Asianet News HindiAsianet News Hindi

Farm Movement: सत्यपाल मलिक बोले- जानवर के मरने पर नेता शोक संदेश भेजते हैं, 600 किसानों की मौत पर नहीं बोला

त्यपाल मलिक (Satya Pal Malik) ने  किसान आंदोलन (farm movement) को लेकर एक बार फिर अपनी बेबाक राय रखी है। उन्होंने एक बार फिर से केन्द्र सरकार (modi government) पर हमला बोला है। 

Farm Movement: meghalaya governer satyapal malik again attack on modi government pwt
Author
Jaipur, First Published Nov 7, 2021, 8:34 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली.  मेघालय के राज्यपाल (Meghalaya Governor ) सत्यपाल मलिक (Satya Pal Malik) ने  किसान आंदोलन (farm movement) को लेकर एक बार फिर अपनी बेबाक राय रखी है। उन्होंने एक बार फिर से केन्द्र सरकार (modi government) पर हमला बोला है। जयपुर में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सत्यपाल मलिक ने कहा- अगर में किसान के मुद्दे पर कहूंगा तो विवाद हो जाएगा।    

जानवर के मरने पर प्रकट करते हैं शोक
किसान आंदोलन का जिक्र करते हुए राज्‍यपाल सत्‍यपाल मलिक ने कहा कि देश में इतना बड़ा आंदोलन आज तक नहीं चला, जिसमें 600 लोग शहीद हुए। बावजूद इसके दिल्‍ली में बैठे नेताओं ने शोक तक नहीं जताया। मलिक ने कहा कि एक जानवर के मरने पर भी दिल्‍ली में बैठे नेता शोक जताते हैं पर किसानों की मौत पर संसद में शोक प्रस्‍ताव तक नहीं पेश किया गया। मलिक ने यह भी कि अभी महाराष्ट्र के अस्पताल में 5-7 लोग आग से मरे। उनकी मौत पर दिल्ली से शोक संदेश गए हैं।

किसानों की मौत पर हमारे वर्ग तक के लोग संसद में शोक प्रस्ताव के लिए नहीं बोले। इससे मैं आहत था। गुस्से में था। उन्होंने कहा कि आज हर किसी गांव में मुख्यमंत्री हेलिकॉप्टर नहीं उतार सकता। वेस्टर्न यूपी में कोई मंत्री गमी तक में नहीं जा सकता। फिर ऐसे दिल्ली में राज करने का क्या फायदा? किसान बेहाल होकर खेती करते हैं। उनकी छोटी सी बात मान लेंगे तो क्या हो जाएगा?

इस्तीफा देने में नहीं लगाऊंगा देर
उन्होंने कहा कि कुछ लोग सोशल मीडिया पर लिख देते हैं कि राज्यपाल अगर इतना महसूस कर रहे हो तो इस्तीफा क्यों नहीं दे देते हैं। तो मैं उन्हें कहना चाहता हूं कि मुझे आपके पिताजी ने राज्यपाल नहीं बनाया था और न मैं वोट से बना था। मुझे दिल्ली में दो-तीन बड़े लोगों ने राज्यपाल बनाया था और मैं उनकी ही इच्छा के विरुद्ध बोल रहा हूं। जब वो मुझसे कह देंगे कि हमें दिक्कत है छोड़ दो, तब मैं इस्तीफा देने में एक मिनट भी नहीं लगाऊंगा।

इसे भी पढ़ें- BJP राष्ट्रीय कार्यकारिणी: PM Modi का हुआ सम्मान, West Bengal पर रहेगा फोकस, पांच राज्यों के लिए अलग से मंथन

इराकी पीएम मुस्तफा अल कदीमी पर ड्रोन बम से हमला, पीएम आवास को किया गया टारगेट

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios