Asianet News Hindi

मोदी सरकार से पहले ममता का ऐलान, राज्य में 1 जून से सभी धार्मिक स्थल और 8 जून से सभी ऑफिस खुलेंगे

कोरोना महामारी में लॉकडाउन बढ़ाने को लेकर केंद्र सरकार का फैसला आना बाकी है, लेकिन उससे पहले पश्चिम बंगाल की ममता सरकार ने धार्मिक स्थलों को खोलने का फैसला कर लिया है। ममता बनर्जी ने ऐलान किया कि सभी पूजा स्थल, मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा खुलेंगे। 

Mamta Banerjee announces, all religious places will open in West Bengal from June 1 kpn
Author
West Bengal, First Published May 29, 2020, 5:32 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कोरोना महामारी में लॉकडाउन बढ़ाने को लेकर केंद्र सरकार का फैसला आना बाकी है, लेकिन उससे पहले पश्चिम बंगाल की ममता सरकार ने धार्मिक स्थलों को खोलने का फैसला कर लिया है। ममता बनर्जी ने ऐलान किया कि सभी पूजा स्थल, मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा खुलेंगे, लेकिन एक समय पर 10 से अधिक लोगों को अनुमति नहीं दी जाएगी। धार्मिक स्थलों पर कोई सभा नहीं होगी। इसे 1 जून से लागू किया जाएगा।

कर्नाटक में 1 जून से खुलेंगे मंदिर

कर्नाटक सरकार ने 1 जून से मंदिर खोलने का निर्णय लिया है। हालांकि इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी होगा। मंदिरों के पुजारी और भक्त दोनों ही लगातार मंदिर खोलने की मांग कर रहे थे। कर्नाटक में करीब 34,500 मंदिर 1 जून से भक्तों के लिए खुल जाएंगे।

मंदिर खोलने के लिए हुआ था प्रदर्शन

पश्चिम बंगाल से पहले कर्नाटक सरकार ने भी मंदिर खोलने का आदेश दिया था। वो भी तब जब राज्य में 2000 से ऊपर मामले पहुंच चुके हैं। मंदिरों को खोलने की मांग के साथ हिन्दू कार्यकर्ताओं ने राज्य के मदुरै और तिरूचि में प्रदर्शन किया था। उनका कहना था कि सरकार अब मंदिरों को खोलने की इजाजत दे।

8 जून से खुलेंगे सभी प्राइवेट ऑफिस

ममता बनर्जी ने कहा, सभी निजी, सार्वजनिक और सरकारी क्षेत्र के कार्यालय 8 जून से खुलेंगे, जबकि राज्य का चाय और जूट उद्योग 1 जून से 100% चालू हो जाएंगे। 
 

अम्फान तूफान से मरने वालों की संख्या 98

ममता बनर्जी ने कहा, CycloneAmphan की वजह से मरने वालों की संख्या बढ़कर 98 हो गई है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios