Asianet News HindiAsianet News Hindi

फौलादी दस्तक: हजीरा में स्टील प्लांट के भूमिपूजन पर बोले पीएम मोदी- विकसित भारत की दिशा में बड़ा कदम

पीएम मोदी ने कहा कि जब देश में स्टील सेक्टर मजबूत होता है तो इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर मजबूत होता है। जब स्टील सेक्टर का विस्तार होता है तो रोड, रेलवे, एयरपोर्ट और बंदरगाह का विस्तार होता है। जब स्टील सेक्टर की क्षमता बढ़ेगी तो डिफेंस, कैपिटल गुड्स और इंजीनियरिंग प्रोडक्ट्स के विकास को भी नई उर्जा मिलती है।

Gujarat Hazira new project of Arcelor Mittal Nippon steel plant Bhoomi pujan, PM Modi said new India new wings for development, DVG
Author
First Published Oct 28, 2022, 4:49 PM IST

PM Modi in Hazira plant: गुजरात के हजीरा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्टील प्लांट के भूमिपूजन में कहा कि आज दुनिया हमारी तरफ बहुत उम्मीद से देख रही है। भारत, दुनिया का बड़ा मैन्युफैक्चरिंग हब बनने की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहा है। देश अमृतकाल में प्रवेश कर चुका है। हमारा देश अब 2047 के विकसित भारत के लक्ष्यों की ओर बढ़ने को आतुर है। देश की इस विकास यात्रा में स्टील इंडस्ट्री की भूमिका और सशक्त होने वाली है।

देश का स्टील सेक्टर मजबूत होगा तो इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर मजबूत होगा

पीएम मोदी ने कहा कि जब देश में स्टील सेक्टर मजबूत होता है तो इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर मजबूत होता है। जब स्टील सेक्टर का विस्तार होता है तो रोड, रेलवे, एयरपोर्ट और बंदरगाह का विस्तार होता है। उन्होंने कहा कि जब स्टील सेक्टर आगे बढ़ता है तो कंस्ट्रक्शन सेक्टर, आटोमोटिव, में नया आयाम जुड़ जाता है। जब स्टील सेक्टर की क्षमता बढ़ेगी तो डिफेंस, कैपिटल गुड्स और इंजीनियरिंग प्रोडक्ट्स के विकास को भी नई उर्जा मिलती है।

शुक्रवार को पीएम मोदी, गुजरात के सूरत जिले के हजीरा में स्टील प्रमुख आर्सेलर मित्तल निप्पॉन स्टील इंडिया के प्रमुख संयंत्र की विस्तार परियोजना के 'भूमि पूजन' कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। आर्सेलर मित्तल निप्पॉन स्टील इंडिया (एएम/एनएस इंडिया)- आर्सेलर मित्तल और निप्पॉन स्टील के बीच एक संयुक्त उद्यम है। दुनिया के दो प्रमुख स्टील निर्माता, अपने हजीरा प्रोजेक्ट में कच्चे इस्पात की क्षमता को 9 मिलियन टन प्रति वर्ष (एमटीपीए) से बढ़ाकर 15 एमटीपीए करेंगे।

भारत दुनिया का दूसरा बड़ा स्टील उत्पादक

पीएम मोदी ने कहा कि भारत दुनिया का दूसरा बड़ा स्टील उत्पादक है। पिछले 8 वर्षों में भारतीय स्टील इंडस्ट्री ने यह मुकाम हासिल कर ली है। यह सब पिछले 8 सालों के प्रयासों की देन है। सरकार की पीएलआई स्कीम से इस सेक्टर के विस्तार के नए रास्ते तैयार हुए हैं। इससे आत्मनिर्भर भारत अभियान को मजबूती मिली है। इससे हमने हाईग्रेड स्टील के उत्पादन बढ़ाने और आयात पर निर्भरता कम करने में दक्षता हासिल कर ली है।

यह भी पढ़ें:

अभिनेत्री खुशबू सुंदरम पर द्रमुक नेता का ऐसा कमेंट...कनिमोझी की माफी के बाद भी नहीं थमा बवाल

पीएम ऋषि सुनक ने ब्रिटिशर्स को दिलाया विश्वास-ट्रस की गलतियों को करेंगे सही, जानिए फर्स्ट स्पीच की 10 बातें

जिन गोरों ने 200 साल तक राज किया, उस इंडियन का दामाद ब्रिटिश सत्ता को चलाएगा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios