उज्जैन. ज्योतिष के मुताबिक कुंडली के कुछ खास योग होते हैं, जिनसे मालूम हो सकता है कि व्यक्ति कभी विदेश यात्रा कर पाएगा या नहीं। आज हम आपको उन्हीं योगों के बारे में बता रहे हैं, जो इस प्रकार है-

1. कुंडली के बारहवें भाव से ये मालूम हो जाता है कि किसी व्यक्ति के जीवन में विदेश यात्रा के योग हैं या नहीं, यदि योग हैं तो व्यक्ति कब विदेश जाएगा।
2. कुंडली का बारहवां भाव अगर शुभ है तो व्यक्ति धन कमाने के लिए विदेश यात्रा करता है। बलवान 12वें भाव की वजह से व्यक्ति आय और व्यय में उचित तालमेल बनाए रखता है।
3. यदि कुंडली का बारहवां भाव के कमजोर है तो व्यक्ति आसानी जॉब प्राप्त नहीं कर पाता है, जॉब मिलती है तो सफल होने के लिए कड़ी मेहनत करना पड़ती है।
4. यदि किसी व्यक्ति के लिए अपने परिवार से दूर होने का योग है तो वह भी 12वें भाव से मालूम हो जाता है।
5. कुंडली के अष्टम भाव का संबंध 12वें भाव से होता है तो व्यक्ति विदेश यात्रा करता है।