Asianet News Hindi

कोरोना वायरस से बचाव के लिए आजमाएं ये 5 आयुर्वेदिक नुस्खे, इनसे बढ़ती है इम्युनिटी

कोरोना वायरस का खतरा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। भारत में अब तक इसके संक्रमण के 2094 मामले सामने आ चुके हैं, वहीं 60 लोगों की मौत हो चुकी है। इस वायरस से बचाव के लिए इम्युनिटी का मजबूत रहना जरूरी है।

Five ayurvedic tips to protect against corona virus, they increase immunity MJA
Author
New Delhi, First Published Apr 2, 2020, 3:58 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हेल्थ डेस्क। कोरोना वायरस का खतरा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। भारत में अब तक इसके संक्रमण के 2094 मामले सामने आ चुके हैं, वहीं 60 लोगों की मौत हो चुकी है। इस वायरस से बचाव के लिए इम्युनिटी का मजबूत रहना जरूरी है। बाहर जाने से बचने के साथ ही नियमित अंतराल पर हाथ धोना और साफ-सफाई रखना तो जरूरी है ही, साथ ही खान-पान में भी सावधानी बरतने की जरूरत है। अभी बाहर का खाना या बासी खाना किसी भी हाल में नहीं खाना चाहिए। हमेशा ताजा बना खाना ही खाना चाहिए और पानी को उबाल कर पीना चाहिए। जानें कुछ ऐसे आयुर्वेदिक नुस्खे, जिनसे इम्युनिटी मजबूत होती है। कोरोना वायरस का संक्रमण उन लोगों को जल्दी होता है, जिनका इम्यून सिस्टम कमजोर हो। इसलिए इम्युनिटी को बढ़ाने की हर हाल में कोशिश करनी चाहिए।

1. आंवला
आंवला को अमृत फल कहा गया है। इसे गुणों की खान बताया गया है। आंवला में विटामिन सी सबसे ज्यादा पाया जाता है। इसमें विटामिन बी कॉम्पलेक्स भी पर्याप्त मात्रा में होता है। आंवला का सेवन करने से इम्यून सिस्टम तेजी से मजबूत होता है। आंवला का सेवन किसी भी रूप में कर सकते हैं। अगर कच्चा आंवला नहीं मिले तो इसका अचार, मुरब्बा और चूर्ण भी खा सकते हैं। आयुर्वेदिक दवा की दुकानों पर आंवला का रस भी मिलता है। सर्दियों में जो लोग रोज एक आंवला का सेवन करते हैं, उनकी इम्युनिटी काफी मजबूत रहती है।

2. तुलसी-काली मिर्च की चाय
इम्युनिटी बढ़ाने के लिए तुलसी और काली मिर्च की चाय भी पी सकते हैं। तुलसी की कुछ पत्तियों को जरूरत के हिसाब से पानी में खौला दें और उसमें काली मिर्च का चूर्ण मिला दें। इसमें चीनी की जगह गुड़ का इस्तेमाल करने से ज्यादा फायदा होगा। इस चाय को दिन में दो बार पीने से गले से संबंधित किसी तरह का संक्रमण नहीं होगा। तुलसी में कई बीमारियों को ठीक करने का गुण है। सुबह मुंह धोने के बाद तुलसी की कुछ पत्तियों को ऐसे भी चबा कर पानी पी सकते हैं।

3. गिलोय
गिलोय को त्रिदोष नाशक कहा गया है, यानी गिलोय के सेवन से कफ, पित्त और वात संबंधी सभी परेशानियां दूर होती हैं। गिलोय में काफी मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं। इसमें मलेरिया और दूसरे बुखार से बचाव करने का गुण भी है। गिलोय के सेवन से शरीर को काफी एनर्जी मिलती है। यह इम्यून सिस्टम को बूस्ट करता है। आयुर्वेदिक दवा की दुकानों पर गिलोय का रस मिलता है। किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह के अनुसार इसका सेवन करना चाहिए।

4. लहसुन
लहसुन के इस्तेमाल से किसी भी तरह के संक्रमण से बचाव होता है। इसे सब्जी में मसाले के रूप में जरूर डालें। इसके अलावा, सुबह उठ कर खाली पेट लहसुन की एक-दो कलियों को कच्चा खाकर पानी पीने से भी काफी फायदा होता है।

5. हल्दी और काली मिर्च
हल्दी में कर्क्यूमिन पाया जाता है। यह एंटी सेप्टिक, एंटी इन्फ्लेमेटरी और जीवाणुओं को नष्ट करने वाला होता है। काली मिर्च में पिपेरिन होता है। दोनों को मिला कर सेवन करने से इम्युनिटी काफी बढ़ती है। किसी भी तरह के संक्रमण से बचाव के लिए मसाले में हल्दी और काली मिर्च का उपयोग जरूर करना चाहिए। इसके अलावा, रात में सोने के पहले एक गिलास हल्दी मिला गर्म दूध पीने से भी काफी फायदा होता है। 

  
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios