Asianet News Hindi

पीएम मोदी और अमित शाह के बीच ढाई घंटे हुई चर्चा, 31 मई के बाद लॉकडाउन को लेकर हो सकता है बड़ा ऐलान

लॉकडाउन 5.0 को लेकर पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के बीच करीब 2 घंटे तक चर्चा हुई। पीएम आवास पर हुई इस बैठक में कैबिनेट सचिव राजीव गाबा, गृह सचिव एके भल्ला और पीएमओ के अधिकारी भी शामिल थे।  

Modi and Amit Shah discussion regarding lockdown 5.0 Two and a half hours kpn
Author
New Delhi, First Published May 29, 2020, 5:15 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. लॉकडाउन 5.0 को लेकर पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के बीच करीब 2 घंटे तक चर्चा हुई। पीएम आवास पर हुई इस बैठक में कैबिनेट सचिव राजीव गाबा, गृह सचिव एके भल्ला और पीएमओ के अधिकारी भी शामिल थे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बैठक में गृह मंत्री अमित शाह ने पीएम मोदी को राज्यों के मुख्यमंत्रियों से हुई बातचीत का ब्यौरा दिया। अमित शाह ने शुक्रवार की सुबह लॉकडाउन और कोरोना महामारी को लेकर विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात की थी।  

अमित शाह और मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में क्या बात हुई?
गृह मंत्री अमित शाह ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ मीटिंग की। कई राज्यों ने यही कहा कि लॉकडाउन लगना चाहिए। हालांकि वे इकनॉमिक ऐक्टिविटी को लेकर छूट भी चाहते हैं। 

पहली बार अमित शाह ने मुख्यमंत्रियों से बात की
कोरोना महामारी में अब तक पीएम मोदी ही देश के मुख्यमंत्रियों से लॉकडाउन को लेकर बात कर रहे थे, लेकिन ये पहली बार हुआ है कि लॉकडाउन पर राय जानने के लिए गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्रियों से बात की है।

लॉकडाउन को 15 दिन बढ़ाने की मांग
महाराष्‍ट्र, तमिलनाडु, गुजरात, दिल्‍ली, मध्‍य प्रदेश, राजस्‍थान जैसे राज्‍यों में कोरोना का प्रभाव ज्यादा है। गोवा सीएम प्रमोद सावंत की मांग है कि लॉकडाउन को कम से कम 15 दिन के लिए और बढ़ाया जाना चाहिए। 

11 शहरों पर हो सकता है फोकस?
कोरोना लॉकडाउन 5.0 मुख्य तौर पर 11 शहरों पर फोकस हो सकता है। इसमें दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, पुणे, ठाणे, इंदौर, चेन्नै, अहमदाबाद, जयपुर, सूरत और कोलकाता। देश के ये 11 वे शहर हैं जहां कोरोना के सबसे अधिक मरीज हैं और देश के आर्थिक शहरों में शामिल हैं।

शुरू हो सकती है मेट्रो
रेलवे और घरेलू फ्लाइट को सरकार पहले ही शुरू कर चुकी है। मेट्रो सर्विस को भी एक जून से दोबारा शुरू किया जा सकता है। वहीं अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध जारी रह सकता है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios