास्थ्य में गिरावट आएगी। आर्थिक पक्ष कमजोर रहेगा। किसी से पैसा उधार लेना पड़ सकता है। पुश्तैनी संपत्ति संबंधित विवाद होने के योग भी बन रहे हैं। 19 मई के बाद किसी पुराने मित्र से मुलाकात होगी। इस समय प्रेम प्रसंगों में सफलता मिल सकती है। नौकरी में सहकर्मी आपके काम की प्रशंसा करेंगे। महीने के अंतिम सप्ताह में मानसिक शांति का अनुभव करेंगे। किसी भी शुभ कार्य के लिए यह समय बिल्कुल सही है। भाइयों में प्रेम बढ़ेगा। आपका भाग्य उदय होगा।

इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, चंद्रमा धनु राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, गुरु कुंभ राशि का छठे भाव में, सूर्य-शुक्र मेष राशि का आठवें भाव में, बुध-राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में, मंगल मिथुन राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में परिवार वालों से किसी बात पर विवाद हो सकता है। इस समय कानूनी मामलों में थोड़ी सावधानी रखें। 5 और 6 मई को धन लाभ के योग बन रहे हैं। 8 से 15 मई के बीच आठवां चंद्रमा परेशानियां खड़ी कर सकता है। इस समय स्वास्थ्य में गिरावट आएगी। आर्थिक पक्ष कमजोर रहेगा। किसी से पैसा उधार लेना पड़ सकता है। पुश्तैनी संपत्ति संबंधित विवाद होने के योग भी बन रहे हैं। 19 मई के बाद किसी पुराने मित्र से मुलाकात होगी। इस समय प्रेम प्रसंगों में सफलता मिल सकती है। नौकरी में सहकर्मी आपके काम की प्रशंसा करेंगे। महीने के अंतिम सप्ताह में मानसिक शांति का अनुभव करेंगे। किसी भी शुभ कार्य के लिए यह समय बिल्कुल सही है। भाइयों में प्रेम बढ़ेगा। आपका भाग्य उदय होगा।

इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का छठे भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में, मंगल-शुक्र-बुध मिथुन राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ आपके अनुकूल रहेगा। धार्मिक कार्य के प्रति आकर्षण बढ़ेगा। 4 और 5 जून को मिश्रित फलों की प्राप्ति होगी। मौसम जनित बीमारियां परेशान कर सकती है। उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे लोगों को सफलता मिलेगी। 6 और 7 जून को थोड़ा संभल कर रहें, दुर्घटना के योग बन रहे हैं। आप किसी कानूनी मामले में फंस सकते हैं। 14 और 15 जून को समय आपके पक्ष में रहेगा। पुराने निवेश का फायदा इस समय मिल सकता है। रोजगार के अवसर सुलभ होंगे। प्रयासों के अनुरूप सफलता मिलेगी। 16 से 23 जून के बीच आप किसी षड्यंत्र का शिकार हो सकते हैं। किसी महापुरुष से मुलाकात इस समय हो सकती है। परीक्षा परिणाम को लेकर मन में शंका रहेगी। महीने के अंतिम दिनों में आपके साथ कोई हादसा हो सकता है। झूठ बोलकर आप किसी मुसीबत में फंस सकते हैं। लक्ष्य प्राप्ति के लिए मेहनत करनी पड़ेगी।

इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का छठे भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में, मंगल-शुक्र-बुध मिथुन राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ आपके अनुकूल रहेगा। धार्मिक कार्य के प्रति आकर्षण बढ़ेगा। 4 और 5 जून को मिश्रित फलों की प्राप्ति होगी। मौसम जनित बीमारियां परेशान कर सकती है। उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे लोगों को सफलता मिलेगी। 6 और 7 जून को थोड़ा संभल कर रहें, दुर्घटना के योग बन रहे हैं। आप किसी कानूनी मामले में फंस सकते हैं। 14 और 15 जून को समय आपके पक्ष में रहेगा। पुराने निवेश का फायदा इस समय मिल सकता है। रोजगार के अवसर सुलभ होंगे। प्रयासों के अनुरूप सफलता मिलेगी। 16 से 23 जून के बीच आप किसी षड्यंत्र का शिकार हो सकते हैं। किसी महापुरुष से मुलाकात इस समय हो सकती है। परीक्षा परिणाम को लेकर मन में शंका रहेगी। महीने के अंतिम दिनों में आपके साथ कोई हादसा हो सकता है। झूठ बोलकर आप किसी मुसीबत में फंस सकते हैं। लक्ष्य प्राप्ति के लिए मेहनत करनी पड़ेगी।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, गुरु कुंभ राशि का छठे भाव में, चंद्रमा मीन राशि का सातवें भाव में, राहु-बुध वृषभ राशि का नौवें भाव में, मंगल-शुक्र कर्क राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में प्रॉपर्टी से संबंधित मामले अटक सकते हैं। रिश्तो में कड़वाहट का भाव रहेगा। विद्यार्थी वर्ग में उदासी का माहौल रहेगा। 6 और 7 जुलाई को जमीन जायदाद से जुड़े मामले सुलझ सकते हैं। 8 से 10 साल के बीच कोई उपहार आपको मिल सकता है। वैवाहिक संबंधों में मधुरता बढ़ेगी। नौकरी में कोई नई जिम्मेदारी आपको मिल सकती है। महीने के मध्य समय में कोई बड़ी हानि होने के योग बन रहे हैं। इस दौरान आत्मविश्वास में कमी आ सकती है। 16 से 23 जुलाई के बीच आपको कोई नया प्रोजेक्ट मिल सकता है। धन की आवक इस समय बनी रहेगी। ससुराल पक्ष से लाभ मिलेगा। महीने का अंतिम सप्ताह हास-परिहास और मनोरंजन में बीतेगा। परिवार के साथ शॉपिंग करने जा सकते हैं। नौकरी और बिजने के लिए समय मिला-जुला रहेगा।

इस महीने केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, गुरु कुंभ राशि का छठे भाव में, चंद्रमा मीन राशि का सातवें भाव में, राहु-बुध वृषभ राशि का नौवें भाव में, मंगल-शुक्र कर्क राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में प्रॉपर्टी से संबंधित मामले अटक सकते हैं। रिश्तो में कड़वाहट का भाव रहेगा। विद्यार्थी वर्ग में उदासी का माहौल रहेगा। 6 और 7 जुलाई को जमीन जायदाद से जुड़े मामले सुलझ सकते हैं। 8 से 10 साल के बीच कोई उपहार आपको मिल सकता है। वैवाहिक संबंधों में मधुरता बढ़ेगी। नौकरी में कोई नई जिम्मेदारी आपको मिल सकती है। महीने के मध्य समय में कोई बड़ी हानि होने के योग बन रहे हैं। इस दौरान आत्मविश्वास में कमी आ सकती है। 16 से 23 जुलाई के बीच आपको कोई नया प्रोजेक्ट मिल सकता है। धन की आवक इस समय बनी रहेगी। ससुराल पक्ष से लाभ मिलेगा। महीने का अंतिम सप्ताह हास-परिहास और मनोरंजन में बीतेगा। परिवार के साथ शॉपिंग करने जा सकते हैं। नौकरी और बिजने के लिए समय मिला-जुला रहेगा।

इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, गुरु कुंभ राशि का छठे भाव में, चंद्रमा मेष राशि का आठवें भाव में, राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में, सूर्य-बुध कर्क राशि का ग्यारहवें भाव में, मंगल-शुक्र सिंह राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में आय के स्त्रोतों में बढ़ोत्तरी होगी। बिजनेस को लेकर आपकी योजना सफल हो सकती है। पढ़ाई में  परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। बेकार के तर्क-वितर्क में समय नष्ट ना करें। 8 से 15 अगस्त के बीच लक्ष्यों को हासिल कर पाना मुश्किल होगा। आपको एक बार पुनः अपने लक्ष्य को संशोधित करना पड़ेगा। इससे आपके आत्मविश्वास में कमी आ सकती है। इस सप्ताह आप भ्रमित रहेंगे 16 अगस्त के बाद कामों में सफलता मिलने के योग बन रहे हैं। पुरानी बीमारियों से निजात मिलेगी। आप खुद को फिट महसूस करेंगे। अपनी योग्यता का पुरस्कार मिलेगा। 24 से 31 अगस्त के बीच सातवा चंद्रमा सुख-शांति लेकर आएगा। इसकी झलक आपके दांपत्य जीवन में साफ नजर आएगी। जन कल्याण के कामों में समय बीतेगा। सरकारी कामों में सफलता मिलेगी।

इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, गुरु कुंभ राशि का छठे भाव में, चंद्रमा मेष राशि का आठवें भाव में, राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में, सूर्य-बुध कर्क राशि का ग्यारहवें भाव में, मंगल-शुक्र सिंह राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में आय के स्त्रोतों में बढ़ोत्तरी होगी। बिजनेस को लेकर आपकी योजना सफल हो सकती है। पढ़ाई में  परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। बेकार के तर्क-वितर्क में समय नष्ट ना करें। 8 से 15 अगस्त के बीच लक्ष्यों को हासिल कर पाना मुश्किल होगा। आपको एक बार पुनः अपने लक्ष्य को संशोधित करना पड़ेगा। इससे आपके आत्मविश्वास में कमी आ सकती है। इस सप्ताह आप भ्रमित रहेंगे 16 अगस्त के बाद कामों में सफलता मिलने के योग बन रहे हैं। पुरानी बीमारियों से निजात मिलेगी। आप खुद को फिट महसूस करेंगे। अपनी योग्यता का पुरस्कार मिलेगा। 24 से 31 अगस्त के बीच सातवा चंद्रमा सुख-शांति लेकर आएगा। इसकी झलक आपके दांपत्य जीवन में साफ नजर आएगी। जन कल्याण के कामों में समय बीतेगा। सरकारी कामों में सफलता मिलेगी।

इस महीने में बुध-शुक्र कन्या राशि का लग्न में, केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, गुरु कुंभ राशि का छठे भाव में, राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में, चंद्रमा मिथुन राशि का दसवें भाव में, सूर्य-मंगल सिंह राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के प्रारंभ में घर में कोई मांगलिक कार्यक्रम हो सकता है। आप ऐशो-आराम की चीजों पर पैसा खर्च करेंगे। नए उपहार इस समय आपको मिल सकते हैं। 6 से 8 सितंबर के बीच पेट के रोग परेशान कर सकते हैं। 8 से 15 सितंबर के बीच काम की गति थोड़ी धीमी रहेगी। पैसों से जुड़े मामले बड़ी गंभीरता से पूरे करेंगे। मन में किसी अनहोनी की आशंका बनी रहेगी। इस समय बिजनेस में कोई-भी जोखिम भरा निर्णय ना लें तो बेहतर रहेगा। 16 सितंबर के बाद आकस्मिक लाभ के अवसर मिलेंगे। 21 और 22 सितंबर को सुखद समय व्यतीत होगा। आप रोमांस आदि में व्यस्त रहेंगे। किसी जरूरतमंद की मदद आप इस समय का सकते हैं। 24 और 25 सितंबर को समय विपरीत रहेगा। उधारी के कारण तनाव बढ़ सकता है। आकस्मिक खर्च के योग भी बन रहे हैं।

इस महीने में बुध-शुक्र कन्या राशि का लग्न में, केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, गुरु कुंभ राशि का छठे भाव में, राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में, चंद्रमा मिथुन राशि का दसवें भाव में, सूर्य-मंगल सिंह राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के प्रारंभ में घर में कोई मांगलिक कार्यक्रम हो सकता है। आप ऐशो-आराम की चीजों पर पैसा खर्च करेंगे। नए उपहार इस समय आपको मिल सकते हैं। 6 से 8 सितंबर के बीच पेट के रोग परेशान कर सकते हैं। 8 से 15 सितंबर के बीच काम की गति थोड़ी धीमी रहेगी। पैसों से जुड़े मामले बड़ी गंभीरता से पूरे करेंगे। मन में किसी अनहोनी की आशंका बनी रहेगी। इस समय बिजनेस में कोई-भी जोखिम भरा निर्णय ना लें तो बेहतर रहेगा। 16 सितंबर के बाद आकस्मिक लाभ के अवसर मिलेंगे। 21 और 22 सितंबर को सुखद समय व्यतीत होगा। आप रोमांस आदि में व्यस्त रहेंगे। किसी जरूरतमंद की मदद आप इस समय का सकते हैं। 24 और 25 सितंबर को समय विपरीत रहेगा। उधारी के कारण तनाव बढ़ सकता है। आकस्मिक खर्च के योग भी बन रहे हैं।

इस महीने सूर्य-मंगल कन्या राशि का लग्न में, बुध-शुक्र तुला राशि का दूसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में, चंद्रमा कर्क राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में आपको कोई अच्छी खबर मिल सकती है। चल-अचल संपत्ति इस समय आप क्रय कर सकते हैं। आय के नए स्त्रोतों में वृद्धि होगी। पैसे से जुड़े मामले गति पकड़ेंगे। कोई व्यापारिक यात्रा भी इस समय हो सकती है। 11 से 13 अक्टूबर के बीच का समय ठीक नहीं है। आपका किसी से विवाद हो सकता है। वाहन से संबंधित परेशानियां आ सकती हैं। आप किसी मुकद्मेबाजी में फंस सकते हैं। यह समय संभलकर रहने वाला है। 18 से 20 अक्टूबर तक का समय आपके लिए सुखद अनुभव लेकर आएगा। स्वास्थ्य उत्तम रहेगा। पारिवारिक मेल-जोल बढ़ेगा। प्रेम प्रसंगों में सफलता मिलेगी। 23 अक्टूबर के बाद आठवां चंद्रमा नुकसानदायक साबित होगा। 26 और 27 को मान-सम्मान में वृद्धि होगी। इसके बाद का समय पूरी तरह से आपके अनुकूल रहेगा। बुजुर्गों की सेवा करने का मौका मिलेगा।

इस महीने सूर्य-मंगल कन्या राशि का लग्न में, बुध-शुक्र तुला राशि का दूसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, गुरु-शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में, चंद्रमा कर्क राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में आपको कोई अच्छी खबर मिल सकती है। चल-अचल संपत्ति इस समय आप क्रय कर सकते हैं। आय के नए स्त्रोतों में वृद्धि होगी। पैसे से जुड़े मामले गति पकड़ेंगे। कोई व्यापारिक यात्रा भी इस समय हो सकती है। 11 से 13 अक्टूबर के बीच का समय ठीक नहीं है। आपका किसी से विवाद हो सकता है। वाहन से संबंधित परेशानियां आ सकती हैं। आप किसी मुकद्मेबाजी में फंस सकते हैं। यह समय संभलकर रहने वाला है। 18 से 20 अक्टूबर तक का समय आपके लिए सुखद अनुभव लेकर आएगा। स्वास्थ्य उत्तम रहेगा। पारिवारिक मेल-जोल बढ़ेगा। प्रेम प्रसंगों में सफलता मिलेगी। 23 अक्टूबर के बाद आठवां चंद्रमा नुकसानदायक साबित होगा। 26 और 27 को मान-सम्मान में वृद्धि होगी। इसके बाद का समय पूरी तरह से आपके अनुकूल रहेगा। बुजुर्गों की सेवा करने का मौका मिलेगा।

इस महीने में बुध कन्या राशि का लग्न में, सूर्य मंगल तुला राशि का दूसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शुक्र धनु राशि का चौथे भाव में, गुरु- शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में, चंद्रमा सिंह राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने का पहला सप्ताह सुखदायक रहेगा। आप स्वयं को व्यायाम, योग आदि के माध्यम से फिट रखने का प्रयास करेंगे। दैनिक कार्य सुगमता से कर पाएंगे। आपमें आत्मविश्वास कूट-कूट कर भरा होगा। जितनी तेजी से पैसा आएगा, उतनी ही तेजी से खर्च भी होगा। 8 और 9 नवंबर को चौथा चंद्रमा परेशानी का कारण बन सकता है। नौकरी में अधिकारियों से विवाद हो सकता है। ससुराल पक्ष में किसी बुजुर्ग की तबीयत खराब हो सकती है। 19 नवंबर के बाद मांगलिक कार्यों में जाने का मौका मिलेगा। आप अपना काम समय पर पूरा कर पाएंगे। बोनस इंक्रीमेंट आदि के माध्यम से आय में बढ़ोत्तरी होगी। महीने के अंतिम सप्ताह में कोई शुभ समाचार मिल सकता है। अधिक व्यस्तता के कारण खुद को थका हुआ महसूस करेंगे। जीवन साथी से प्रेम में मधुरता आएगी।

इस महीने में बुध कन्या राशि का लग्न में, सूर्य मंगल तुला राशि का दूसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शुक्र धनु राशि का चौथे भाव में, गुरु- शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में, चंद्रमा सिंह राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने का पहला सप्ताह सुखदायक रहेगा। आप स्वयं को व्यायाम, योग आदि के माध्यम से फिट रखने का प्रयास करेंगे। दैनिक कार्य सुगमता से कर पाएंगे। आपमें आत्मविश्वास कूट-कूट कर भरा होगा। जितनी तेजी से पैसा आएगा, उतनी ही तेजी से खर्च भी होगा। 8 और 9 नवंबर को चौथा चंद्रमा परेशानी का कारण बन सकता है। नौकरी में अधिकारियों से विवाद हो सकता है। ससुराल पक्ष में किसी बुजुर्ग की तबीयत खराब हो सकती है। 19 नवंबर के बाद मांगलिक कार्यों में जाने का मौका मिलेगा। आप अपना काम समय पर पूरा कर पाएंगे। बोनस इंक्रीमेंट आदि के माध्यम से आय में बढ़ोत्तरी होगी। महीने के अंतिम सप्ताह में कोई शुभ समाचार मिल सकता है। अधिक व्यस्तता के कारण खुद को थका हुआ महसूस करेंगे। जीवन साथी से प्रेम में मधुरता आएगी।

इस महीने चंद्रमा कन्या राशि का लग्न में, मंगल तुला राशि का दूसरे भाव में, सूर्य-बुध केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शुक्र धनु राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवे भाव में, गुरु कुंभ राशि का छठे भाव में, राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में चंद्र और मंगल की युति बन रही है, जिससे धन लाभ के योग बनेंगे। किसी नए बिजनेस के लिए योजना बन सकती है। प्रेम संबंधों में सफलता मिलेगी। कोई उपहार इस समय आपको मिल सकता है। 5 और 6 दिसंबर को पुराने रोग परेशान कर सकते हैं। महीने के दूसरे सप्ताह में आपकी तबीयत कुछ ठीक नहीं रहेगी। आप खुद पर ध्यान देने की कोशिश करेंगे। 16 दिसंबर के बाद आर्थिक मामलों में संभल कर रहना होगा। इस समय आप थकान का अनुभव करेंगे। 19 दिसंबर के बाद आपके मान-सम्मान में वृद्धि होगी। आपका रुझान आध्यात्म की ओर बढ़ सकता है। सुखद यात्रा के योग इस समय बन रहे हैं। महीने के अंतिम सप्ताह में वैवाहिक सुख में कमी आएगी। विद्यार्थियों का मन पढ़ाई में नहीं लगेगा। 31 दिसंबर का दिन धनदायक रहेगा।

इस महीने चंद्रमा कन्या राशि का लग्न में, मंगल तुला राशि का दूसरे भाव में, सूर्य-बुध केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शुक्र धनु राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवे भाव में, गुरु कुंभ राशि का छठे भाव में, राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में चंद्र और मंगल की युति बन रही है, जिससे धन लाभ के योग बनेंगे। किसी नए बिजनेस के लिए योजना बन सकती है। प्रेम संबंधों में सफलता मिलेगी। कोई उपहार इस समय आपको मिल सकता है। 5 और 6 दिसंबर को पुराने रोग परेशान कर सकते हैं। महीने के दूसरे सप्ताह में आपकी तबीयत कुछ ठीक नहीं रहेगी। आप खुद पर ध्यान देने की कोशिश करेंगे। 16 दिसंबर के बाद आर्थिक मामलों में संभल कर रहना होगा। इस समय आप थकान का अनुभव करेंगे। 19 दिसंबर के बाद आपके मान-सम्मान में वृद्धि होगी। आपका रुझान आध्यात्म की ओर बढ़ सकता है। सुखद यात्रा के योग इस समय बन रहे हैं। महीने के अंतिम सप्ताह में वैवाहिक सुख में कमी आएगी। विद्यार्थियों का मन पढ़ाई में नहीं लगेगा। 31 दिसंबर का दिन धनदायक रहेगा।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios