आफताब की गिरफ्तारी के 22 दिन बाद भी खाली हैं पुलिस के हाथ, अब तक नहीं मिला कोई ठोस सबूत

| Dec 04 2022, 05:22 PM IST

आफताब की गिरफ्तारी के 22 दिन बाद भी खाली हैं पुलिस के हाथ, अब तक नहीं मिला कोई ठोस सबूत
आफताब की गिरफ्तारी के 22 दिन बाद भी खाली हैं पुलिस के हाथ, अब तक नहीं मिला कोई ठोस सबूत
Share this Article
  • FB
  • TW
  • Linkdin
  • Email

सार

दिल्ली के श्रद्धा वालकर मर्डर केस को सुलझाने के लिए पुलिस अब तक आरोपी आफताब के खिलाफ कई सबूत जुटा चुकी है, लेकिन बावजूद इसके अब भी जांच अधूरी है। आफताब  की गिरफ्तार को 22 दिन बीत चुके हैं, लेकिन बावजूद इसके अब तक पुलिस के हाथ खाली ही नजर आ रहे हैं।

Shraddha Murder Case: दिल्ली के श्रद्धा वालकर मर्डर केस को सुलझाने के लिए पुलिस अब तक आरोपी आफताब के खिलाफ कई सबूत जुटा चुकी है, लेकिन बावजूद इसके अब भी जांच अधूरी है। आफताब  की गिरफ्तार को 22 दिन बीत चुके हैं, लेकिन बावजूद इसके अब तक पुलिस के हाथ खाली ही नजर आ रहे हैं। पुलिस को अब भी श्रद्धा के मोबाइल और उसके कटे हुए सिर की तलाश है। 

पुलिस को अब भी श्रद्धा के कटे सिर की तलाश : 
पिछले 22 दिनों में पुलिस ने महरौली के जंगल और तालाब से लेकर गुरुग्राम की झाड़ियों तक में श्रद्धा के कटे हुए सिर की तलाश की, लेकिन अब तक उसे कामयाबी नहीं मिल पाई है। इतना ही नहीं, पुलिस ने आफताब का पॉलीग्राफ और नार्को टेस्ट भी करा लिया, लेकिन बावजूद इसके अब भी आफताब के खिलाफ पुख्ता सबूत नहीं है।  

Subscribe to get breaking news alerts

कत्ल के बाद मिटाए सबूत : 
शातिर आफताब ने श्रद्धा का कत्ल करने के बाद उस हर एक सबूत को मिटा दिया, जिससे उसके पकड़े जाने की जरा भी गुंजाइश थी। यहां तक कि उसने श्रद्धा के शव के टुकड़े अलग-अलग जगह फेंके। इतना ही नहीं, कहा जा रहा है कि उसने श्रद्धा का मोबाइल समंदर में फेंक दिया। इतना ही नहीं, आफताब कत्ल के वक्त पहने कपड़ों को पहले ही फेंक चुका है, जो पुलिस को अब तक नहीं मिले हैं। 

आफताब को फिलहाल तिहाड़ जेल में रखा : 
बता दें कि कोर्ट ने 26 नवंबर को आफताब की पुलिस रिमांड 13 दिनों के लिए बढ़ा दी थी। इसके बाद उसे तिहाड़ जेल की सेल नंबर 4 में रखा गया है। इस सेल में आफताब अकेले रहता है। इस सेल के बाहर 24 घंटे एक सुरक्षाकर्मी तैनात रहता है। इसके अलावा सेल में सीसीटीवी कैमरे भी लगे हैं, जो उसकी हर एक हरकत पर नजर रखते हैं। 

क्या है पूरा मामला?
आफताब ने 18 मई, 2022 की रात 10 बजे दिल्ली के महरौली स्थित एक फ्लैट में अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वालकर की हत्या कर दी थी। हत्या के बाद उसने लाश के 35 टुकड़े किए और उन्हें एक फ्रिज में रख दिया। बाद में वो ये टुकड़े महरौली के जंगल में अलग-अलग जगहों पर फेंकता रहा। ऐसा उसने 18 रातों तक किया। बता दें कि श्रद्धा से आफताब की पहली मुलाकात मुंबई में एक डेटिंग ऐप के जरिए हुई थी। इसके बाद दोनों करीब आए और कुछ महीनों बाद लिव-इन में रहने लगे। हालांकि, मार्च 2022 में वो श्रद्धा को लेकर दिल्ली चला आया, जहां उसने श्रद्धा का कत्ल कर दिया। 

ये भी देखें : 
जानें क्या करती है आफताब की दूसरी गर्लफ्रेंड, ब्वॉयफ्रेंड की दरिंदगी जान अब तक सदमे में है लड़की

उसने हमारी बहन-बेटी के 35 टुकड़े किए, हम 70 कर देंगे; आफताब को मारने पहुंचे शख्स ने कही ये बात