उज्जैन. वास्तु में नकारात्मकता को दूर करने और सकारात्मकता को बढ़ाने की टिप्स भी बताई गई हैं। वास्तु की कुछ खास बातें, जिनका ध्यान रखने से घर में सकारात्मकता बनी रहती है। जानिए ये टिप्स...

1. घर का मेन गेट और अंदर के कमरे हमेशा साफ रखना चाहिए। मुख्य द्वार पर रात में भी पर्याप्त रोशनी होनी चाहिए। ऐसा करने पर घर में सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है। गंदगी की वजह से वास्तु दोष बढ़ते हैं। इसीलिए साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें।

2. दिनभर में कभी भी घर में सूर्य की रोशनी आती है तो इससे कई वास्तु दोष खत्म होते हैं। अगर घर में सूर्य की रोशनी नहीं आती है तो नकारात्मकता बनी रहती है।

3. अगर संभव हो तो प्रवेश द्वार पर लकड़ी की थोड़ी ऊंची दहलीज जरूर बनवाएं। इससे बाहर का कचरा अंदर आने से रुकेगा। कचरा भी वास्तु दोष बढ़ाता है।

4. मुख्य द्वार पर गणेशजी की मूर्ति या तस्वीर लगानी चाहिए। दरवाजे पर ऊँ भी लिख सकते हैं। इन शुभ चिह्नों से घर में सकारात्मकता बनी रहती है। दरवाजे के ठीक सामने फूलों की सुंदर फोटो लगाएं।

5. घर में सूर्यास्त के बाद अंधेरा नहीं रखना चाहिए। कुछ देर के लिए पूरे घर में रोशनी जरूर करनी चाहिए।

6. घर में वाद-विवाद करने से बचना चाहिए। शांति बनाए रखनी चाहिए। किसी भी प्रकार का क्लेश नकारात्मकता बढ़ाता है। इससे मानसिक तनाव बढ़ता है।

7. घर के आस-पास अगर कोई सूखा पेड़ या ठूंठ है तो उसे तुरंत हटा देना चाहिए। इसकी वजह से वास्तु दोष बढ़ते हैं।

8. रोज सुबह जल्दी उठना चाहिए और नहाने के बाद सूर्य को जल जरूर चढ़ाएं। सुबह-शाम घर में कुछ देर मंत्रों का जाप करें। मंत्र जाप से वातावरण में सकारात्मकता बढ़ती है। मन के नकारात्मक विचार दूर होते हैं।