Asianet News HindiAsianet News Hindi

महाराष्ट्र में Omicron विस्फोट, नए मिले 8 केस में 7 अकेले Mumbai के, किसी की इंटरनेशनल ट्रेवेल हिस्ट्री नहीं

कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने चेतावनी दी है। WHO ने कहा है कि ओमिक्रॉन डेल्टा से भी ज्यादा तेजी से फैल रहा है। इससे अस्पतालों को तैयार रहने की जरूरत है।

Omicron cases found highest in Maharashtra, Country top new variant hot spot, DVG
Author
New Delhi, First Published Dec 15, 2021, 12:24 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। महाराष्ट्र (Maharashtra) में ओमीक्रोन (Omicron) के आठ और केस मिले हैं। नए मिले आठ केसों में सात अकेले मुंबई से हैं और एक बाहरी क्षेत्र वसई विरार का है। सबसे आश्चर्यजनक बात यह कि ओमीक्रोन पॉजिटिव इन सभी केसों में किसी की ट्रेवेल हिस्ट्री कभी भी विदेश की नहीं रही है। हालांकि, एक ने बैंगलोर और दूसरे ने दिल्ली की यात्रा की थी। इन आठ मरीजों में सिर्फ एक को छोड़कर सबने वैक्सीन की डोज भी ले रखी है। ओमीक्रोन संक्रमण तेजी से देश में शुरू हो चुका है। भारत में यह आंकड़ा 57 तक पहुंच चुका है।

महाराष्ट्र में 28 मामले मिले

दुनिया के तमाम देशों में तनाव का कारण बने ओमीक्रोन वेरिएंट का कोरोना वायरस अब भारत में भी बेहद तेजी से बढ़ना शुरू कर दिया है। अकेले महाराष्ट्र में 28 केस मिल चुके हैं, देशस्तर पर यह आंकड़ा 57 तक पहुंच चुका है। 

आठ मरीजों में तीन महिलाएं

महाराष्ट्र में मंगलवार को मिले आठ नए ओमीक्रोन वेरिएंट पॉजिटव में पांच पुरुष और तीन महिलाएं शामिल हैं। पांच मरीजों के लक्षण हल्के बताए जा रहे हैं। हालांकि, आठ में से दो को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जबकि छह को होम आइसोलेशन में रखा गया है। महाराष्ट्र के 28 मामलों में से 12 मुंबई से, 10 पिंपरी चिंचवाड़ से, दो पुणे नगर निगम से, और एक-एक कल्याण डोंबिवली, नागपुर, लातूर और वसई विरार से हैं।

WHO की चेतावनी- अस्पताल कमर कस लें, ओमीक्रोन से मौतों के मामले बढ़ सकते 

कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने चेतावनी दी है। WHO ने कहा है कि ओमिक्रॉन डेल्टा से भी ज्यादा तेजी से फैल रहा है। इससे अस्पतालों को तैयार रहने की जरूरत है। संगठन ने ये भी बताया है कि नया वैरिएंट कितना जानलेवा होगा, इस पर अभी कुछ कहना जल्दबाजी होगी, लेकिन इससे मौतों के मामले बढ़ सकते हैं। ऐसे में अस्पतालों को विशेष तैयारी करने की जरूरत है।

Read this also:

Covid 19: तीसरी लहर से निपटने के लिए AIIMS तैयार, 300 बेड वाले अस्पताल का कल लोकार्पण, लेवल टू व थ्री के 100 बेड का प्रस्ताव

Research: Covid का सबसे अधिक संक्रमण A, B ब्लडग्रुप और Rh+ लोगों पर, जानिए किस bloodgroup पर असर कम

Covid-19 के नए वायरस Omicron की खौफ में दुनिया, Airlines कंपनियों ने double किया इंटरनेशनल fare

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios