Asianet News Hindi

लोकल चुनावों में क्यों फुल फोर्स के साथ मैदान में उतर रही बीजेपी? गृहमंत्री ने दिया जवाब

गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को हैदराबाद निकाय चुनाव के लिए रोड शो किया। रोड शो के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर हैदराबाद निकाय चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के चुनाव जीतने का भरोसा जताया है। इस दौरान उन्होंने हैदराबाद निकाय चुनाव पर बीजेपी के फोकस करने का कारण भी बताया।

Amit Shah Speech hyderabad GHMC Election BJP Road Show Read Full details KPY
Author
New Delhi, First Published Nov 29, 2020, 6:47 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को हैदराबाद निकाय चुनाव के लिए रोड शो किया। रोड शो के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर हैदराबाद निकाय चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के चुनाव जीतने का भरोसा जताया है। इस दौरान उन्होंने हैदराबाद निकाय चुनाव पर बीजेपी के फोकस करने का कारण भी बताया। अमित शाह ने दिया सवाल का जवाब...

हैदराबाद निकाय चुनाव में बीजेपी के दिग्गज नेताओं के उतारे जाने के सवाल पर अमित शाह ने कहा कि 'किसी चुनाव को उनकी पार्टी छोटा नहीं मानती है। कई लोकल चुनाव, नगर निकायों के चुनावों में पार्टी के राष्ट्रीय नेताओं ने हिस्सा लिया है। जहां, जनता हमें मैनडेट देती है, जहां हमारी आइडियोलॉजी का, डेवलेपमेंट का, मोदी के विजन का प्रचार करना होता है हम करते हैं।' 

गृहमंत्री ने आगे कहा कि 'ये हमारा अधिकार है और हम हैदराबाद के चुनाव को छोटा नहीं मानते हैं, जो लोग इसे गली का चुनाव मानते हैं वो लोग गली साफ करना भूल गए हैं। इसलिए, उनको थोड़ी प्रॉब्लम है। गली साफ कर दी होती तो इनको इतनी बड़ी प्रॉब्लम नहीं होती।' 

हमारा इस देश के 17 से ज्यादा राज्यों में शासन है: अमित शाह

अमित शाह ने आगे कहा कि 'भारतीय जनता पार्टी म्यूनिसपल कॉरपोरेशन के चुनाव से सत्ता में आने वाली पार्टी नहीं है। हमारा इस देश के 17 से ज्यादा राज्यों में शासन है। केंद्र में हम कई बार शासन में रहे हैं। हमें देश की जनता जानती है और बार-बार वो वोट भी देती है, जो आरोप लगाते हैं उन्हें आत्मचिंतन करना चाहिए कि उन्होंने क्या किया है।'  

ओवैसी लिखकर दें, रोहिंग्या पर होगा एक्शन: गृहमंत्री

ओवैसी के इस सवाल पर कि हैदराबाद में अवैध बांग्लादेशी और रोहिंग्या रहते हैं तो अमित शाह कार्रवाई क्यों नहीं करते? गृह मंत्री ने कहा कि 'जब कार्रवाई करते हैं तब वो पार्लियामेंट में हायतौबा करते हैं, कितना रोते हैं। हमको अवैध बांग्लादेश और रोहिंग्या के बारे में लिखकर दें, मैं कार्रवाई करता हूं। उनको लिखकर देने के लिए बोल दीजिए। सिर्फ चुनाव में बात करने से नहीं होता है। जब निकालने के लिए पार्लियामेंट में बहस होती है तो कौन इनका पक्ष लेता है। देश की जनता जानती है। सबने लाइव टेलीविजन पर देखा है।'

यह भी पढ़ें: एयर इंडिया चेन्नई से लंदन रूट पर नॉन-स्टॉप फ्लाइट कर सकता है शुरू, जनवरी में मिल सकती है सेवा

तेलंगाना में बीजेपी के पैर जमाने के सवाल पर बोले अमित शाह

तेलंगाना में बीजेपी के पैर जमाने के सवाल पर अमित शाह ने कहा कि 'भारतीय जनता पार्टी विपक्ष का स्थान ले चुकी है। अगले चुनाव में बीजेपी की सरकार निश्चित रूप से बनने वाली है। बीजेपी के सपोर्ट में जनता और पार्टी कार्यकर्ताओं का बड़ा योगदान है। जिस प्रकार केसीआर सरकार चला रहे हैं निश्चित रूप से तेलंगाना में बीजेपी की सरकार बनने वाली है।

हैदराबाद निकाय चुनाव में पोलराइजेशन के टीआरएस के सवाल पर अमित शाह ने कहा कि 'हमने 25 मिनट बात की, इसमें कहीं पोलराइजेशन की क्या बात की। मैंने तो हिंदू-मुस्लिम कुछ बोला ही नहीं। लड़ना नहीं चाहिए किसी से, चुनाव अपने दम पर लड़ना चाहिए।' 

यह भी पढ़ें: चलेंगी ये नई ट्रेनें, 1 दिसंबर से हो रहे चार बड़े बदलाव, पड़ सकती है महंगाई की मार

टीआरएस और मजलिस के बीच गुप्त समझौता है: अमित शाह

प्रेस कॉन्फ्रेंस में अमित शाह ने कहा कि टीआरएस और मजलिस के बीच गुप्त समझौता है हालांकि उन्हें इस समझौते से कोई दिक्कत नहीं है। दिक्कत है कि वो यह छिपकर क्यों करते हैं। कमरे में इलू-इलू करते हैं, खुलेआम क्यों नहीं कह देते कि हां, मजलिस के साथ हमारा रिश्ता है। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल के कारण हैदराबाद और आसपास के इलाके भारत के साथ जुड़े लेकिन जिन्होंने उस दौरान पाकिस्तान जाने की मुहिम चलाई थी ऐसी निजाम संस्कृति से हम हैदराबाद को निजात दिलाना चाहते हैं।
 

यह भी पढ़ें: हैदराबाद निकाय चुनाव : अमित शाह ने दिलाया जीत का भरोसा, कहा- इस बार भाजपा का मेयर होगा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios