उज्जैन. कितने दानों की माला से जाप करना सबसे अच्छा होता है और कौन-सी इच्छा पूरी करने के लिए किस अंगुली से माला फेरनी चाहिए इस बात का पूरा वर्णन शिवपुराण में दिया गया है।

श्लोक-
अष्टोत्तरशंत माला तत्र स्यावृत्तमोत्तमा।
शतसंख्योत्तमा माला पचशद्भिस्तु मध्यमा।।

1. शिवपुराण के अनुसार, जिसे धन पाने की चाह हो उसे मध्यमा यानी मिडिल फिंगर से माला का जाप करना चाहिए।
2. जो मनुष्य दुश्मनों से परेशान हो उसे शत्रु से मुक्ति पाने के लिए तर्जनी यानी इंडेक्स फिंगर से माला का जाप करना चाहिए।
3. सुखी जीवन और मोक्ष पाने की इच्छा रखने वाले लोगों को अंगूठे से माला का जाप करना चाहिए।