Asianet News HindiAsianet News Hindi

उड़ने के लिए तैयार है HAL का नया विमान Hindustan-228, सफलतापूर्वक किया ग्राउंड रन

एचएएल ने प्रोटोटाइप हिंदुस्तान-228 विमान का परीक्षण किया है। इसे नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) द्वारा प्रमाणित भी किया गया है। हिंदुस्तान-228 विमान एचएएल द्वारा बनाए गए डीओ-228 विमान का उन्नत रूप है।

HAL carries ground run of prototype Hindustan 228 aircraft VVA
Author
New Delhi, First Published Dec 7, 2021, 12:31 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) द्वारा बनाया जा रहा वाणिज्यिक विमान Hindustan-228 अब उड़ान भरने को तैयार है। विमान का सफल ग्राउंड रन और कम गति टैक्सी परीक्षण किया गया है। रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट ने सोमवार को संसद में यह जानकारी दी। 

राज्यसभा में पूछे गए एक सवाल के लिखित जवाब में संजय सेठ ने कहा कि एचएएल ने प्रोटोटाइप हिंदुस्तान-228 विमान का परीक्षण किया है। इसे नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) द्वारा प्रमाणित भी किया गया है। कानपुर एचएएल ने इसी साल 27 मई को डीजीसीए टीम के साथ मिलकर हिंदुस्तान -228 विमान का पहला इंजन ग्राउंड रन किया था। इस दौरान विमान के विभिन्न सिस्टम की जांच की गई। इसके बाद, 15 अगस्त को डीजीसीए टीम के साथ समन्वय में कम गति वाली टैक्सी परीक्षण किया गया। इस दौरान विमान ने आवश्यक परीक्षण मानकों को पूरा किया। 

डीओ-228 विमान का उन्नत रूप है हिंदुस्तान-228
हिंदुस्तान-228 विमान एचएएल द्वारा बनाए गए डीओ-228 विमान का उन्नत रूप है। Do-228 में दो क्रू मेंबर के साथ 19 यात्री सवार हो सकते हैं। Do-228 पहले से ही केंद्र सरकार के उड़ान (उड़े देश का आम नागरिक) क्षेत्रीय हवाई संपर्क कार्यक्रम के तहत तैनात है। हिंदुस्तान-228 विमान को आधुनिक वैमानिकी प्रणाली (Avionics System) के साथ नवीनतम अंतरराष्ट्रीय उड़ान योग्यता मानकों के लिए प्रमाणित किया जा रहा है। यह विमान उड़ान योजना के तहत संचालन के लिए उपयुक्त होगा। 

266.85 करोड़ रुपए की लागत से बनेंगे 6 विमान
वर्तमान में एचएएल ने पूर्वोत्तर क्षेत्र में तैनाती के लिए अपने दो डीओ-228 विमानों की ड्राई लीजिंग के लिए 26 सितंबर, 2021 को एलायंस एयर के साथ समझौता किया है। हिंदुस्तान-228 विमान बनाने के प्रोजेक्ट को एचएएल ने फंड दिया है। एचएएल ने प्रोटोटाइप बनाने और डीजीसीए से प्रमाण लेने के लिए 72.33 करोड़ रुपए का फंड दिया है। इसके अतिरिक्त 266.85 करोड़ रुपए का फंड छह विमान बनाने के लिए स्वीकृत है।

ये भी पढ़ें

Omicron: बिहार में फ्लाइट से सफर करने वालों के लिए नई गाइडलाइन, विमान में बैठने से पहले जरूर पढ़ लीजिए

Corona के कारण Rafale की सप्लाई में नहीं बाधा, अप्रैल 2022 तक भारत में होंगे शेष छह विमान

Mirage का टायर लेकर एयरफोर्स स्टेशन पहुंचे चोर, कहा- ट्रक का पहिया समझ ले गए थे, गलती हो गई

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios