Asianet News HindiAsianet News Hindi

580 साल बाद सबसे लंबा चंद्रग्रहण 19 नवंबर को, पृथ्वी की छाया से 97 प्रतिशत ढंक जाएगा चंद्रमा

19 नवंबर, शुक्रवार को खंडग्रास चंद्रग्रहण होने वाला है। ज्योतिषियों की माने तो ये 580 साल का सबसे लंबा चंद्रग्रहण होगा। हालांकि ये ग्रहण भारत के कुछ ही हिस्सों में दिखाई देगा, इसलिए यहां इसका कोई खास धार्मिक महत्व नहीं रहेगा। जिन इलाकों में ये ग्रहण दिखाई देगा, सिर्फ वहीं इसकी सूतक संबंधी मान्यता रहेगी।

Lunar Eclipse 2021 on 19th November going to happen after 580 years astrology jyotish know this eclipse effect on zodiac signs MMA
Author
Ujjain, First Published Nov 15, 2021, 5:15 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. 19 नवंबर को होने वाला ग्रहण उत्तरी व दक्षिणी अमेरिका, पूर्वी एशिया, ऑस्ट्रेलिया और प्रशांत क्षेत्र से देखा जा सकेगा। भारत के अरुणाचल प्रदेश और असम के कुछ क्षेत्रों में चंद्रोदय के ठीक बाद आंशिक ग्रहण के अंतिम क्षणों का अनुभव होगा, जो पूर्वी क्षितिज के बहुत करीब रहेगा। इस दौरान चंद्रमा रक्तिम लाल रंग का दिख सकता है जो कि तब होता है जब सूर्य की किरणें पृथ्वी के वातावरण से होकर जाती हैं और चंद्रमा की सतह पर कम से कम विक्षेपित होकर गिरती हैं।

580 साल का सबसे लंबा ग्रहण
ज्योतिषियों के अनुसार, चंद्रग्रहण की शुरुआत 19 नवंबर, शुक्रवार की दोपहर 12.38 से होगी और यह 04.17 बजे समाप्त होगा। इसकी अवधि तीन घंटे 28 मिनट 24 सेकंड रहेगी, जो इसे 580 साल में सबसे लंबा आंशिक चंद्र ग्रहण बनाता है। चंद्रग्रहण दोपहर 02.34 पर अपने चरम पर होगा जब चंद्रमा का 97 फीसदी हिस्सा पृथ्वी की छाया से ढका होगा। पिछली बार इस अवधि का आंशिक चंद्र ग्रहण 18 फरवरी 1440 को हुआ था। वहीं, इस अवधि का अगला ग्रहण 8 फरवरी 2669 को देखा जा सकेगा। 

चंद्र ग्रहण का राशियों पर प्रभाव
उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. सचिन जोशी के अनुसार, साल का आखिरी चंद्रग्रहण वृषभ और कृतिका नक्षत्र में लगेगा। इस राशि के लोगों को खास सावधानी रखनी होगी, नहीं तो कोई घटना-दुर्घटना हो सकती है। ये ग्रहण का कुछ राशियों पर अच्छा तो कुछ के लिए अशुभ रहेगा। ज्योतिष गणना के अनुसार तुला, कुंभ और मीन राशि वालों के लिए यह चंद्र ग्रहण शुभ परिणाम लेकर आने वाला होगा। इस राशि के लोगों को करियर में अच्छे मौके मिल सकते हैं। परेशानियों में कमी आएगी। पुराने विवाद खत्म होंगे। वहीं दूसरी तरफ ग्रहण के कारण मेष, वृषभ, सिंह और वृश्चिक राशि वालों को कुछ छोटी-मोटी परेशानियां आ सकती हैं। इनके अलावा अन्य राशियों मिथुन, कर्क, कन्या, धनु और मकर राशि वालों के लिए ये ग्रहण मिश्रित फल देने वाला रहेगा।  

ये भी पढ़ें

19 नवंबर को चंद्र और 4 दिसंबर को होगा सूर्यग्रहण, लगातार 2 ग्रहण से आ सकती हैं प्राकृतिक आपदाएं

19 नवंबर को वृषभ राशि में होगा साल का अंतिम चंद्रग्रहण, अशुभ फल से बचने के लिए ये उपाय करें

साल का अंतिम चंद्रग्रहण 19 नवंबर को, भारत के कुछ हिस्सों में देगा दिखाई, ग्रहण के बाद करें ये काम

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios