Asianet News HindiAsianet News Hindi

सिख प्रतिनिधिमंडल ने पगड़ी बांधकर नरेंद्र मोदी को किया सम्मानित, लंबी उम्र के लिए किया अरदास

दिल्ली के गुरुद्वारा श्री बाला साहिब जी के प्रतिनिधिमंडल ने प्रधानमंत्री आवास में नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने पगड़ी बांधकर नरेंद्र मोदी को सम्मानित किया। इस दौरान उनकी लंबी उम्र के लिए अरदास भी किया गया।
 

Sikh Delegation meets Prime Minister Narendra Modi at his residence vva
Author
First Published Sep 19, 2022, 2:08 PM IST

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi)  का जन्मदिन 17 सितंबर को था। इस अवसर पर दिल्ली के गुरुद्वारा श्री बाला साहिब जी में अखंड पाठ का आयोजन किया गया। यह आयोजन 15 सितंबर को शुरू हुआ और 17 सितंबर को समाप्त हुआ।

अखंड पाठ में हजारों सिख भक्तों ने भाग लिया। इस अवसर पर गुरुद्वारा द्वारा लंगर, स्वास्थ्य शिविर और रक्तदान शिविर का भी आयोजन किया गया। यह शायद अपनी तरह की पहली पहल थी, जब किसी गुरुद्वारे ने प्रधानमंत्री के लिए 'अखंड पाठ' का आयोजन किया था।

 

प्रतिनिधिमंडल ने की प्रधानमंत्री से मुलाकात
गुरुद्वारा का एक प्रतिनिधिमंडल सोमवार को  7 लोक कल्याण मार्ग स्थित प्रधानमंत्री के आवास पर पहुंचा और नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। सिख प्रतिनिधिमंडल ने पगड़ी बांधकर और सिरोपा भेंट कर प्रधानमंत्री को सम्मानित किया। इसके साथ ही उनकी लंबी उम्र और अच्छे स्वास्थ्य के लिए अरदास भी किया गया।

नरेंद्र मोदी ने प्रतिनिधिमंडल से मिलने पर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद दिया। पीएम ने कहा कि वह खुद को सिख समुदाय का हिस्सा महसूस कर रहे हैं। यह उनके लिए बहुत बड़ी बात है। हमारी सरकार सिख समुदाय के कल्याण के लिए लगातार काम करने के लिए प्रतिबद्ध है। 

यह भी पढ़ें- प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर 1 लाख से अधिक लोगों ने किया रक्तदान, बना विश्व रिकॉर्ड

सिख प्रतिनिधिमंडल ने दिया धन्यवाद
वहीं, सिख प्रतिनिधिमंडल ने प्रधानमंत्री द्वारा सिख समुदाय के सम्मान और कल्याण के लिए की गई महत्वपूर्ण पहल के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने 26 दिसंबर को "वीर बाल दिवस" के रूप में घोषित करने, करतारपुर साहिब कॉरिडोर को फिर से खोलने, गुरुद्वारों द्वारा चलाए जा रहे लंगरों पर जीएसटी हटाने सहित कई अन्य कामों को याद किया। प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि केंद्र सरकार ने यह सुनिश्चित किया कि अफगानिस्तान से गुरु ग्रंथ साहिब की प्रतियां सुरक्षित भारत पहुंचें। यह सिख समाज के लिए बहुत अहम बात है।

यह भी पढ़ें- 'परिणाम की परवाह किए बिना कर्मयोगी की तरह काम करते हैं मोदी'

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios