Asianet News HindiAsianet News Hindi

नीतीश कुमार ने सभी विपक्षी दलों को एकजुट होने का किया आह्वान, बोले-सब साथ होंगे तो वे हार जाएंगे

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पूर्व उप प्रधानमंत्री देवीलाल की जयंती पर देश की गैर बीजेपी पार्टियों को एकजुट होने का आह्वान किया। नीतीश कुमार ने कांग्रेस और वाम दलों सहित अन्य सभी विपक्षी दलों को बीजेपी से मुकाबला करने के लिए एक मंच पर आने की अपील करते हुए कहा कि विपक्ष का मुख्य मोर्चा यह सुनिश्चित करेगा कि भाजपा 2024 के आम चुनावों में बुरी तरह हार जाए।

Indian National Lokdal rally in haryana on Chaudhary Devilal Jayanti, Know what big leaders appeals against BJP, DVG
Author
First Published Sep 25, 2022, 4:33 PM IST

फतेहाबाद। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पूर्व उप प्रधानमंत्री देवीलाल की जयंती पर देश की गैर बीजेपी पार्टियों को एकजुट होने का आह्वान किया। नीतीश कुमार ने कांग्रेस और वाम दलों सहित अन्य सभी विपक्षी दलों को बीजेपी से मुकाबला करने के लिए एक मंच पर आने की अपील करते हुए कहा कि विपक्ष का मुख्य मोर्चा यह सुनिश्चित करेगा कि भाजपा 2024 के आम चुनावों में बुरी तरह हार जाए। उन्होंने साफ कहा कि वह प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी नहीं हैं। देश में तीसरा मोर्चा नहीं बनेगा, अब पूरे देश में केवल एक ही मोर्चा होगा जिसमें कांग्रेस-वाम दल समेत सभी गैर बीजेपी दल एक साथ होंगे और 2024 में मिलकर बीजेपी को हराएंगे।

अगर सब एकसाथ आ जाएंगे तो उनको हराने से कोई नहीं रोक पाएगा

इंडियन नेशनल लोकदल द्वारा आयोजित रैली को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि मैं कांग्रेस सहित सभी दलों से एक साथ आने का आग्रह करता हूं क्योंकि ऐसा होने पर वे (भाजपा) बुरी तरह हार जाएंगे। उन्होंने कहा कि आने वाले चुनाव में हिंदुओं और मुसलमानों के बीच कोई लड़ाई नहीं है। केवल भाजपा दोनों समुदायों के बीच नफरत फैलाकर गड़बड़ी पैदा करना चाहती है, समाज को बांटना चाहती है। मेरी एक ही इच्छा है कि हम सभी को राष्ट्रीय स्तर पर एक साथ आने की जरूरत है। हमें और पार्टियों को एक साथ लाने की जरूरत है। सबको अपने आपसी मतभेद भुलाकर राष्ट्र के लिए एकसाथ आना है।

चौटाला बोले-संयुक्त मोर्चा के लिए कांग्रेस सहित सबसे करेंगे बात

इनेलो अध्यक्ष ओपी चौटाला ने कहा कि वे विपक्षी दलों का संयुक्त मोर्चा बनाने के लिए कांग्रेस सहित सभी दलों से बात करेंगे। उन्होंने कहा कि बीजेपी के खिलाफ सभी दलों को साथ आना चाहिए। सभी दलों को आपसी मतभेद भुलाना होगा ताकि देश को बर्बाद होने से बचाया जा सके।

सुखबीर बादल ने बताया क्यों जरूरी है सबका साथ आना

चौटाला के अलावा शिरोमणि अकाली दल का भी कांग्रेस के खिलाफ चुनाव लड़ने का लंबा इतिहास रहा है। लेकिन रविवार को शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने विपक्षी दलों को एक साथ आने की आवश्यकता को रेखांकित किया। उन्होंने कहा कि असली एनडीए तो यहां इस मंच पर आ चुका है। बीजेपी अकेली बची है। एनडीए के प्रमुख संस्थापक दल शिरोमणि अकाली दल, शिवसेना व जनता दल यूनाइटेड रहे हैं। तीनों दलों ने मिलकर एनडीए से बीजेपी केा निकाल दिया है। अब एनडीए यहां इस मंच पर आ चुका है। 

मंच से सबकी अपील-मतभेद भुलाकर आए सब साथ

रैली को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) सुप्रीमो शरद पवार, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के महासचिव सीताराम येचुरी, शिवसेना के अरविंद सावंत और राजद नेता तेजस्वी यादव ने भी संबोधित किया। मंच पर मौजूद सभी नेताओं ने गैर-बीजेपी दलों की एकजुटता पर बल दिया। सबने मिशन 2024 को लेकर एक दूसरे से मतभेदों को भुलाकर साथ आने की अपील की।

यह भी पढ़ें:

शहीद भगत सिंह के नाम पर हुआ चंडीगढ़ एयरपोर्ट, पीएम मोदी के ऐलान के बाद पक्ष-विपक्ष सभी ने किया स्वागत

गोवा में अवैध ढंग से रहने वालों पर कसा शिकंजा, 20 बांग्लादेशी गिरफ्तार,भेजे जाएंगे वापस अपने देश

नीतीश कुमार ने सभी विपक्षी दलों को एकजुट होने का किया आह्वान, बोले-सब साथ होंगे तो वे हार जाएंगे

असम: 12 साल में उग्रवादियों से भर गए राज्य के जेल, 5202 उग्रवादी गिरफ्तार किए गए, महज 1 का दोष हो सका साबित

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios