नाइट में क्वालिटी टाइम बिताने होटल पहुंचा कपल, लेकिन बेड पर जाते ही कर लिया सुसाइड, शॉकिंग है मौत की वजह

| Nov 26 2022, 09:14 AM IST

  नाइट में क्वालिटी टाइम बिताने होटल पहुंचा कपल, लेकिन बेड पर जाते ही कर लिया सुसाइड, शॉकिंग है मौत की वजह

सार

हरियाणा के बहादुरगढ़ से एक दुखद घटना सामने आई है, जहां शादीशुदा प्रेमी जोड़े ने होटल में जाकर मौत को गले लगा लिया। मरने से पहले लिखा-हम दोनों साथ जी नहीं सके तो क्या साथ मर तो सकते हैं, दोनों ने साथ भागने की पूरी  कोशिश की, लेकिन बच्चों की खातिर ऐसा नहीं  कर पाए।

रोहतक (हरियाणा). देश में सुसाइड के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। सबसे ज्यादा चिंताजनक बात सामूहिक खुदखुशी की है जो आए दिन सामने आ रही हैं। हरियाणा के बहादुगढ जिले से एक ऐसा ही दुख घटना सामने आई है। जहां प्रेमी जोड़े ने होटल के कमरे में जहर खाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर सुसाइड नोट बरामद कर लिया है, साथ ही घटनास्थल से कपल के द्वारा लिखा एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें मरने की पीछे की वजह लिखी है।

होटल में नाइट गुजारने के लिए बुक किया कमरा और...
दरअसल, यह दुखद मामला बहादुरगढ़ के दिल्ली-रोहतक रोड पर स्थित अल्काजा होटल का है। जहां बहादुरगढ़ के सराय औरंगाबाद के रहने वाले प्रेमी युवक जितेंद्र अपनी प्रेमिका पूनम को लेकर गुरुवार शाम होटल पहुंचा हुआ था। दोनों ने यहां रातभर रुकने के लिए कमरा बुक किया था। लेकिन देर रात दोनों ने जहर खा लिया। जिसके बाद सुबह दोनों के शव बिस्तर पर पड़े मिले।

Subscribe to get breaking news alerts

मौत से पहले होटल के रिसेप्शन पर किया था फोन 
पुलिस की शुरूआती जांच में पता चला है कि दोनों शादीशुदा हैं और दोनों के बच्चे हैं। इसके बाद भी उनका अफेयर हो गया, लेकिन शादीशुदा होने के कारण वह साथ नहीं रह पा रहे थे। इसलिए उन्होंने मरने का फैसला किया इसके लिए पहले उन्होंने कमरा नंबर 307 बुक कराया। फिर वहां पहुंचकर जहरीला पदार्थ निगल लिया। वहीं जितेंद्र ने होटल के रिसेप्शन पर फोन करके बताया कि उन दोनों ने जहर खा लिया है और उनकी तबीयत खराब हो रही है। जिसके बाद होटल स्टाफ ने दोनों को कमरे से बाहर निकाला और तुरंत बहादुरगढ़ के नागरिक अस्पताल में लेकर पहुंचे। लेकिन वह नहीं बस सके।

साथ जी नहीं सके तो साथ मरने का किया फैसला
पुलिस ने होटल के कमरे से सुसाइड नोट भी बरामद किया है। इसमें दोनों ने खुद को ही अपनी मौत का जिम्मेदार ठहराया है। लिखा है कि हम दोनों ने भागने की बहुत कोशिश की, लेकिन बच्चों की तरफ देख कर मौत की तरफ कदम बढ़ाया है। जहर खाने के बाद दोनों ने अपने परिजनों को आत्महत्या करने बारे में बताया था। सेक्टर 6 थाना प्रभारी सुनील कुमार ने बताया कि दोनों की पहचान पास मिले आधार कार्ड के आधार पर कर ली गई है।

यह भी पढ़ें-खून से लथपथ मिली दिव्यांग युवती, लोग बोले- बोलेरो सवार पकड़कर जंगल में ले गए, फिर की हैवानियत