Asianet News HindiAsianet News Hindi

PMGKY: सीएम Arvind Kejriwal ने PM Modi को लिखा लेटर, कहा- फ्री राशन स्कीम को बंद मत करिए

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का मार्च 2020 में ऐलान किया गया था। इस योजना का मकसद कोरोना महामारी द्वारा हुए तनाव को कम करना है। शुरुआत में, स्कीम को अप्रैल-जून 2020 की अवधि के लिए लॉन्च किया गया था, लेकिन बाद में पीएम मोदी ने घोषणा करते हुए इसे 30 नवंबर तक बढ़ा दिया गया था।

Delhi CM Arvind Kejriwal appeal to PM Modi to extend free ration scheme tenure under PMGKY pwt
Author
New Delhi, First Published Nov 6, 2021, 5:18 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Pm modi) को एक लेटर लिखा है। उन्होंने पीएम मोदी को लिखे अपने लेटर में अपील की है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना  (PMGKY)  को और छह महीने के लिए दिल्ली में आगे बढ़ा दिया जाए। केजरीवाल ने कहा- गरीबों को मिल रही अपनी फ़्री राशन योजना को दिल्ली सरकार छः महीने के लिए बढ़ा रही है। प्रधानमंत्री जी को पत्र लिखकर मैंने आग्रह किया कि केंद्र सरकार भी अपनी राशन योजना छः महीने के लिए बढ़ा दे। उन्होंने कहा कि लोग अभी बहुत मुसीबत में हैं। इस वक्त उनका हाथ छोड़ना ठीक नहीं होगा।

क्या लिखा है लेटर में
अरविंद केजरीवाल ने अपने लेटर में लिखा है कि कोरोना काल के दौरान केन्द्र सरकार ने देशभर में हर राशन कार्डधारक को हर महीने मिलने वाले राशन के अतिरिक्त उतना ही फ्री राशन दिया था। जो हर महीने मिलता था, दिल्ली सरकार ने अपनी तरफ से उसे मुफ्त कर दिया। केन्द्र सरकार और दिल्ली सरकार के इन कदमों से गरीबों को कोरोना काल में काफी राहत मिली। दोनों सरकारों की ये योजनाएं नवंबर में समाप्त हो रही है। केन्द्र सरकार ने ऐलान किया है कि इस योजना को नवंबर के बाद आगे नहीं बढ़ाया जाएगा। 

देश में इस वक्त कमरतोड़ महंगाई है। एक आम आदमी को दो वक् की रोटी मिलनी मुश्किल हो रही है। कोरोना काल में कई लोगों के रोजगार चले गए। उनके पास कमाई का कोई साधन नहीं है। ऐसे में मेरी आपसे विनती है कि केन्द्र सरकार लोगों को अतिरिक्त मुफ्त राशन देने की ये योजना छह महीने के लिए बढ़ा दें। दिल्ली सरकार लोगों को हर महीने मिलने वाला राशन मुफ्त देने की घोषणा छह महीने के लिए बढ़ा रही है।

कोई प्रस्ताव नहीं है अभी
दरअसल, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत गरीबों को नवंबर के बाद मुफ्त राशन मिलेगा या नहीं इसे लेकर अभी तक संशय बना हुआ है। खाद्य सचिव सुधांशु पांडे ने कहा था कि इस स्कीम के तहत नवंबर के बाद गरीबों को राशन दिए जाने का फिलहाल कोई प्रस्ताव नहीं है। 

कब हुई थी योजना की शुरुआत
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का मार्च 2020 में ऐलान किया गया था। इस योजना का मकसद कोरोना महामारी द्वारा हुए तनाव को कम करना है। शुरुआत में, स्कीम को अप्रैल-जून 2020 की अवधि के लिए लॉन्च किया गया था, लेकिन बाद में पीएम मोदी ने घोषणा करते हुए इसे 30 नवंबर तक बढ़ा दिया गया था। इस योजना के तहत गरीबों को मुफ्त में प्रति व्यक्ति 5 किलो की दर से खाद्यान्न मिलता है। 
 
किसे मिलता है इस योजना का लाभ?
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ पाने के लिए आपके पास राशन कार्ड होना अनिवार्य है। राशन कार्ड में जितने लोगों के नाम दर्ज हैं, उसी हिसाब से सभी को पांच पांच किलो अनाज उपब्लध करवाया जाता है। आप जिस सरकारी राशन दुकान से अपना अनाज लेते हैं. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत मिलने वाला अनाज भी वहीं से मिलेगा। 

इसे भी पढ़ें- PMGKY: नंवबर के बाद गरीबों को नहीं मिलेगा फ्री में राशन, खाद्य विभाग को नहीं मिला प्रपोजल


Petrol Diesel Rate: 14 राज्यों ने पेट्रोल-डीजल में VAT नहीं किया कम, Ladakh ने की सबसे ज्यादा कटौती
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios