Asianet News HindiAsianet News Hindi

मेडिकल कॉलेज में इंसान ने किया जानवरों सा काम, 10 कुत्तों और 2 पिल्लों को मारी गोली, बाइक से बांध घसीटा लाश

आंध्र प्रदेश राजमुंदरी में स्थित जीएसएल मेडिकल कॉलेज में 10 कुत्तों और 2 पिल्लों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। कुत्तों के शवों को बाइक से बांधकर घसीटा गया। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।

10 dogs 2 puppies shot dead in Andhra Pradesh medical college vva
Author
First Published Oct 31, 2022, 2:49 PM IST

राजमुंदरी। आंध्र प्रदेश के एक प्राइवेट मेडिकल कॉलेज में इंसानों ने ऐसी वहशी हरकत को अंजाम दिया है, जैसा कोई जानवर भी नहीं करता। यहां दस कुत्तों और दो पिल्लों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इसके बाद कुत्तों के शवों को बाइक से बांधकर घसीटा गया। 

घटना राजमुंदरी की है। रविवार को शहर के बाहर इलाके में स्थित जीएसएल मेडिकल कॉलेज में कुत्तों को मारा गया। इसके बाद उनके लाशों को बाइक से घसीटकर फेंका गया। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मामला पुलिस तक पहुंचा। पुलिस ने कॉलेज के कैंपस से कुत्तों के शव बरामद किए हैं। 

कॉलेज में कई साल से कुत्तों को मार रहा था शूटर
वीडियो वायरल होने के बाद पशु प्रेमियों ने राजानगरम पुलिस स्टेशन में शिकायत दी थी। इसके बाद पुलिस ने कॉलेज प्रबंधन और शूटर के खिलाफ आर्म्स एक्ट और आईपीसी की धारा 11 (पशु क्रूरता निवारण अधिनियम) के तहत केस दर्ज किया। पुलिस ने एक शूटर को हिरासत में लेकर पूछताछ की है। वह व्यक्ति कुत्तों को मारने के लिए कॉलेज कैम्पस में आया था। उसने कहा कि वह कॉलेज के छात्रों को कुत्तों और बंदरों से काफी परेशानी होती है। इसके चलते वह कई सालों से यहां कुत्तों को मारने आ रहा है। 

यह भी पढ़ें- बुंदेलखंड में अब सुनाई देगी बाघों की दहाड़, 529 वर्ग किलोमीटर में बना UP का चौथा रानीपुर टाइगर रिजर्व

गैरकानूनी है कुत्तों को मारना 
राजानगरम के पुलिस इंस्पेक्टर कासी विश्वनाथ ने कहा कि कुछ लोगों ने देसी बंदूक से 10 कुत्तों और दो पिल्लों की गोली मारकर हत्या कर दी थी। सोसायटी फॉर प्रिवेंशन ऑफ क्रुएल्टी टू एनिमल्स, ईस्ट गोदावरी के कार्यकारी सचिव विजय किशोर ने थाने में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने शूटरों और कॉलेज के मैनेजमेंट के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। कुत्तों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए पशु चिकित्सालय भेज दिया गया है। कुत्तों को मारना गैरकानूनी है। अगर आवारा कुत्तों से समस्या होती है तो उन्हें स्थानीय निकाय अधिकारियों को सौंपना चाहिए था।

यह भी पढ़ें- Girlfriend ऐसा भी षड्यंत्र रचेगी, प्रेमी ने सपने में भी नहीं सोचा होगा, केरल की चौंकाने वाली मर्डर मिस्ट्री

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios