Asianet News HindiAsianet News Hindi

#JusticeForDelhiCanttGirl: पीड़ित फैमिली की पहचान उजागर करने पर फंसे राहुल गांधी; twitter India को नोटिस

दिल्ली में 9 साल की बच्ची के रेप और मर्डर मामले में अब राजनीति गर्माने लगी है। बुधवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी पीड़ित बच्ची के परिजनों से मिलने पहुंचे। इस मामले को लेकर सोशल मीडिया पर #JusticeForDelhiCanttGirl कैम्पेन चल रहा है।

Justice For Delhi Cantt Girl, Rahul Gandhi met the victim family
Author
New Delhi, First Published Aug 4, 2021, 10:22 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. दिल्ली में 9 साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या और फिर लाश को गुपचुप करके से जलाने के मामले ने तूल पकड़ लिया है। इसे लेकर सोशल मीडिया पर छिड़े #JusticeForDelhiCanttGirl कैम्पेन अभियान के बाद विभिन्न दलों के नेताओं का पीड़ित बच्ची के परिजनों से मिलने का सिलसिला शुरू हो गया है। मंगलवार को AAP की विधायक राखी बिड़ला और भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर रावण के मिलने के बाद बुधवार को राहुल गांधी भी पहुंचे। हालांकि राहुल गांधी ने बच्ची के परिजनों से अपनी गाड़ी में ही बैठकर बात की। 

NCPCR ने पीड़ित परिवार की पहचान उजागर करने पर भेजा नोटिस
राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग (NCPCR) के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो ने पीड़ित परिवार की पहचान उजागर करने पर twitter India को नोटिस जारी किया है। कानूनगो ने tweet किया-एक पीड़ित बच्ची के माता पिता की फोटो ट्वीट कर उनकी पहचान उजागर कर #POCSO ऐक्ट का उल्लंघन करने पर NCPCR ने संज्ञान लेते हुए TwitterIndia को नोटिस जारी कर राहुल गांधी के ट्विटर हैंडल के विरुद्ध कार्यवाही करने एवं पोस्ट हटाने के लिए नोटिस जारी किया है।

pic.twitter.com/cVquij6jx3

बच्ची के परिजनों को गुमराह किया गया था
बच्ची को न्याय दिलाने  twitter पर #JusticeForDelhiCanttGirl नाम से अभियान चल पड़ा है। दक्षिण पश्चिम दिल्ली के डीसीपी इंगित प्रताप के मुताबिक पुलिस ने इस मामले में आईपीसी 304, 342, 201 और एससी/एसटी एक्ट के तहत 4 आरोपियों पुजारी राधेश्याम, सलीम, लक्ष्मीनारायण, कुलदीप को गिरफ्तार किया है। आरोपी बच्ची की लाश को जला चुके थे। उन्होंने बच्ची की मां से बोल दिया था कि उसे वाटर कूलर से करंट लगा था। हालांकि बच्ची के पिता के हंगामे के बाद मामला पुलिस तक पहुंचा। कुछ लोगों ने बच्ची की मां से कहा कि अगर पुलिस को बुलाएंगे, तो पोस्टमार्टम में उसके अंग निकाल लिए जाएंगे। इसलिए अंतिम संस्कार बेहतर है। इसके बाद उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। 

अरविंद केजरीवाल की चुप्पी पर उठे सवाल
इस मामले को लेकर दिल्ली सरकार की भी छीछालेदर हो रही है। इसे लेकर दिल्ली में विरोध प्रदर्शन भी हो रहे हैं। एक यूजर ने लिखा-अरविंद केजरीवाल, इस मुद्दे को उठाने और #JusticeForDelhiCanttGirl को सुनिश्चित करने के लिए और कितना समय लगेगा। लोग इस मामले की तुलना निर्भया और हाथरस कांड से करते हुए आरोपियों को फांसी चढ़ाने की मांग उठाने लगे हैं। 

क्या बच्ची को मिल पाएगा इंसाफ?
घटना रविवार 1 अगस्त की है। चूंकि बच्ची की लाश पूरी तरह जल चुकी थी, इसलिए उसका पोस्टमार्टम नहीं हो सका। परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने रेप और हत्या का मामला तो दर्ज कर लिया है, लेकिन इसमें बच्ची को इंसाफ मिल पाएगा, इसमें संशय बना हुआ है। इस मामले में साउथ वेस्ट के DCP इंगित प्रताप सिंह ने कहा कि पुलिस रेप-मर्डर और पॉस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। जांच में लापरवाही बरतने वाले पुलिस अफसरों के खिलाफ एक्शन लिया जाएगा।

यह भी पढे़ं
#JusticeForDelhiCanttGirl: मिस्टर केजरीवाल, आपको पीड़ित परिवार के पास जाने से किसी ने रोका है क्या?
दिल्ली में 9 साल की बच्ची से रेप और मर्डर से फूटा आक्रोश; twitter पर चला कैम्पेन #JusticeForDelhiCanttGirl

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios