अडानी के शेयरों में Good News के बीच संसद में तू-तू, मैं-मैं, BJP बोली-सरकार नहीं चलने देते, कांग्रेस ने कहा-ये हमें ज्ञान दे रहे

| Feb 07 2023, 01:26 PM IST

Adani issue Budget Session

सार

बजट सत्र(Budget session) के दौरान गौतम अडानी (Gautam Adani) का मामला लगातार तूल पकड़े हुए है। इस मुद्दे को लेकर एक भी दिन लोकसभा-राज्यसभा की कार्यवाही नहीं हो पाई। विपक्ष इस मामले की जांच ज्वाइंट पार्लियामेंट्री कमेटी(JPC) कराने पर अड़ी है।

नई दिल्ली. बजट सत्र(Budget session) के दौरान गौतम अडानी (Gautam Adani) का मामला लगातार तूल पकड़े हुए है। इस मुद्दे को लेकर एक भी दिन लोकसभा-राज्यसभा की कार्यवाही नहीं हो पाई। विपक्ष इस मामले की जांच ज्वाइंट पार्लियामेंट्री कमेटी(JPC) कराने पर अड़ी है। कांग्रेस ने 6 फरवरी को देशव्यापी आंदोलन किया था। वहीं, सदन में भी सरकार के खिलाफ लगातार आक्रामक है। इस बीच अडानी के शेयरों में फिर उछाल देखने को मिल रहा है। अडानी ग्रुप की लगभग सभी कंपनियों के शेयरों में जारी गिरावट पर अब विराम लग गया है। यही नहीं, अडानी पोर्ट और अडानी एंटरप्राइजेज के शेयर में 20 प्रतिशत तक उछाल आ गया है। बता दें कि 24 जनवरी 2023 को अमेरिकी रिसर्च फर्म हिंडनबर्ग की रिपोर्ट (Hindenburg Report) पब्लिश होने के बाद अडानी ग्रुप के शेयर लगातार गिरे थे। पढ़िए पूरी डिटेल्स..

पहली तस्वीर-भाजपा संसदीय दल की बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने यूनियन बजट 2023 के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी।

बजट पर बोले मोदी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि उनकी सरकार द्वारा पेश किए जाने वाले हर बजट में गरीबों का हित केंद्र में रहा है। 1 फरवरी को केंद्रीय बजट पेश किए जाने के बाद भाजपा संसदीय दल की पहली बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि कोई भी इसे चुनावी बजट नहीं कह रहा है, हालांकि यह अगली लोकसभा चुनाव से पहले आखिरी पूर्ण बजट था। उन्होंने कहा कि समग्र विकास और समाज के हर वर्ग के हितों ने इसके प्रस्तावों को संचालित किया है।

केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने सांसदों को मोदी के भाषण का हवाला देते हुए संवाददाताओं से कहा कि यहां तक कि जो लोग वैचारिक रूप से भाजपा के विरोधी रहे हैं, उन्होंने भी बजट का स्वागत किया है।

प्रधान मंत्री ने सांसदों, विशेष रूप से शहरों के सांसदों से खेल बैठकें आयोजित करने के लिए कहा, यह देखते हुए कि एक राय है कि वहां के युवा खेलों में ज्यादा शामिल नहीं हैं।

उन्होंने कहा कि विभिन्न जी20 बैठकों के लिए भारत आने वाले विदेशी मेहमानों ने जिस तरह से उन्हें आयोजित किया है, उसकी सराहना की है।

अपने संबोधन में प्रधान मंत्री ने तुर्की और सीरिया में आए विनाशकारी भूकंप के बारे में भी बात की और कहा कि भारत हर संभव सहायता प्रदान कर रहा है। उन्होंने कहा कि एक भारतीय टीम पूरी मदद के साथ रास्ते में है।

मोदी ने 2001 में गुजरात में आए भूकंप को भी याद किया, त्रासदी के पैमाने पर ध्यान दिया और वह इन देशों की स्थिति से कैसे संबंधित हो सकते हैं।

पढ़िए ये ताजा अपडेट

हंगामे के चलते लोकसभा और राज्यसभा दोनों की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। बाद में राज्यसभा की कार्यवाही 2 बजे तके लिए स्थगित कर दी गई। लोकसभा की कार्यवाही जब शुरू हुई, तो फिर हंगामा होने लगा। इसके बाद सदन की कार्यवाही दोपहर 1.30 बजे तक के लिए स्थगित करनी पड़ी।

कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने अडानी मुद्दे पर विस्तृत चर्चा के लिए लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया।

कांग्रेस सांसद रंजीत रंजन ने राज्यसभा में नियम 267 के तहत LIC, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों और वित्तीय संस्थानों द्वारा बाजार में मूल्य खोने वाली कंपनियों में निवेश के मुद्दे पर चर्चा के लिए व्यवसाय निलंबन का नोटिस दिया है।

जब भी राष्ट्रपति का अभिभाषण होता है, तो सबसे पहला काम राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद चर्चा करनी होती है। पहले आप धन्यवाद चर्चा करो फिर आपको जो चर्चा करनी है करो लेकिन आप सदन चलने ही नहीं देते और कहते हैं कि सरकार उत्तर नहीं देती-केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी, सदन के बाहर बोले

ये सत्तारूढ़ पार्टी जो आज ज्ञान दे रही है, जब वे लोग विपक्ष में थे तो सदन को ठप्प करने में माहिर थे। इनके दिग्गज नेता अरूण जेटली और सुषमा स्वराज कहते थे कि सदन को ठप्प करना लोकतंत्र का हिस्सा है। हम मुद्दे पर बात कर रहे हैं, JPC पहले भी हो चुका है। मुझे लगता है कि ममता बनर्जी और अडानी के अच्छे रिश्ते हैं क्योंकि बंगाल में ताजपुर नामक एक पोर्ट बन रहा है। अडानी और मोदी जी के साथ ममता जी के रिश्ते में बदलाव आया है, इसलिए वे आजकल मोदी जी के खिलाफ भी कुछ नहीं बोलती-कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी सदन के बाहर बोले

प्रश्न हमारे नियंत्रण वाले संगठन की विश्वसनीयता का है इसलिए मैंने सेबी के अध्यक्ष को खत लिखा है और कहा कि हिंडनबर्ग ने अपनी रिपोर्ट में जो आरोप लगाए हैं वो सही हैं या गलत उसकी निष्पक्ष जांच होनी चाहिए-कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी सदन के बाहर बोले

 

इससे पहले…

इससे पहले 6 फरवरी को हंगामे के चलते दोपहर 2 बजे जब लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी थी। लेकिन जब फिर कार्यवाही शुरू हुई, तो अडानी मामले को लेकर विपक्ष ने हंगामा जारी रखा। विपक्षी सांसदों की नारेबाजी और हंगामे के चलते दोनों सदनों की कार्यवाही 7 फरवरी सुबह 11 बजे तके लिए स्थगित करनी पड़ी थी।

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे बयान दे चुके हैं कि जो उद्योगपति(अडानी) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करीबी हैं, उनको कुछ बोलना चाहिए, नहीं तो देश की आर्थिक स्थिति बहुत खराब हो जाएगी। इस मुद्दे(अडानी स्टॉक क्रैश) को सदन में चर्चा में लाएंगे और जो कमियां हैं वो हम सरकार को बताएंगे।

बता दें कि बजट सत्र-1 फरवरी को केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने यूनियन बजट 2023-24(Union Budget 2023) पेश किया था। संसद का बजट सत्र 31 जनवरी से शुरू हुआ था। मोदी सरकार 2014 से अब तक 9 बजट पेश कर चुकी है। 2014 में लोकसभा चुनाव हैं, इससे पहले यह उसका 10वां बजट था। सीतारमण ने 1 घंटे 27 मिनट के भाषण में भरोसा दिलाया कि देश की अर्थव्यवस्था सही रास्ते पर है। उज्ज्वल भविष्य की ओर बढ़ रही है।

बजट सत्र-1 फरवरी को केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने यूनियन बजट 2023-24(Union Budget 2023) पेश किया था। संसद का बजट सत्र 31 जनवरी से शुरू हुआ था। मोदी सरकार 2014 से अब तक 9 बजट पेश कर चुकी है। 2014 में लोकसभा चुनाव हैं, इससे पहले यह उसका 10वां बजट था। सीतारमण ने 1 घंटे 27 मिनट के भाषण में भरोसा दिलाया कि देश की अर्थव्यवस्था सही रास्ते पर है। उज्ज्वल भविष्य की ओर बढ़ रही है।

 pic.twitter.com/vO04r5nix3

 

 pic.twitter.com/zXZG4ToWuv

 

यह भी पढ़ें

Budget Session: अडानी मामले में कांग्रेस का देशव्यापी प्रदर्शन, BJP ने कहा-इन्हें संसद चलने देने में कम दिलचस्पी

Budget Session:विपक्ष ने मांगा LIC, SBI आदि में लगे पब्लिक के पैसों का हिसाब-किताब, अडानी मामले की जांच JPC से कराई जाए

अपने निवेशकों को नुकसान से बचाने अडानी ने FPO रद्द करके मार्केट को चौंकाया, बताई ये वजह