Asianet News HindiAsianet News Hindi

सुहागरात पर पति ने पत्नी के सामने रखी IAS बनने की शर्त, पूरी नहीं हुई तो कहा - अब साथ नहीं रहना

जयमाल्य मंडल ने अपनी पत्नी के सामने यह शर्त रखी की उसे दो साल के अंदर UPSC की परीक्षा पास करके IAS अफसर बनना होगा। अगर वो ऐसा नहीं कर पाती है तो वह पल्लवी के साथ किसी तरह का रिश्ता नहीं रखेगा। पहले तो पल्लवी को यह मजाक लगा लेकिन अब वह न्याय के लिए पल्लवी थाना और कोर्ट का चक्कर लगा रही है।
 

jharkhand ranchi, husband condition to wife to crack upsc and become ias to continue relation stb
Author
Ranchi, First Published Dec 6, 2021, 10:38 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

रांची : झारखंड (jharkhand) में पति की एक शर्त ने पत्नी की दुनिया उजाड़ दी। शादी के बाद सुहागरात पर पति ने पत्नी के सामने जो शर्त रखी, उसका खामियाजा अब पत्नी को भुगतना पड़ रहा है। मामला पूर्वी सिंहभूम जिले के पोटका थाना क्षेत्र का है। जहां दो साल पहले पल्लवी मंडल और जयामाल्य मंडल की शादी धूमधाम के साथ पूरे सामाजिक रीति रिवाज से हुई थी। नए जीवन में कदम रखने और नए सपने लिए पल्लवी अपने ससुराल आई। लेकिन सुहागरात पर पति की शर्त ने उसके सारे सपनों पर पानी फेर दिया और अब वह कोर्ट के चक्कर लगाने को मजबूर है।  

ये रखी थी शर्त
जयमाल्य और पल्लवी की शादी 19 जून 2018 को सामाजिक रीति रिवाज के हुई थी। पल्लवी के पिता प्रदूत कुमार मंडल ने अपनी बेटी खुशियों की कामना करते हुए उसे विदा किया। सुहागरात में जयमाल्य मंडल ने अपनी पत्नी के सामने यह शर्त रखी की उसे दो साल के अंदर UPSC की परीक्षा पास करके IAS अफसर बनना होगा। अगर वो ऐसा नहीं कर पाती है तो वह पल्लवी के साथ किसी तरह का रिश्ता नहीं रखेगा। पहले तो पल्लवी को यह मजाक लगा लेकिन दूसरे दिन जयमाल्य इंटरव्यू की बात कहकर घर से बाहर चला गया। फिर कुछ दिनों बाद वो घर लौटा पर उसने पल्लवी से कोई बातचीत नहीं की। इसके बाद न्याय के लिए पल्लवी थाना और कोर्ट का चक्कर लगा रही है।

रिश्ता बचाने दर्द सहती रही
शुरू-शुरू में तो पल्लवी को यह मजाक लगा। वह समझ नहीं पा रही थी कि उसके MBA गोल्ड मेडलिस्ट पति ने उसके सामने शर्त नहीं अपनी जिंदगी का फैसला सुना दिया था। दूसरे दिन जयमाल्य घर से निकल गया फिर लौटने के बाद जयमाल्य ने पल्लवी से बात नहीं की। कई दिनो तक उसका व्यवहार वैसा ही रहा, इसके बाद पल्लवी को यह समझ में नहीं आ रहा था कि वो क्या करे। पल्लवी ने बताया कि इस दौरान उसके ससुरालवालों ने उसे बहुत प्रताड़ित किया लेकिन रिश्ता बचाने के लिए वह चुप रही, इसके बाद भी जयमाल्य अपने शर्त पर अड़ा रहा।

कोर्ट के चक्कर लगाने को मजबूर 
जयमाल्य मंडल फिलहाल मंडल सिटी यूनियन बैंक लखनऊ में असिस्टेंट ब्रांच मैनेजर के पद पर कार्यरत हैं। पल्लवी का कहना है कि रिश्ता बचाने और मां-बाप की इज्जत के लिए उसने पहले सब जुल्म सहे लेकिन जब उसके सब्र का बांध टूट गया तो वह थाने पहुंची और ससुरालवालों के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज करवाया। अब पल्लवी और उसके पिता न्याय के लिए कोर्ट और थाने का चक्कर लगा रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें-देवर-भाभी की Love Story का दुखद अंत: ट्रेन के आगे कूदकर सुसाइड किया, 3 बच्चों की मां थी प्रेमिका

इसे भी पढ़ें-गुजरात में दूल्हे ने छपवाया अनोखा शादी का कार्ड, जिसे देख हर कोई दंग..चाहकर भी कचरे में नहीं फेंक सकते

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios