Asianet News HindiAsianet News Hindi

श्रद्धा से बेटे की शादी कराना चाहते थे आफताब के घरवाले, आखिर क्यों पीड़िता ने वापस ली थी पुलिस कम्प्लेंट

श्रद्धा वालकर मर्डर केस में नए-नए राज सामने आ रहे हैं। हाल ही में श्रद्धा द्वारा 2 साल पहले यानी नवंबर, 2020 में आफताब के खिलाफ पुलिस को लिखी गई शिकायती चिट्ठी सामने आई। ये चिट्ठी श्रद्धा ने पालघर जिले में स्थित तुलिंज थाने में दी थी। हालांकि, अब इसे लेकर एक नया खुलासा हुआ है।

Aftab family wanted to get their son married to Shraddha Walker kpg
Author
First Published Nov 23, 2022, 9:00 PM IST

Shraddha Murder Case: श्रद्धा वालकर मर्डर केस में नए-नए राज सामने आ रहे हैं। हाल ही में श्रद्धा द्वारा 2 साल पहले यानी नवंबर, 2020 में आफताब के खिलाफ पुलिस को लिखी गई शिकायती चिट्ठी सामने आई। ये चिट्ठी श्रद्धा ने पालघर जिले में स्थित तुलिंज थाने में दी थी। हालांकि, अब इसे लेकर एक नया खुलासा हुआ है। ये खुलासा उसी चिट्ठी से हुआ, जो श्रद्धा ने आफताब के खिलाफ लिखी थी। इस चिट्ठी में इस बात का जिक्र है कि आफताब के घरवाले अपने बेटे की शादी श्रद्धा से करवाने के लिए राजी थे।

श्रद्धा ने बाद में वापस ले ली थी शिकायत : 
श्रद्धा ने नवंबर, 2020 में तुलिंज थाने में एक शिकायती चिट्ठी दी थी। इसके बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी थी। हालांकि, कुछ दिनों बाद ही श्रद्धा ने ये कहते हुए अपनी शिकायत वापस ले ली थी कि उसे अब किसी के खिलाफ कोई शिकायत नहीं है। 

गिरफ्तारी के बाद पहली बार दिखा आफताब का चेहरा, न माथे पर शिकन- ना कत्ल का पछतावा

बेटे की शादी श्रद्धा से करने को तैयार थे आफताब के घरवाले : 
तब श्रद्धा ने अपने बयान में कहा था कि आफताब के माता-पिता ने उसे समझाया, जिसके बाद उसने अपनी शिकायत वापस लेने का फैसला किया है। इस शिकायती पत्र में इस बात का भी जिक्र है कि आफताब के माता-पिता अपने बेटे की शादी श्रद्धा से करने के लिए राजी थे। यही वजह है कि उनके समझाने पर श्रद्धा ने अपनी शिकायत वापस ले ली थी। बाद में पुलिस ने 26 दिन के अंदर इस केस को क्लोज कर दिया था। 

लेटर पर गंभीरता से नहीं की गई जांच : 
वहीं, महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस का कहना है कि उन्होंने श्रद्धा वालकर का वो शिकायती पत्र पढ़ा है। ये काफी गंभीर मामला था, लेकिन पुलिस ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। अगर समय रहते एक्शन लिया जाता तो शायद आज श्रद्धा जिंदा होती। इस मामले की जांच होनी चाहिए कि कार्रवाई क्यों नहीं की गई। 

श्रद्धा का कत्ल करने के बाद कहां फेंके हथियार, पूछताछ में आफताब ने उगला हत्या से जुड़ा एक बड़ा राज

आफताब को जरा भी नहीं कत्ल का पछतावा : 
बता दें कि रोहिणी स्थित फॉरेंसिक लैब में आफताब के पॉलीग्राफ टेस्ट की प्रॉसेस शुरू हो चुकी है। इस दौरान आफताब का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें गिरफ्तारी के बाद पहली बार उसका चेहरा दिखा। इस वीडियो में आफताब के माथे पर न तो किसी तरह की कोई शिकन दिखी और ना ही उसे देखकर ये लग रहा है कि उसे श्रद्धा का कत्ल करने का कोई पछतावा है।

क्या है पूरा मामला :  
महाराष्ट्र में वसई के रहने वाले आफताब अमीन पूनावाला ने 18 मई, 2022 को दिल्ली के महरौली स्थित एक फ्लैट में अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वालकर की हत्या कर दी थी। हत्या के बाद उसने लाश के 35 टुकड़े किए और उन्हें एक फ्रिज में छुपा दिया। बाद में वो लाश के एक-एक टुकड़े महरौली के जंगल में अलग-अलग जगहों पर फेंकता रहा। बता दें कि श्रद्धा से आफताब की पहली मुलाकात मुंबई में एक डेटिंग ऐप के जरिए हुई थी। इसके बाद दोनों करीब आए और कुछ महीनों बाद लिव-इन में रहने लगे। मार्च 2022 में आफताब श्रद्धा को लेकर दिल्ली शिफ्ट हो गया, जहां उसने उसका कत्ल कर दिया। 

ये भी देखें : 

..तो क्या श्रद्धा का सिर काट आफताब ने इस जगह फेंका? दिल्ली के इस इलाके में तलाश रही पुलिस

कत्ल से पहले श्रद्धा से दरिंदगी के निशान, वायरल हो रही आफताब की क्रूरता को बयां करती PHOTO

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios