Asianet News Hindi

चीन की राह पर PAK,दुनिया से बोल रहा झूठ; सिर्फ कराची में दफन किए 3 हजार से ज्यादा शव, ऐसे खुली पोल

First Published Apr 18, 2020, 3:42 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कराची. दुनिया भर में कोरोना वायरस का कहर जारी है। संक्रमित मरीजों की संख्या 22 लाख के पार पहुंच चुकी है। जबकि अबतक 1 लाख 54 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। इन सब के बीच पाकिस्तान में कोरोना वायरस के आंकड़े छिपाए जाने की आशंका है। यहां के प्रमुख अखबार ‘द ट्रिब्यून’ की एक रिपोर्ट इस तरफ ही इशारा कर रही है। इसके मुताबिक, अकेले कराची शहर में 49 दिनों में तीन हजार 265 शव दफनाए गए। 

यह आंकड़ा कराची शहर के सिर्फ 30 कब्रिस्तानों का है। ज्यादातर लोगों की मौत की कोई वजह या तो बताई नहीं गई या फिर इनके टेस्ट ही नहीं किए गए। दूसरी तरफ, शुक्रवार शाम तक यहां कुल 7 हजार 481 मामले सामने आए। इस दौरान आधिकारिक तौर पर 143 लोगों के मौत की पुष्टि की गई। 
 

यह आंकड़ा कराची शहर के सिर्फ 30 कब्रिस्तानों का है। ज्यादातर लोगों की मौत की कोई वजह या तो बताई नहीं गई या फिर इनके टेस्ट ही नहीं किए गए। दूसरी तरफ, शुक्रवार शाम तक यहां कुल 7 हजार 481 मामले सामने आए। इस दौरान आधिकारिक तौर पर 143 लोगों के मौत की पुष्टि की गई। 
 

रिपोर्ट के मुताबिक, 30 कब्रिस्तानों में 49 दिन में तीन हजार 265 लोगों को दफनाए जाने का आंकड़ा गुरुवार को सरकारी डाटा से मिला है। दरअसल, मीडिया के कुछ हिस्सों में कई दिन से यह खबरें आ रही हैं कि कोरोना से पाकिस्तान में बड़ी तादाद में लोग मारे जा चुके हैं। 

रिपोर्ट के मुताबिक, 30 कब्रिस्तानों में 49 दिन में तीन हजार 265 लोगों को दफनाए जाने का आंकड़ा गुरुवार को सरकारी डाटा से मिला है। दरअसल, मीडिया के कुछ हिस्सों में कई दिन से यह खबरें आ रही हैं कि कोरोना से पाकिस्तान में बड़ी तादाद में लोग मारे जा चुके हैं। 

मीडिया रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि इन मौतें की सरकार पुष्टि नहीं कर रही है। रिपोर्ट के मुताबिक, अगर आंकड़े और मौत की वजह छिपाई जाती है तो यह बेहद खतरनाक साबित हो सकता है।  

मीडिया रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि इन मौतें की सरकार पुष्टि नहीं कर रही है। रिपोर्ट के मुताबिक, अगर आंकड़े और मौत की वजह छिपाई जाती है तो यह बेहद खतरनाक साबित हो सकता है।  

कराची के सरकारी अस्पतालों से लिए गए आंकड़ों के मुताबिक, इस साल शुरू के तीन महीनों यानी जनवरी से लेकर मार्च तक 10 हजार 791 मरीजों को इमरजेंसी में लाया गया। इनमें से 121 की अस्पताल पहुंचने से पहले ही मौत हो गई। 
 

कराची के सरकारी अस्पतालों से लिए गए आंकड़ों के मुताबिक, इस साल शुरू के तीन महीनों यानी जनवरी से लेकर मार्च तक 10 हजार 791 मरीजों को इमरजेंसी में लाया गया। इनमें से 121 की अस्पताल पहुंचने से पहले ही मौत हो गई। 
 

रिपोर्ट के मुताबिक, किसी भी मरीज की मौत की वजह के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई और न ही इनके टेस्ट किए गए। हैरानी की बात ये है कि अस्पतालों ने भी मौत का कारण जानने की कोशिश नहीं की। 

रिपोर्ट के मुताबिक, किसी भी मरीज की मौत की वजह के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई और न ही इनके टेस्ट किए गए। हैरानी की बात ये है कि अस्पतालों ने भी मौत का कारण जानने की कोशिश नहीं की। 

मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि लापरवाही का आलम यह है कि डॉक्टर और द्वारा यह भी पता लगाने की कोशिश नहीं की गई कि कहीं इन लोगों के मरने की वजह कोविड-19 तो नहीं है।  

मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि लापरवाही का आलम यह है कि डॉक्टर और द्वारा यह भी पता लगाने की कोशिश नहीं की गई कि कहीं इन लोगों के मरने की वजह कोविड-19 तो नहीं है।  

मीडिया रिपोर्ट में किए जा रहे दावे के मुताबिक आशंका जताई जा रही है कि कोरोना वायरस के कहर से पाकिस्तान बुरी तरह से जूझ रहा है। इसके साथ ही सही आंकड़े सामने नहीं ला जाए रहे हैं। कहा जा रहा है कि सरकार कोरोना वायरस के आंकड़ों को छिपा रही है। 

मीडिया रिपोर्ट में किए जा रहे दावे के मुताबिक आशंका जताई जा रही है कि कोरोना वायरस के कहर से पाकिस्तान बुरी तरह से जूझ रहा है। इसके साथ ही सही आंकड़े सामने नहीं ला जाए रहे हैं। कहा जा रहा है कि सरकार कोरोना वायरस के आंकड़ों को छिपा रही है। 

दुनिया में कोरोना

दुनिया के 210 देशों में कोरोना का संक्रमण जारी है। प्रभावित देशों में संक्रमित मरीजों की संख्या 22 लाख 61 हजार से अधिक है। जबकि अब तक 1 लाख 54 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि कोरोना के संक्रमण से अब तक 5 लाख 78 हजार से अधिक लोग ठीक भी हो चुके है। 

दुनिया में कोरोना

दुनिया के 210 देशों में कोरोना का संक्रमण जारी है। प्रभावित देशों में संक्रमित मरीजों की संख्या 22 लाख 61 हजार से अधिक है। जबकि अब तक 1 लाख 54 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि कोरोना के संक्रमण से अब तक 5 लाख 78 हजार से अधिक लोग ठीक भी हो चुके है। 

अमेरिका में मौत का आंकड़ा 37 हजार के पार

कोरोना संक्रमण से जूझ रहे अमेरिका की हालत बुरी होती जा रही है। यहां संक्रमण से अबतक 37 हजार लोग जान गंवा चुके हैं। जबकि अब तक 7 लाख 10 से अधिक संक्रमित मरीज सामने आए हैं। पिछले 24 घंटे में 2 हजार से अधिक लोगों न दम तोड़ा है। जबकि 30 हजार से अधिक नए मरीज सामने आए हैं। 

अमेरिका में मौत का आंकड़ा 37 हजार के पार

कोरोना संक्रमण से जूझ रहे अमेरिका की हालत बुरी होती जा रही है। यहां संक्रमण से अबतक 37 हजार लोग जान गंवा चुके हैं। जबकि अब तक 7 लाख 10 से अधिक संक्रमित मरीज सामने आए हैं। पिछले 24 घंटे में 2 हजार से अधिक लोगों न दम तोड़ा है। जबकि 30 हजार से अधिक नए मरीज सामने आए हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios