Asianet News HindiAsianet News Hindi

Aaj Ka Panchang 29 जून 2022 का पंचांग: स्नान-दान अमावस्या आज, आर्द्रा नक्षत्र से बनेगा मूसल नाम का अशुभ योग

29 जून 2022, दिन बुधवार को आषाढ़ मास की स्नान-दान अमावस्या है। इस दिन सूर्योदय आर्द्रा नक्षत्र में होगा, जो रात को लगभग 9.20 तक रहेगा। बुधवार को आर्द्रा नक्षत्र होने से मूसल नाम का अशुभ योग इस दिन बन रहा है।   
 

jyotish aaj ka panchang 29 June 2022 panchang daily panchang MMA
Author
Ujjain, First Published Jun 29, 2022, 5:30 AM IST

उज्जैन. पंचांग का शाब्दिक अर्थ है पंच+अंग= पांच अंग यानी पंचांग। इसे हिंदू कैलेंडर कहें तो ज्यादा ठीक रहेगा। इसके पांच अंगर इस प्रकार हैं- तिथि, वार, नक्षत्र, योग और करण। इसकी गणना के आधार पर हिंदू पंचांग की 3 धाराएं हैं- पहली चंद्र आधारित, दूसरी नक्षत्र आधारित और तीसरी सूर्य आधारित। पंचांग का ज्योतिष शास्त्र में बहुत महत्व है। इसी के माध्यम से दिन भर के शुभ मुहूर्त, राहुकाल और दिशा शूल के बारे में जानकारी मिलती है। आगे जानिए आज के पंचांग से जुड़ी खास बातें…

स्नान-दान अमावस्या आज
29 जून, बुधवार को आषाढ़ मास की स्नान-दान अमावस्या है। इस दिन पवित्र नदी में स्नान करना चाहिए और जरूरतमंदों को दान करने का विशेष महत्व है। अगर किसी कारणवश नदी में स्नान नहीं कर पाएं तो घर पर ही नहाने के पानी में गंगाजल या किसी अन्य पवित्र नदी का जल मिलाकर स्नान करना चाहिए। इसके बाद जरूरतमंदों को कच्चा अनाज, कपड़े, बर्तन व अन्य चीजों का दान करना चाहिए।

29 जून का पंचांग (Aaj Ka Panchang 29 June 2022)
29 जून 2022, दिन बुधवार को आषाढ़ मास की स्नान-दान अमावस्या है। इस दिन पवित्र नदी में स्नान कर जरूरतमंदों को दान करने का विशेष महत्व है। इस दिन सूर्योदय आर्द्रा नक्षत्र में होगा, जो रात को लगभग 9.20 तक रहेगा। बुधवार को आर्द्रा नक्षत्र होने से मूसल नाम का अशुभ योग इस दिन बन रहा है। इस दिन राहुकाल दोपहर 12:30 से 02:10 तक रहेगा। इस दौरान कोई भी शुभ काम न करें।   

ग्रहों की स्थिति कुछ इस प्रकार से होगी...
बुधवार को चंद्रमा मिथुन राशि में, मंगल और राहु मेष राशि में, सूर्य मिथुन राशि में, बुध और शुक्र वृषभ राशि में, केतु तुला राशि में, गुरु मीन में और शनि कुंभ राशि में रहेंगे। मंगलवार को उत्तर दिशा की यात्रा नहीं करनी चाहिए। यदि निकलना पड़े तो गुड़ खाकर यात्रा पर जाना चाहिए।

29 जून के पंचांग से जुड़ी अन्य खास बातें
विक्रम संवत- 2079
मास पूर्णिमांत- आषाढ़
पक्ष- कृष्ण
दिन- बुधवार
ऋतु- वर्षा
नक्षत्र- आर्द्रा 
करण- नाग और किस्तुघन
सूर्योदय - 5:48 AM
सूर्यास्त - 7:12 PM
चन्द्रोदय - 5:35 AM
चन्द्रास्त - 7:44 PM
अभिजीत मुहूर्त- इस दिन अभिजीत मुहूर्त नहीं है।

29 जून का अशुभ समय (इस दौरान कोई भी शुभ काम न करें)
यम गण्ड - 7:28 AM – 9:09 AM
कुलिक - 10:49 AM – 12:30 PM
दुर्मुहूर्त - 12:03 PM – 12:57 PM
वर्ज्यम् - 11:38 AM – 01:26 PM

छठा करण है वणिज, ऐसे होते हैं इसमें जन्में लोग
सूर्य से 12 अंशों की दूरी पर तिथि बनती है तथा सूर्य से छ: अंशों की दूरी पर करण बनता है। इस प्रकार एक तिथि में दो करण होते है। करण ज्योतिष शास्त्र में पंचाग का भाग है व इसे मुहूर्त कार्यों में प्रयोग किया जाता है। इनकी संख्या 11 बताई गई है। इनमें 
वणिज छठा है। वणिज करण को सामान्य माना गया है। वणिज करण में जन्में लोग अधिक सोच विचार करने वाले और युक्ति से काम निकालने की इच्छा रखने वाले होते हैं। ऐसा व्यक्ति विद्वान लोगों के साथ रहता है और परिवार की जिम्मेदारी निभाने में विश्वास रखता है।


ये भी पढें...

Angarak Yoga 2022: मंगल के राशि परिवर्तन से बना अशुभ योग, किस राशि पर कैसा होगा असर? जानिए राशिफल से

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios