Asianet News HindiAsianet News Hindi

केजरीवाल पर चुनावी लाभ के लिए गुजरात पुलिस के इस्तेमाल का आरोप, 30 पूर्व IPS बोले-राष्ट्रपति करें हस्तक्षेप

30 पूर्व आईपीएस ने पत्र में कहा कि गुजरात यात्रा के दौरान ऑटो में सफर करने जा रहे केजरीवाल की सुरक्षा में लगाए गए पुलिसवालों से उनकी बहस हुई। उन्होंने उनकी सुरक्षा में भेजे गए पुलिसवालों पर अशिष्ट टिप्पणी की और उनका मनोबल तोड़ने का प्रयास किया। केजरीवाल ने तालियां बटोरने के लिए पुलिस पर गलत इल्जाम लगाए। 
 

Arvind Kejriwal misusing Gujarat Police for elections, Former IPS Officers writes to President Draupadi Murmu, DVG
Author
First Published Sep 20, 2022, 9:52 PM IST

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर पूर्व आईपीएस अधिकारियों के एक ग्रुप ने गुजरात पुलिस का गलत तरीके से चुनाव में दुरुपयोग करने का आरोप लगाया है। इनका कहना है कि केजरीवाल गुजरात पुलिस की कीमत पर राजनीतिक बढ़त बनाना चाह रहे हैं। इन पूर्व अधिकारियों ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु को पत्र भेजकर इस मामले में हस्तक्षेप की मांग की है। 

30 पूर्व आईपीएस ने पत्र में कहा कि गुजरात यात्रा के दौरान ऑटो में सफर करने जा रहे केजरीवाल की सुरक्षा में लगाए गए पुलिसवालों से उनकी बहस हुई। उन्होंने उनकी सुरक्षा में भेजे गए पुलिसवालों पर अशिष्ट टिप्पणी की और उनका मनोबल तोड़ने का प्रयास किया। केजरीवाल ने तालियां बटोरने के लिए पुलिस पर गलत इल्जाम लगाए। 

क्या है मामला? 

बीते 12 सितंबर को आप नेता व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल राज्य में होने वाले चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे थे। इस दौरान उनको एक ऑटो चालक ने घर पर खाने के लिए आमंत्रित किया था। केजरीवाल को उनके होटल से पिक करने के लिए ऑटो चालक पहुंचा था। गुजरात पुलिस ने सुरक्षा का हवाला देते हुए केजरीवाल को ऑटो से जाने से रोक दिया। इस दौरान केजरीवाल व पुलिसवालों से उनकी बहस हुई। उन्होंने गुजरात पुलिस को फटकार लगाई। हालांकि, बाद में पुलिस ने सुरक्षा के साथ उनको ऑटो में जाने दिया। ऑटो में भी पुलिस गार्ड बैठाए गए और दो पुलिस की गाड़ियों को एस्कोर्ट में लगाया गया।

पूर्व आईपीएस अधिकारियों ने क्या कहा?

पूर्व आईपीएस अधिकारियों ने केजरीवाल को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि अरविंद केजरीवाल गुजरात में अपनी सुरक्षा को लेकर लगातार सवाल उठाते हैं। कई बार वह दिल्ली में अपनी सुरक्षा को लेकर गंभीर सवाल खड़े कर चुके हैं लेकिन गुजरात में आने पर जब पुलिसवाले उनको सुरक्षा दे रहे हैं तो वह सस्ती लोकप्रियता के लिए उसे लेने से इनकार कर रहे हैं। पूर्व अधिकारियों ने कहा कि चुनावी माइलेज के लिए केजरीवाल लगातार पुलिस पर कमेंट कर रहे हैं। राष्ट्रपति इस मामले में हस्तक्षेप करें। 

बीजेपी ने दिल्ली में साधा निशाना

उधर, ऑटो कांड के बाद दिल्ली बीजेपी ने भी अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है। बीजेपी ने यहां उनको पांच ऑटो रिक्शा उपहार में देने की पेशकश की है ताकि वह चल सकें। बीजेपी के नेता रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल के पास 27 गाड़ियों का काफिला है। उनकी सुरक्षा में 200 पुलिसकर्मी तैनात रहते हैं। गुजरात में जाते हैं तो ऑटोरिक्शा में चलने का नाटक करते हैं। उन्होंने कहा कि इसलिए हम उनको ऑटो रिक्शा उपहार में दे रहे हैं ताकि वह यहां भी अपनी यात्रा ऑटो में कर सकें।

आम आदमी ने कहा-गुजरात में भाजपा जा रही तो कर रही बकवास

उधर, पूर्व आईपीएस अधिकारियों के केजरीवाल के खिलाफ पत्र लिखे जाने पर आम आदमी पार्टी ने इस बीजेपी की साजिश बताया है। आप ने कहा कि पत्र लिखने वाले पूर्व अधिकारी बीजेपी प्रायोजित लोग हैं। भाजपा जानती है कि आम आदमी पार्टी लगातार गुजरात में आगे बढ़त बनाए हुए है। घबराई बीजेपी अब अपने स्लीपर सेल्स को आगे कर बदनाम करने और आरोप लगवाने का काम कर रही है। पूर्व आईपीएस अधिकारी बीजेपी से ही जुड़े लोग हैं या उसके लिए काम करते हैं। आगामी चुनावों में गुजरात में भाजपा की संभावनाएं बहुत खराब हैं। उनके अपने नेताओं में किसी जन अपील की कमी है और पूरी तरह से बदनाम हैं। इसलिए भाजपा को अब कुछ सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारियों की मदद लेनी पड़ रही है।

यह भी पढ़ें:

कांग्रेस का अगला अध्यक्ष कौन? अशोक गहलोत-शशि थरूर या फिर राहुल के हाथ में होगी कमान, जानिए क्यों मचा घमासान

पंजाब सीएम भगवंत मान को फ्लाइट से उतारा गया था या नहीं? ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बताया कैसे सामने आएगा सच

यूके के लीसेस्टरशायर में भारतीय समुदाय पर हमला, हिंदू प्रतीकों को तोड़ा गया, See video

जज साहब! मेरी मौत के बाद शव को पत्नी-बेटी और दामाद न छुएं, न अंतिम संस्कार करें

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios