Asianet News Hindi

12 में से ये 4 राशियां होती हैं सबसे ज्यादा भाग्यशाली, जानिए इनके बारे में खास बातें

ज्योतिष के अनुसार व्यक्ति के जन्म के समय चंद्र जिस राशि में रहता है, वही उस व्यक्ति की नाम राशि होती है। इसे चंद्र राशि भी कहा जाता है। चंद्र राशि के अनुसार सभी 12 राशियों के लिए अलग-अलग नाम अक्षर बताए गए हैं।

These 4 zodiac signs out of 12 are the most fortunate, know special things about them KPI
Author
Ujjain, First Published Jun 29, 2020, 10:43 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. नाम के पहले अक्षर से व्यक्ति की राशि मालूम हो सकती है, उससे भविष्य और स्वभाव की जानकारी मिल जाती है। सभी लोगों का स्वभाव और भविष्य अलग-अलग होता है, लेकिन कुछ राशियां ऐसी हैं जो अन्य राशियों से ज्यादा ताकतवर और भाग्यशाली होती हैं। यहां जानिए उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार सबसे खास 4 राशियां, जो अन्य राशियों से अलग हैं...

मेष राशि ( नाम अक्षर- चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ)
ये राशि चक्र की पहली राशि है। इस राशि का स्वामी मंगल है। मंगल ग्रहों का सेनापति है। इस कारण मेष राशि के लोग में नेतृत्व करने में क्षमता अद्भुत होती है। इस क्षमता के कारण ये लोग दूसरी राशियों से ज्यादा ताकतवर रहते हैं। मंगल इन्हें मदद करता है। ये लोग मेहनत के साथ ही नेतृत्व क्षमता के कारण सफल होते हैं और भाग्यशाली कहलाते हैं।

वृश्चिक राशि (नाम अक्षर- तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)
मेष राशि की तरह ही वृश्चिक राशि का स्वामी भी मंगल ही है। मंगल के कारण ये राशि साहसी होती है। इस राशि के लोग किसी भी काम में जोखिम लेने से नहीं डरते। अपना काम ईमानदारी से करते हैं। अपनी मेहनत से अन्य राशियों से ज्यादा शक्तिशाली बन जाते हैं। ये लोग अच्छे योजनाकार होते हैं। अपनी योजनाओं से सफल होते हैं।

मकर राशि (नाम अक्षर- भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी)
ग्रहों में शनि का सबसे अलग स्थान है। ये ग्रहों का न्यायाधीश है। मकर राशि का स्वामी शनि ही है। इस वजह से मकर राशि के लोगों पर शनिदेव की विशेष कृपा रहती है। इस राशि के लोग आत्मविश्वास से भरपूर होते हैं। शनि इन्हें अच्छी नेतृत्व क्षमता देता है। कड़ी मेहनत और आत्मविश्वास के बल पर हर काम में उपलब्धियां हासिल करते हैं।

कुंभ राशि (नाम अक्षर- गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)
ये राशि चक्र की ग्यारहवीं राशि है। इसका स्वामी भी शनि ही है। शनि को कर्मफल दाता कहा जाता है यानी यही ग्रह हमारे कर्मों का फल प्रदान करता है। अगर कुंभ राशि के लोग ईमानदारी से काम करते हैं तो शनि भरपूर साथ देता है और अपने कार्य क्षेत्र में उच्च शिखर तक पहुंचाता है। कुंभ राशि वाले सोचते ज्यादा हैं और सही योजना बनाते हैं। ये बुद्धिमान होते हैं और हालातों को बहुत जल्दी समझ लेते हैं। इस कारण अन्य राशियों ज्यादा ताकतवर बनकर उभरते हैं।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios