उज्जैन. कई बार घर की दीवारों पर कुछ अनचाहे पेड़-पौधे उग जाते हैं। इनसे घर की खुबसूरती पर भी असर पड़ता है, साथ ही ये पेड़- पौधे दीवारों को भी कमजोर करते हैं। इसलिए इन पेड़-पौधों को हटा दिया जाता है। इन पेड़-पौधों में पीपल भी शामिल है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्ट के अनुसार, धर्म ग्रंथों में पीपल को बहुत पवित्र माना गया है, इसलिए इसे हटाने से दोष लगता है। इस दोष से बचने के लिए कुछ आसान उपाय किए जा सकते हैं, जो इस प्रकार हैं…

1. अगर आपने पीपल का पेड़ घर की दीवार से हटाया है तो उसके स्थान पर किसी दूसरी जगह पीपल का पौधा लगा दें। इससे आप दोष के अशुभ फल से बच सकते हैं।
2. पीपल में भगवान विष्णु का वास माना जाता है। इसलिए इस दोष से बचने के लिए रोज भगवान विष्णु की पूजा करें और तुलसी की माला से नीचे लिखे मंत्र का जाप करें- ऊं नमो वासुदेवाय नम:
3. पीपल की पूजा से शनिदेव प्रसन्न होते हैं। पीपल को नष्ट करने से शनि दोष बढ़ता है। इससे बचने के लिए शनिदेव की पूजा करें और पीपल पर जल चढ़ाएं। साथ ही सरसों के तेल का दीपक भी लगाएं।
4. पीपल की पूजा से पितृ भी प्रसन्न होते हैं। इसे नष्ट करने से पितृ दोष भी लगता है। इस दोष के अशुभ फल से बचने के लिए प्रत्येक अमावस्या को पितरों की आत्मा की शांति के लिए घर पर ही पूजा करें। साथ ही हर अमावस्या पर पीपल पर जल चढ़ाएं।
5. महामृत्युंजय मंत्र के जाप से भी पीपल को नष्ट करने के दोष से मुक्ति मिल सकती है। अगर आप स्वयं इस मंत्र का जाप नहीं कर सकते तो किसी योग्य ब्राह्मण से भी करवा सकते हैं।