उज्जैन. हाथों की रेखाओं के अध्ययन से किसी भी व्यक्ति का स्वभाव मालूम हो सकता है। व्यक्ति के भूत, भविष्य और वर्तमान, तीनों कालों की जानकारी प्राप्त की जा सकती है। करियर से जुड़ी बातें भी हस्तरेखा से मालूम हो जाती है। यहां जानिए हथेली के कुछ विशेष योग होते हैं जो बताते हैं कि व्यक्ति डॉक्टर या वैद्य बनेगा या नहीं...

1. जिस व्यक्ति के हाथ के मंगल व बुध पर्वत उच्च हों, उंगलियां लंबी, आगे से गोल, पतली या चपटी हो, साथ ही सभी उंगलियों का द्वितिय भाग भरा हुआ दिखाई दे रहा हो और बुध पर्वत पर तीन-चार खड़ी रेखाएं हो, हथेली मजबूत हो, सूर्य रेखा तथा मस्तिष्क रेखा भी गहरी हो तो व्यक्ति वैद्य या डॉक्टर बनता है।

2. जिस व्यक्ति के हाथ में चंद्र पर्वत उच्च और मोटा हो तथा सूर्य रेखा स्पष्ट, शुभ हो तो व्यक्ति नाड़ी विशेषज्ञ होता है।

3. जिस व्यक्ति के हाथ में सूर्य रेखा श्रेष्ठ हो, बुध पर्वत उच्च हो और उस पर छोटी-छोटी तीन खड़ी रेखाएं हों, उंगलियां लंबी हों, उंगलियों का प्रथम भाग भी भरा हुआ हो, हृदय रेखा, मस्तिष्क रेखा भी श्रेष्ठ हो, चंद्र और शुक्र पर्वत समान हो तो व्यक्ति किसी विशेष रोग का विशेषज्ञ होता है।

4. जिस व्यक्ति के हाथ का मध्य भाग भरा हुआ हो, उंगलियों का आगे वाला भाग मोटा हो तथा सूर्य रेखा भी श्रेष्ठ हो तो व्यक्ति पशु चिकित्सक बनता है।