Asianet News HindiAsianet News Hindi

भारत और आस्ट्रेलिया के रक्षा मंत्रियों ने अफगानिस्तान में आतंकी संगठनों के सक्रिय होने की आशंका पर चिंता जताई

ऑस्ट्रेलियाई विदेश मंत्री मारिस पैने और रक्षा मंत्री दुतों तीन दिवसीय यात्रा पर शुक्रवार को यहां पर पहुंचे हैं। शुक्रवार को दोनों देशों के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह व दुतों ने मुलाकात की। 
 

India and Australian Defence Ministers discussed on Afghanistan issue and security matters in Taliban era
Author
New Delhi, First Published Sep 10, 2021, 10:48 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। तालिबान के अफगानिस्तान पर कब्जा के बाद पड़ोसी देशों में सबसे अधिक चिंतित भारत है। भारत वैश्विक समुदाय में भी इस चिंता को समय-समय पर जताता नजर आ रहा है। शुक्रवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आस्ट्रेलिया के रक्षा मंत्री पीटर दुतों से अफगानिस्तान में तालिबान के उभार पर चर्चा करते हुए चिंता जताई।

शांति के लिए खतरा बन सकता है अफगानिस्तान

राजनाथ सिंह ने कहा कि तालिबान के उभार से अन्य देशों के लिए खतरा बन सकते हैं। अफगानिस्तान को बेस बनाकर आतंकी संगठन अपने नापाक मंसूबों को अंजाम देते हुए हमारी शांति के लिए खतरा बन सकते हैं। 

यह भी पढ़ें-केंद्रीय मंत्री नारायण राणे की पत्नी और बेटे के खिलाफ लुकआउट नोटिस, DHFL के करोड़ों के लोन का हो गया है NPA

रक्षामंत्री ने यह भी कहा कि अफगान क्षेत्र का इस्तेमाल किसी अन्य देश पर हमले या किसी को धमकाने के लिए नहीं होना चाहिए। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से गुहार लगाई कि वह सुनिश्चित करे कि अफगानिस्तान पर यूएन सिक्योरिटी काउंसिल रिजॉल्यूशन 2593 लागू हो। 

राजनाथ सिंह ने जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान द्वारा अफगानिस्तान की मदद से अस्थिर करने की कोशिशों की साजिश की आशंका जताई है। साथ ही तालिबान शासन में महिलाओं, बच्चों और अल्पसंख्यकों के मानवाधिकारों का हनन पर भी विमर्श किया। 

यह भी पढ़ें-केरल के बिशप का दावा: राज्य की ईसाई व हिंदू लड़कियों को लव जेहाद से अफगानिस्तान में आतंकी शिविरों में भेजा गया

आस्ट्रेलिया के विदेश मंत्री पैने और रक्षा मंत्री दुतों आज पहुंचे

ऑस्ट्रेलियाई विदेश मंत्री मारिस पैने और रक्षा मंत्री दुतों तीन दिवसीय यात्रा पर शुक्रवार को यहां पर पहुंचे हैं। शुक्रवार को दोनों देशों के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह व दुतों ने मुलाकात की। 

यह भी पढ़ें-राहुल गांधी की माता वैष्णो देवी यात्रा: BJP की तंज पर कांग्रेस बोली-मोदीजी साथ जाएं, राहुल हाथ पकड़ ले जाएंगे

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios