Asianet News HindiAsianet News Hindi

Tripura Police: सांप्रदायिक हिंसा को लेकर पुलिस सख्त, Twitter के 68 अकाउंट सस्‍पेंड करने का ऑर्डर

इन सभी 68 अकाउंट के खिलाफ कड़े यूएपीए के तहत शिकायत दर्ज की गई है। पश्चिम त्रिपुरा जिला पुलिस ने 3 नवंबर को लिखे एक पत्र में अमेरिका के कैलिफोर्निया में अपने आधिकारिक पते पर ट्विटर के शिकायत अधिकारी को सभी 68 प्रोफाइलों के लिंक का उल्लेख करते हुए पत्र भेजा था। 

Tripura Violence case, tripura police order social media platform Twitter to suspend accounts
Author
Agartala, First Published Nov 6, 2021, 2:51 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अगरतला. त्रिपुरा पुलिस (Tripura Police)  सांप्रदायिक हिंसा (Communal Violence) की घटनाओं को लेकर काफी गंभीर है। पुलिस ने सोशल मीडिया में आपत्तिजनक पोस्ट करने वालों के खिलाफ सख्ती बरतना शुरू कर दिया है। पुलिस हाल ही में राज्य में हुई सांप्रदायिक हिंसा के पीछे आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले 68 ट्विटर (Twitter) एकाउंट को सस्पेंड करने को कहा है।  पुलिस के अनुसार, ट्विटर अकाउंट का इस्तेमाल राज्य में कथित मस्जिद तोड़फोड़ के संबंध में आपत्तिजनक सामग्री पोस्ट करने के लिए किया गया था।


इन सभी 68 अकाउंट के खिलाफ कड़े यूएपीए के तहत शिकायत दर्ज की गई है। पश्चिम त्रिपुरा जिला पुलिस ने 3 नवंबर को लिखे एक पत्र में अमेरिका के कैलिफोर्निया में अपने आधिकारिक पते पर ट्विटर के शिकायत अधिकारी को सभी 68 प्रोफाइलों के लिंक का उल्लेख करते हुए पत्र भेजा था। कुछ व्यक्ति/संगठन राज्य में मुस्लिम समुदायों की मस्जिदों पर हालिया झड़प और कथित हमले के संबंध में ट्विटर पर गलत और आपत्तिजनक खबरें या बयान पोस्ट कर रहे हैं। 

कई तरह की फोटो बयान किए गए थे शामिल
इन प्रोफाइल पर कुछ न्यूज या अन्य घटनाओं की तस्वीरें वीडियो, आपराधिक साजिश की उपस्थिति में धार्मिक समूहों और समुदायों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने के लिए गलत बयान और टिप्पणी शामिल थी। पुलिस द्वारा भेजे गए लेटर के अनुसार, इन सोशल मीडिया एकाउंट से ऐसी पोस्ट की गईं थी जिसके बाद विभिन्न धार्मिक समुदायों के लोगों के बीच सांप्रदायिक तनाव भड़काने की क्षमता थी। 

क्या है मामला
बांग्लादेश की सीमा से सटे त्रिपुरा में कुछ मुस्लिम समुदायों का आरोप है कि पड़ोसी देश में सांप्रदायिक हिंसा के बाद उन पर हमले हुए। बांग्लादेश में दुर्गा पूजा के दौरान झड़प करीब सात लोगों की मौत हो गई थी। इस हिंसा का असर त्रिपुरा में भी देखने को मिला था।  बता दें कि ये पहला मामला नहीं है जब किसी राज्य में हिंसा के बाद सोशल मीडिया एकाउंट के खिलाफ कार्रवाई की गई हो। इससे पहले भी कई राज्य में इस तरह की कार्रवाई की जा चुकी है।

इसे भी पढ़ें-  Malik Vs Wankhede: मलिक बोले- देखते हैं कौन वानखेड़े की कोठरी से कंकाल निकालता है, निजी सेना को बेनकाब करेगा
Income Tax Raid: मेवा कारोबारी के यहां आयकर छापे, 200 करोड़ रुपये से ज्यादा बेहिसाब आय का पता चला

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios