Asianet News HindiAsianet News Hindi

भारत और क्रोएशिया मिलकर आयुर्वेद को देंगे बढ़ावा, एमओयू पर दोनों देशों ने किया साइन

विशेष सचिव (आयुष) प्रमोद कुमार पाठक के नेतृत्व में छह सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल इस सप्ताह की शुरुआत में पहले अंतर्राष्ट्रीय योग और आयुर्वेद सम्मेलन में भाग लेने के लिए क्रोएशिया की यात्रा पर गया था।

India and Croatia joins hand for development of Ayurveda medicines and medical systems
Author
New Delhi, First Published Oct 8, 2021, 3:23 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। भारत (India) और क्रोएशिया (Croatia) अब मिलकर आयुर्वेद (ayurveda) की चिकित्सा प्रणालियों को आगे ले जाएंगे। आयुर्वेद के क्षेत्र में दोनों देशों के बीच एकेडमिक सहयोग (academic cooperation) करेंगे। दोनों देशों ने इसके लिए एमओयू (MoU) पर साइन किया है। एमओयू (Memorandum of Understanding) पर अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान (AIIA) और क्रोएशिया के क्वार्नर हेल्थ टूरिज्म क्लस्टर ने साइन किया। एआईआईए आयुष मंत्रालय का स्वायत्त संस्‍थान है।

दोनों देश चयनित संस्थानों के सहयोग से आयुर्वेद के क्षेत्र में एकेडमिक एक्टिविटीज संचालित करेंगे। रिसर्च पर सहयोग और समन्‍वय होगा जिसमें आधुनिक चिकित्सा के साथ एकीकृत करने के लिए साक्ष्य-आधारित दिशा-निर्देश विकसित करना, व्याख्यान, कार्यशालाएं, सेमिनार और सम्मेलन आयोजित करना तथा आयुर्वेद पर ऐसी अन्य गतिविधियां शामिल हैं।

दोनों देशों के ये लोग रहे मौजूद

आयुष मंत्रालय के आयुर्वेद सलाहकार डॉ. मनोज नेसारी ने विशेष सचिव (आयुष) प्रमोद कुमार पाठक और क्रोएशिया में भारत के राजदूत राज श्रीवास्तव की उपस्थिति में एआईआईए की ओर से एमओयू पर हस्ताक्षर किए।

क्रोएशियाई पक्ष से, क्लस्टर के अध्यक्ष सहायक प्रोफेसर व्लादिमीर मोजेटिक, क्लस्टर के प्रबंधन बोर्ड के अध्यक्ष इरेना पेर्सिसिवाडिनोव और प्रबंधन बोर्ड के सदस्य प्रो. सैंड्रा जानकोविच, सैंड्रा मार्टिनिक और अन्ना मारिया लिब्रिक ने इस कार्यक्रम में भाग लिया।

बता दें कि विशेष सचिव (आयुष) प्रमोद कुमार पाठक के नेतृत्व में छह सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल इस सप्ताह की शुरुआत में पहले अंतर्राष्ट्रीय योग और आयुर्वेद सम्मेलन में भाग लेने के लिए क्रोएशिया की यात्रा पर गया था।

यह भी पढ़ें:

पर्यटन उद्योग होगा फिर गुलजार: विदेशी सैनालियों को भारत भ्रमण की अनुमति, 15 अक्टूबर से जारी होगा टूरिस्ट वीजा

जम्मू-कश्मीर: जो पीढ़ियों से इस बगिया को संजोते रहे, उनके खून से ही जन्नत हुआ लहूलुहान, बूढ़ी मां का विलाप रूह चीर देने वाला

केंद्र सरकार का किसानों को तोहफा: खरीद पोर्टल के इंट्रीग्रेशन से बिचौलियों की सांसत, उपज बेचने में होगी आसानी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios