Asianet News Hindi

नहीं होनी चाहिए ऐसी गलती: पिता की लापरवाही में थमी 11 माह की बेटी की सांसे, मां आई तो छोड़ चुकी थी दुनिया

यह दर्दनाक घटना जींद शहर की इंप्लाइज कॉलोनी में घटी। जहां एक पिता की चूक से उसकी 11 माह की एक बेटी की मौत हो गई। कल तक जिसकी किलकारी से पूरे घर में खुशियां थीं अब वहां मातम की चीखें सुनाई दे रही हैं। 

haryana 11 month old innocent daughter death due to drowning in a tub of water by father negligence in jind kpr
Author
Jind, First Published Jun 6, 2021, 8:31 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जींद (हरियाणा). कभी-कभी आपकी जरा सी लापरवाही इतनी भारी पड़ जाती है कि आपके पास जिंदगीभर पछताने के अलावा कुछ नहीं होता। ऐसी एक दुखद और मार्मिक खबर हरियाणा के जींद से सामने आई है। जहां एक पिता की चूक से उसकी 11 माह की एक बेटी की मौत हो गई। कल तक जिसकी किलकारी से पूरे घर में खुशियां थीं अब वहां मातम की चीखें सुनाई दे रही हैं। 

किसी तरह मासूम को निकाला..लेकिन थम चुकी थीं सांसे
दरअसल, यह दर्दनाक घटना जींद शहर की इंप्लाइज कॉलोनी में घटी। जहां यहां रहने वाले विक्रम अपनी 11 महीने की मासूम बेटी को नहलाने के लिए बाथरूम में नल के नीचे खाली टब में बिठा दिया। लेकिन इसी दौरान  विक्रम के मोबाइल पर किसी कॉल आया तो वह उसे अटेंड करने के लिए कमरे में चले गए। इसी बीच उनका चार साल का बेटा बाथरूम में आया और नल चालू करके आ गया। कुछ देर बाद जब मां रेखा पहुंची तो वह दंग रह गईं, क्योंकि उनकी बेटी पानी में डूब चुकी थी। मासूम को देखते ही चीखने लगी और परिवार के लोग जमा हो गए।

बेटी की याद में बिलख रहे माता-पिता
किसी तरह महिला ने अपनी पानी में डूबी बेटी को टब से निकाला। लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। आनन-फानन में विक्रम बेटी को पास के अस्पताल लेकर पहुंचे, पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पूरे परिवार का रो-रोकर बुरा हाल है। खासकर पिता के तो आंसू नहीं थम रहे हैं, वह बार-बार यही बोल रहा है कि सब मेरी वजह से हुआ है। यह घटना कई लोगों को लिए सावधान करती है कि छोटे बच्चों को छोड़कर कहीं नहीं जाना चाहिए। क्योंकि उनके साथ हादसा कभी और कहीं भी हो सकता है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios