उज्जैन. साल शनि 33 दिन तक अस्त रहेगा, वहीं 141 दिनों तक वक्री भी रहेगा। शनि का सीधा असर 7 राशियों पर रहेगा। इनमें से 3 पर साढ़ेसाती, 2 पर ढय्या और अन्य 2 राशियों पर शनि की दृष्टि बनी रहेगी।

शनि का अस्त होना शुभ

- इस साल 12 जनवरी से 14 फरवरी तक शनि मकर राशि में अस्त रहेगा। इन 33 दिनों में सूर्य और शनि एक ही राशि में रहेंगे।
- ज्योतिष ग्रंथों में शनि का अस्त होना शुभ माना गया है। अस्त हो जाने से शनि के अशुभ असर में कमी आएगी।
- ये दिन साढ़ेसाती वाले लोगों के लिए अच्छे कहे जा सकते हैं। यानी धनु, मकर और कुंभ राशियों के लोगों पर शनि का अशुभ असर कम हो जाएगा।
- वहीं ढय्या से पीड़ित कर्क और तुला राशि वालों के लिए भी राहत वाला समय हो सकता है।

शनि के वक्री चाल से बढ़ सकती हैं मुश्किलें

- 23 मई से 11 अक्टूबर तक शनि मकर राशि में ही वक्री रहेगा। वक्री यानी पृथ्वी से इस तरह दिखेगा जैसे बहुत ही धीमा या पीछे की ओर चल रहा हो।
- 141 दिनों तक शनि की ऐसी स्थिति का असर भी सभी राशियों पर पड़ेगा। शनि के वक्री होने से कई लोगों को नुकसान हो सकता है।
- लेकिन साढ़ेसाती और ढय्या वाली राशियों पर खासतौर से इसका असर देखने को मिलेगा। इन राशियों के लोगों की परेशानियां बढ़ सकती है। इन दिनों चोट, दुर्घटना और धन हानि के भी योग बनेंगे।

7 राशियों पर शनि का सीधा असर

- धनु राशि वालों पर साढ़ेसाती के आखिरी ढाई साल चल रहे हैं। इसलिए इन राशियों के लोगों को इस साल पदोन्नति, पैसा और प्रॉपर्टी मिलने के योग बन रहे हैं। शनि के शुभ प्रभाव से इन राशियों के लोगों के लिए समय अच्छा कहा जा सकता है।
- मकर राशि में ही शनि होने से इस राशियों के लोगों पर साढ़ेसाती के बीच के ढाई साल चल रहे हैं। इसलिए इन दिनों मकर राशि वाले लोगों की मेहनत और दौड़-भाग बढ़ेगी। साथ ही मानसिक तनाव के साथ सेहत संबंधी परेशानी भी बनी रहेगी।
- कुंभ राशि वाले लोगों पर साढ़ेसाती शुरू ही हुई है। ये साढ़ेसाती का दूसरा साल है। इसलिए संभलकर रहना होगा। शनि के कारण धन हानि, नौकरी ओर बिजनेस में नुकसान के साथ अनचाहे बदलाव हो सकते हैं। विवाद और हड्‌डी की चोट की आशंका भी है। इस राशि के लोग कर्ज से भी परेशान हो सकते हैं।
- इस साल कर्क और तुला राशि पर शनि की ढय्या रहेगी। इसलिए इन राशियों के लोगों को भी संभलकर रहना होगा। शनि की वजह से धन हानि, नौकरी और बिजनेस में बदलाव, विवाद और बीमारियों से परेशानी हो सकती है। इस कारण इन राशियों के लोगों को भी संभलकर रहना होगा।
- मेष, कर्क और तुला राशि पर शनि की दृष्टि रहेगी। इन 3 राशियों को भी इस साल संभलकर रहना होगा। सोचे हुए काम पूरे होने में तय समय से ज्यादा देरी हो सकती है। मेहनत ज्यादा और उसका फायदा कम मिलेगा। तनाव और दौड़-भाग रहेगी। कामकाज में रुकावटें भी आएंगी।