Asianet News Hindi

15 से 25 जून के बीच चार ग्रहों की चाल में होगा बदलाव, किस राशि पर कैसा होगा असर?

ज्योतिषीय नजरिये से जून का तीसरा और चौथा सप्ताह सभी राशियों के लिए खास रहेगा। 15 से 25 जून के बीच 4 ग्रहों की चाल में बदलाव होने वाला है। जिसका असर सभी राशियों पर पड़ेगा। 

There will be a change in the movement of four planets from June 15 to 25, how will it affect the zodiac signs? KPI
Author
Ujjain, First Published Jun 12, 2020, 12:30 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. काशी के ज्योतिषाचार्य पं. गणेश मिश्र के अनुसार इन 10 दिनों के दौरान ग्रहों की चाल में बदलाव होने से 8 राशियों के लिए अच्छे समय की शुरुआत हो सकती है। इनके अलावा 4 राशि वालों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। ज्योतिषाचार्य पं. मिश्रा ने बताया कि मंगलवार, 9 जून को शुक्र वृष राशि में उदय हो गया है, लेकिन अभी भी वक्री स्थिति में है। ऐसी स्थिति में इस ग्रह का अशुभ फल कम हो जाता है। अगले सप्ताह 15 जून को सूर्य मिथुन राशि में प्रवेश करेगा। इसके 2 दिन बाद यानी 18 तारीख को मंगल का राशि परिवर्तन होगा और इसी दिन बुध भी मिथुन राशि में वक्री हो जाएगा। फिर 20 जून को बुध अस्त भी हो जाएगा। जून के आखिरी सप्ताह में शुक्र अपनी ही राशि में मार्गी हो जाएगा।

कैसा रहेगा इन ग्रहों का असर?
मेष, वृष, मिथुन, सिंह, कन्या, तुला, मकर और कुंभ राशि वाले लोगों के लिए समय अच्छा रहेगा। जून में 4 ग्रहों की चाल में बदलाव होने से इन 8 राशि वाले लोगों को धन लाभ, तरक्की और बिजनेस में फायदा मिल सकता है। इनके अलावा कर्क, वृश्चिक, धनु और मीन राशि वाले लोगों को जॉब और कारोबार में संभलकर रहना होगा। मेहनत ज्यादा होगी और उसका फायदा नहीं मिल पाएगा। तनाव, नुकसान और विवाद होने की संभावना बन रही है। सेहत संबंधी परेशानी भी हो सकती है।

अशुभ असर से बचने के लिए क्या करें?
पं. मिश्र बताते हैं कि ग्रहों के अशुभ असर से बचने के लिए विशेष उपाय किए जा सकते हैं। जिनमें ग्रहों से जुड़ी चीजों का दान, जाप, व्रत और पूजा-पाठ शामिल है। इनके अनुसार गंगाजल में ताजा दूध मिलाकर शिवलिंग पर चढ़ाने से हर ग्रह का अशुभ असर कम हो जाता है। सुबह जल्दी उठकर सूर्य को जल चढ़ाना चाहिए। इसके बाद दूध और पानी मिलाकर पीपल के पेड़ में चढ़ाना चाहिए। जॉब, बिजनेस, सेहत और दांपत्य जीवन की परेशानियों को दूर करने के लिए महामृत्युंजय मंत्र का जाप करना चाहिए।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios