Asianet News HindiAsianet News Hindi

राज्यसभा सांसद केटीएस तुलसी बोले- ड्रग्स जिंदगी के दर्द को कम देता, गुटखा-शराब की तरह इसपर से हटे प्रतिबंध

राज्यसभा सांसद केटीएस तुलसी का यह बयान उस समय आया है जब पूरे देश और मीडिया की निगाह क्रूज रेव पार्टी में अरेस्ट हुए आर्यन खान पर टिकी है। आर्यन मशहूर बालीवुड स्टॉर शाहरूख खान के बेटे हैं। इस ड्रग केस में पिछले एक पखवाडे़ से तमाम सवाल और विवाद खड़े हो चुके हैं।

Rajya sabha Member KTS Tulsi advocated drugs, said it is necessity of life
Author
New Delhi, First Published Oct 27, 2021, 8:15 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। देश के जाने माने कानूनविद् और राज्यसभा सांसद (Rajya Sabha Member) केटीएस तुलसी (KTS Tulsi) ने ड्रग (Drugs) को गुटखा-शराब-सिगरेट की तरह छूट दिए जाने की वकालत की है। ड्रग को केटीएस तुलसी ने जीवन की जरूरत बताया है। उन्होंने कहा कि यह जिंदगी के दर्द को कम देता है। हालांकि, इसका संतुलित इस्तेमाल किया जाना चाहिए। 
राज्यसभा सांसद केटीएस तुलसी का यह बयान उस समय आया है जब पूरे देश और मीडिया की निगाह क्रूज रेव पार्टी में अरेस्ट हुए आर्यन खान पर टिकी है। आर्यन मशहूर बालीवुड स्टॉर शाहरूख खान के बेटे हैं। इस ड्रग केस में पिछले एक पखवाडे़ से तमाम सवाल और विवाद खड़े हो चुके हैं।

क्या कहा केटीएस तुलसी ने? 

एक न्यूज एजेंसी से बात करते हुए केटीएस तुलसी ने कहा, ''ड्रग्स हर किसी के जिंदगी का हिस्सा है और कई मौकों पर ड्रग्स जिंदगी का दर्द कम करता है। शराब, तंबाकू और गुटखा भी नुकसान पहुंचाता है। लेकिन टैक्स देकर इन ड्रग्स के सेवन की इजाजत है। तो ड्रग्स पर क्यों नहीं? टैक्स कलेक्शन के बाद ड्रग्स के इस्तेमाल की इजाजत दी जाती है। कई बार ड्रग्स दवा के रूप में ड्रग्स लेना होता है और यदि इसकी जरूरत पड़ती है तो ड्रग्स के इस्तेमाल को क्यों ना मंजूरी दे दी जाए।''

संतुलित मात्रा में ड्रग्स के इस्तेमाल की वकालत करते हुए तुलसी ने कहा कि उनका मानना है कि एनडीपीएस एक्ट 1985 में संशोधन होने चाहिए, क्योंकि इसमें कई बार लोगों का शोषण होता है। उन्होंने कहा, ''कम या अधिक मात्रा में ड्रग्स के इस्तेमाल को लेकर एनडीसीएस ऐक्ट का कई बार दुरुपयोग होता है। एनडीपीएस ऐक्ट में सुधार की जरूरत है।''

यह भी पढ़ें: मोदी को भेंट की गई ‘गुरु गोविंद सिंह जी की रामायण’, गुरुवाणी के शबद से मंत्रमुग्ध हुए पीएम

कौन हैं केटीएस तुलसी‌?

केटीएस तुलसी देश के जाने माने कानूनविद् हैं। राज्यसभा के लिए उनको नामित किया गया है। बीते जुलाई में तुलसी की तारीफ पीएम मोदी ने भी की थी। बीते जुलाई में केटीएस तुलसी अपने परिवार के साथ पीएम मोदी से मिलने पहुंचे थे। उन्होंने पीएम को अपनी माता स्वर्गीय बलजीत कौर तुलसी की लिखी ‘गुरु गोविंद सिंह जी की रामायण’ की पहली प्रति भेंट की थी। 
तुलसी ने अपनी बेटी जपना तुलसी और पोती मुक्ति तुलसी की मौजूदगी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को किताब सौंपी थी। भारतीय शास्त्रीय नृत्यांगना और भाजपा सांसद सोनल मानसिंह भी मौजूद थीं। इस दौरान पीएम मोदी और केटीएस तुलसी के बीच काफी देर तक गुरु गोविंद सिंह, गुरुवाणी शबद और सिख धर्म के महान सिद्धांतों के बारे में भी काफी देर तक चर्चा हुई थी। 

यह भी पढ़ें:

कश्मीर को लेकर सऊदी अरब को दिखाया था आंख, अब जाकर गिड़गिड़ाया तो 3 अरब डॉलर की मदद का किया ऐलान

Covaxin को फिर नहीं मिला WHO से अप्रूवल, 3 नवम्बर को अब होगा निर्णय

टी-20 विश्व कप में पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने पर जम्मू-कश्मीर के दो मेडिकल स्टूडेंट्स पर यूएपीए केस

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios