Asianet News HindiAsianet News Hindi

Ankita Bhandari Murder: प्रशासन ने मनाया तो माने परिजन,अंकिता का हुआ अंतिम संस्कार

अंकिता भंडारी (Ankita Bhandari Murder Case) की मौत डूबने से हुई थी। पोस्टमार्टम से इसका खुलासा हुआ है। उसके शरीर पर चोट के निशान मिले हैं। ऋषिकेश के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में अंकिता के शव का पोस्टमॉर्टम किया गया। 

Ankita Bhandari died due to drowning had blunt force trauma reveals autopsy vva
Author
First Published Sep 25, 2022, 6:51 AM IST

देहरादून। अंकिता भंडारी हत्याकांड (Ankita Bhandari Murder Case) में शव के पोस्टमार्टम से अहम जानकारी सामने आई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार मौत डूबने के चलते हुई। अंकिता के शरीर पर चोट के निशान थे। इसके चलते कहा जा रहा है कि नहर में धक्का देने से पहले आरोपियों ने अंकिता के साथ मारपीट की थी।

शनिवार को ऋषिकेश के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में चार डॉक्टरों के पैनल ने अंकिता के शव का पोस्टमॉर्टम किया। इसके बाद उसके शव को दाह संस्कार के लिए उसके परिवार को सौंप दिया गया। उत्तराखंड में रिसेप्शनिस्ट के रूप में काम करने वाली 19 साल की अंकिता भंडारी की मौत से उत्तराखंड में आक्रोश है। 

रिसॉर्ट तोड़े जाने पर उठाए सवाल
अंकिता के पिता ने रिसॉर्ट तोड़े जाने को लेकर उत्तराखंड सरकार पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने पूछा है कि सबूत होने पर रिसॉर्ट को क्यों तोड़ा गया? फॉरेंसिक टीम ने रिसॉर्ट जाकर जांच की।मामले की जांच कर रही एसआईटी अंकिता के व्हाट्सएप चैट की भी जांच कर रही है। उसने अपने एक करीबी दोस्त को बताया था कि उससे रिसॉर्ट में ग्राहकों को स्पेशल सर्विस देने की मांग की जा रही थी।

अंकिता का हुआ अंतिम संस्कार
अंकिता भंडारी के परिजनों ने पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट की मांग की है। परिजनों ने पहले कहा था कि रिपोर्ट मिलने पर ही अंतिम संस्कार होगा। पुलिस और प्रशासन द्वारा समझाने पर परिजन माने और अंकिता का अंतिम संस्कार किया गया। अंकिता के पिता ने हत्यारों को फांसी की सजा देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि हत्यारों को फांसी मिलने पर ही मेरी बेटी को न्याय मिलेगा।

अंकिता भंडारी हत्याकांड की जांच कर रही एसआईटी की प्रभारी डीआईजी पीआर देवी ने कहा कि अंकिता के व्हाट्सएप चैट्स की जांच की जा रही है। हमने रिसॉर्ट के हर कर्मचारी को थाने बुलाया है। सबके बयान लेंगे। हम रिसॉर्ट की बैकग्राउंड का पूरा विश्लेषण कर रहे हैं।

पूर्व भाजपा नेता विनोद आर्य के बेटे पुलकित पर लगा है हत्या का आरोप
अंकिता पूर्व भाजपा नेता विनोद आर्य के बेटे पुलकित आर्य के रिसॉर्ट में रिशेप्सनिस्ट थी। आरोप है कि पुलकित ने उसपर रिसॉर्ट आने वाले वीआईपी गेस्ट को एक्स्ट्रा सर्विस देने का दवाब बनाया था। इनकार करने उसने अंकिता की हत्या कर दी। इस मामले में पुलिस ने पुलकित समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। भाजपा ने कार्रवाई करते हुए पूर्व मंत्री विनोद आर्य और पुलकित के भाई अंकित आर्य को पार्टी से निकाल दिया है। सस्पेंड होने के बाद विनोद आर्य ने कहा कि जिला प्रशासन को मामले की जांच करनी चाहिए। अगर हम गलत हैं तो उसके मुताबिक कार्रवाई की जाए।

यह भी पढ़ें- अंकिता भंडारी के व्हाट्सअप में खुलासा, रिसेप्शनिस्ट को 10000 रुपये में कस्टमर्स से सेक्स के लिए करते थे मजबूर

शनिवार सुबह मिला था शव
अंकिता भंडारी पुलकित आर्य के रिसॉर्ट से लापता हुई थी। सोमवार सुबह अंकिता के माता-पिता ने  राजस्व पुलिस चौकी में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई गई थी। पुलकित को पुलिस ने रिसॉर्ट के दो कर्मचारियों के साथ शुक्रवार को रिसेप्शनिस्ट की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। पुलिस हिरासत में पूछताछ के दौरान आरोपी ने कबूल किया कि उन्होंने अंकिता को नहर में धकेल दिया था, जिसके बाद वह डूब गई थी। एसडीआरएफ के जवानों ने शुक्रवार को शव की तलाश की, लेकिन उन्हें कामयाबी नहीं मिली। प्रशासन द्वारा नहर का पानी कम किए जाने के बाद शनिवार सुबह शव बरामद किया गया।

यह भी पढ़ें- अंकिता भंडारी हत्याकांड: पोस्टमार्टम के बाद परिजन ले गए शव, भीड़ ने रिसॉर्ट में लगाई आग, BJP ने की कार्रवाई

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios