Asianet News Hindi

लॉकडाउन का 1 चेहरा ऐसा भी... सड़क पर बिखरे चावल के दाने चुनता दिखा शख्स, कहा- आज खाना खाऊंगा

First Published Apr 25, 2020, 3:42 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हटके डेस्क। कोरोना वायरस से दुनिया के ज्यादातर देश तबाह हैं। अब तक पूरी दुनिया में कोरोना के 28 लाख मामले सामने आ चुके हैं और इससे करीब 1 लाख 90 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना से 50 हजार से ज्यादा मौतें तो अमेरिका में हुई हैं, वहीं दूसरे देशों में भी मौतों का आंकड़ा कम नहीं है। थाईलैंड में कोरोना संक्रमण के कुल 2,907 मामले सामने आए हैं और 51 लोगों की मौत हुई है। वहां भी लॉकडाउन लगा दिया गया है। देखा जाए तो कोरोना फैलने से सबसे ज्यादा दिक्कत गरीब लोगों को ही हो रही है। अमीर लोग तो लॉकडाउन के बावजूद ऑनलाइन फूड डिलिवरी के जरिए तरह-तरह की चीजें मंगवा लेते हैं। उनके लिए मैकडोनाल्ड का पिज्जा, स्टारबक्स और बब्बल टी मंगवा लेना बड़ी बात नहीं है, लेकिन गरीब लोगों के लिए पेट भर पाना मुश्किल हो गया है। हाल ही में थाईलैंड में एक शख्स रोड पर गिरे चावल को चुनता नजर आया। वह सड़क पर फैले चावल के एक-एक दाने को चुन कर प्लास्टिक की थैली में भर रहा था। उसे देखने पर लग रहा था कि वह कई दिनों से भूखा है। जब उससे किसी ने पूछा तो उसने कहा कि मैं आज इन चावलों को उबाल कर खाऊंगा। किसी ने इसकी फोटो लेकर फेसबुक पर डाल दी। यह फोटो काफी वायरल हो गई। लोगों ने उस पर तरह-तरह के रिएक्शन दिए और सहानुभूति जताई। देखें इससे जुड़ी तस्वीरें और कैसे हैं थाईलैंड में कोरोना महामारी से हालात। 

सड़क पर बिखरे चावल चुन कर प्लास्टिक की थैली में रखता शख्स। यह कई दिनों से भूखा था। इसकी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। 

सड़क पर बिखरे चावल चुन कर प्लास्टिक की थैली में रखता शख्स। यह कई दिनों से भूखा था। इसकी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। 

यह भूखा आदमी मुट्ठी में लेकर चावल देख रहा है। चावल का एक-एक दाना चुन कर थैली में रखना आसान नहीं, लेकिन पेट की भूख मिटाने के लिए इंसान कुछ भी करता है। 

यह भूखा आदमी मुट्ठी में लेकर चावल देख रहा है। चावल का एक-एक दाना चुन कर थैली में रखना आसान नहीं, लेकिन पेट की भूख मिटाने के लिए इंसान कुछ भी करता है। 

थाईलैंड में महामारी की शुरुआत होते ही हेल्थ एजेंसियों ने जांच करनी शुरू कर दी और सरकार ने इसकी रोकथाम के लिए कड़े कदम उठाए। 

थाईलैंड में महामारी की शुरुआत होते ही हेल्थ एजेंसियों ने जांच करनी शुरू कर दी और सरकार ने इसकी रोकथाम के लिए कड़े कदम उठाए। 

स्लम बस्तियों में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल सकता है। इसलिए थाईलैंड में स्लम बस्तियों में तेजी से जांच-पड़ताल शुरू की गई। 

स्लम बस्तियों में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल सकता है। इसलिए थाईलैंड में स्लम बस्तियों में तेजी से जांच-पड़ताल शुरू की गई। 

थाईलैंड में कोरोना की जांच और रोकथाम में नर्सों ने बड़ी भूमिका निभाई। 

थाईलैंड में कोरोना की जांच और रोकथाम में नर्सों ने बड़ी भूमिका निभाई। 

एक हेल्थ कंट्रोल सेंटर में एक युवक की कोरोना जांच करती महिला हेल्थ वर्कर। थाईलैंड में कोरोना की जांच करने के लिए ऐसे काफी सेंटर बनाए गए। 

एक हेल्थ कंट्रोल सेंटर में एक युवक की कोरोना जांच करती महिला हेल्थ वर्कर। थाईलैंड में कोरोना की जांच करने के लिए ऐसे काफी सेंटर बनाए गए। 

कोरोना से बचाव के लिए चीन से आने वाले हवाई जहाजों को डिसइन्फेक्ट करने का काम भी बड़े पैमाने पर किया गया। 

कोरोना से बचाव के लिए चीन से आने वाले हवाई जहाजों को डिसइन्फेक्ट करने का काम भी बड़े पैमाने पर किया गया। 

कोरोना की जांच पर शुरू से ही थाईलैंड में काफी जोर दिया गया। कई बार लोगों ने इसका विरोध भी किया, पर अधिकारियों ने पूरी सख्ती बरती। 

कोरोना की जांच पर शुरू से ही थाईलैंड में काफी जोर दिया गया। कई बार लोगों ने इसका विरोध भी किया, पर अधिकारियों ने पूरी सख्ती बरती। 

कोरोना से पैदा हुई आपदा से निपटने के लिए सेना को भी अलर्ट कर दिया गया। 

कोरोना से पैदा हुई आपदा से निपटने के लिए सेना को भी अलर्ट कर दिया गया। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios