Asianet News HindiAsianet News Hindi

हरियाणा में गैर-BJP दलों की रैली में कांग्रेस शामिल नहीं, नीतीश-लालू ने की दिल्ली में सोनिया गांधी से मुलाकात

कांग्रेस सुप्रीमो सोनिया गांधी से नीतीश कुमार व लालू प्रसाद यादव की मुलाकात को विपक्षी एकता के लिए बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है। 10 जनपथ की इस मीटिंग से विपक्ष को एकमंच पर लाने की दिशा में महत्वपूर्ण उपाय निकल सकते हैं।

Bihar CM Nitish Kumar, Lalu Prasad yadav met Congress Chief Sonia Gandhi at 10 Janpath, DVG
Author
First Published Sep 25, 2022, 8:04 PM IST

Nitish Kumar and Lalu Yadav met Sonia Gandhi: हरियाणा में गैर बीजेपी दलों की रैली के बाद रविवार को विपक्षी एकजुटता के लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने सोनिया गांधी से मुलाकात की है। 2024 के लोकसभा चुनावों के पहले नीतीश कुमार, सभी गैर बीजेपी दलों को एकमंच पर लाने की कवायद कर रहे हैं। रविवार को हरियाणा की रैली में कांग्रेस के किसी प्रतिनिधि के नहीं पहुंचने के बाद दोनों नेताओं ने कांग्रेस सुप्रीमो से मुलाकात की है।

आपसी मतभेदों को खत्म करने के लिए हो रहे प्रयास

कांग्रेस सुप्रीमो सोनिया गांधी से नीतीश कुमार व लालू प्रसाद यादव की मुलाकात को विपक्षी एकता के लिए बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है। 10 जनपथ की इस मीटिंग से विपक्ष को एकमंच पर लाने की दिशा में महत्वपूर्ण उपाय निकल सकते हैं। दरअसल, गैर-बीजेपी दलों के एक मंच पर लाने के प्रयासों को कई क्षेत्रीय दल ही पानी फेर रहे हैं। ममता बनर्जी, केरल के वाम दल वगैरह इस मोर्चा में कांग्रेस के साथ मंच साझा नहीं करना चाहते हैं। जबकि नीतीश कुमार लगातार यह अपील कर रहे कि सभी अपने मतभेद मिटाकर एक साथ आएं ताकि बीजेपी से मुकाबला 2024 में कर सकें बिना वोटबैंक का आपस में बंटवारा किए। बता दें कि बीजेपी से नाता तोड़ने के बाद नीतीश कुमार की सोनिया गांधी से पहली मुलाकात है।

पूर्व उप प्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल की जयंती पर भी एकता की अपील

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को हरियाणा में भी गैर-बीजेपी दलों की एकजुटता की अपील की थी। वह, ताऊ के नाम से लोकप्रिय रहे पूर्व उप प्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल की जयंती पर आयोजित इंडियन नेशनल लोकदल की रैली को संबोधित करने पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि बीजेपी से मुकाबला करने के लिए कांग्रेस, वामदलों सहित सभी दलों को एक साथ आना होगा। अगर सभी गैर-बीजेपी पार्टियां एकजुट हों तो देश को तबाह करने वालों से छुटकारा मिल सकता है। इस रैली में इनेलो नेता ओम प्रकाश चौटाला, शिरोमणि अकाली दल के सुखबीर सिंह बादल,एनसीपी के शरद पवार, सीपीआई (एम) के सीताराम येचुरी और शिवसेना के अरविंद सावंत मौजूद रहे। रैली में राजद नेता तेजस्वी यादव भी पहुंचे थे।

यह भी पढ़ें:

शहीद भगत सिंह के नाम पर हुआ चंडीगढ़ एयरपोर्ट, पीएम मोदी के ऐलान के बाद पक्ष-विपक्ष सभी ने किया स्वागत

गोवा में अवैध ढंग से रहने वालों पर कसा शिकंजा, 20 बांग्लादेशी गिरफ्तार,भेजे जाएंगे वापस अपने देश

नीतीश कुमार ने सभी विपक्षी दलों को एकजुट होने का किया आह्वान, बोले-सब साथ होंगे तो वे हार जाएंगे

असम: 12 साल में उग्रवादियों से भर गए राज्य के जेल, 5202 उग्रवादी गिरफ्तार किए गए, महज 1 का दोष हो सका साबित

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios