Asianet News HindiAsianet News Hindi

Health tips: अगर आपको ये 5 बीमारियां हैं तो भूलकर भी ना करें घी का सेवन

क्या आप भी रोटी या चावल में ढेर सारा घी खाते हैं? तो सावधान हो जाए, क्योंकि इन बीमारियों से अगर आप परेशान है, तो आपको घी का सेवन नहीं करना चाहिए।

Health tips: if you are suffering from these five diseases you should not eat ghee dva
Author
First Published Sep 6, 2022, 10:32 AM IST

लाइफस्टाइल डेस्क : घी का इस्तेमाल लगभग हर घर में किया जाता है। दाल में तड़का लगाना हो या रोटी में घी लगाना ये सभी घरों में खूब पसंद किया जाता है। घी विटामिन, ओमेगा फैटी एसिड और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि हेल्दी होने वाला की भी कुछ लोगों के लिए नुकसानदायक हो सकता है। जी हां, हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो कुछ गंभीर बीमारियों से जूझ रहे लोगों को घी का सेवन नहीं करना चाहिए। किन लोगों को घी खाने से बचना चाहिए आइए हम आपको बताते हैं...

दूध से एलर्जी
चूंकि घी एक डेयरी उत्पाद है, इसलिए दूध से एलर्जी वाले लोगों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए या इसे कम मात्रा में ही करना चाहिए। घी के सेवन से दाने, पित्ती, उल्टी या दस्त जैसे लक्षण दिखाई देने की संभावना है। जबकि कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो लैक्टोज इनटॉलेरेंस के साथ घी को सहन कर लेते हैं। इसलिए, यदि आपको दूध से एलर्जी है या लैक्टोज इनटॉलेरेंस है, तो इसके बारे में अपने डॉक्टर से सलाह लें।

हृदय रोगी
घी में ऑक्सीकृत कोलेस्ट्रॉल पाया जाता है, जो हृदय रोगों सहित विभिन्न बीमारियों के जोखिम को बढ़ा सकती है। फैटी एसिड की मौजूदगी के कारण इसमें हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। 

लीवर संबंधित रोग
लेकिन अगर आपको पहले से ही लीवर से संबंधित बीमारियां जैसे पीलिया, फैटी लीवर, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल दर्द है, तो आपको घी से बचना चाहिए, क्योंकि इससे गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। हालांकि, घी का कम मात्रा में सेवन करने से लीवर की समस्या नहीं होती है।

मोटापे से ग्रस्त लोग
अगर आप डाइट पर हैं तो दिन में दो चम्मच घी का सेवन करना ठीक रहता है। लेकिन अगर आप इसका सेवन बढ़ाते हैं, तो इससे वजन बढ़ सकता है। घी में कॉन्जुगेटेड लिनोलिक एसिड (सीएलए) होता है, जो लोगों को वजन कम करने में मदद करता है लेकिन फिर भी यह कैलोरी से भरपूर खाद्य पदार्थ है और इसके अधिक सेवन से मोटापा हो सकता है।

पाचन संबंधी समस्याएं 
घी को पचाना मुश्किल हो सकता है। इसलिए, यदि आप नियमित रूप से अपच, सूजन या कब्ज जैसी पाचन समस्याओं से परेशान होते है, तो आपको इससे बचना चाहिए या सावधानी से इसका सेवन करना चाहिए। गर्भवती महिलाओं को घी का सेवन कम करने की सलाह दी जाती है क्योंकि उन्हें अक्सर अपच और सूजन रहती है।

और पढ़ें: लड़के के प्राइवेट पार्ट की हालत देख डॉक्टर हैरान, कहा- यह कैसे हो गया

बच्चों को जानलेवा बीमारी से बचाता है फिश ऑयल गर्भावस्था के दौरान मां करें इसका सेवन- स्टडी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios