Asianet News HindiAsianet News Hindi

Heavy rain alert: साउथ इंडिया में रिकॉर्ड तोड़ बारिश ने मचाई तबाही; अगले 4 दिनों तक खतरा बरकरार

देश के दक्षिणी हिस्से आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और कर्नाटक में भारी बारिश(Heavy rain) ने भयंकर तबाई मचाई है। आंध्र प्रदेश में पिछला 30 साल पुराना रिकॉर्ड टूटा है। इस बीच भारतीय मौसम विज्ञान विभाग(IMD) ने चक्रवाती हवाओं के चलते एक बार फिर इन राज्यों में अगले 4 दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

weather update, Heavy rain alert in Tamil Nadu, Andhra Pradesh and Karnataka KPA
Author
New Delhi, First Published Nov 24, 2021, 8:40 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. भारी बारिश (Heavy rain) ने देश के दक्षिणी राज्यों आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और कर्नाटक में भयंकर तबाही मचाई है। लोगों ने कई सालों बाद ऐसी मूसलाधार बारिश देखी। हजारों लोग प्रभावित हुए हैं। भारी नुकसान हुआ है। इस बीच भारतीय मौसम विज्ञान विभाग(IMD) ने फिर से यहां भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

28 नवंबर तक खतरा टला नहीं
IMD के मुताबिक, दक्षिण-पश्चिम और दक्षिण-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवाती हवाओं का एक क्षेत्र बना हुआ है। इसके प्रभाव से 25 नवंबर के आसपास पंबन के कुड्डालोर तक तमिलनाडु के दक्षिणी हिस्से तक भारी बारिश हो सकती है। वहीं, 26 से 28 नवंबर तक तमिलनाडु के उत्तर हिस्से-चेन्नई, कवाली, नेल्लोर, तिरुपति सहित तटीय आंध्र प्रदेश में भी भारी बारिश की संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार, तमिलनाडु और दक्षिण आंध्र प्रदेश के तटीय क्षेत्रों-मन्नार की खाड़ी के साथ दक्षिण-पश्चिम और उससे सटे पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी में 26 से 27 नवंबर तक तेज हवाएं भी चल सकती हैं। इसकी रफ्तार 40-60 किमी प्रति घंटा तक हो सकती है। IMD ने भारी बारिश और तेज हवाओं के मद्देनजर मछुआरों को समुद्र से दूर रहने की सलाह दी है।

आंध्र प्रदेश में 30 साल का रिकॉर्ड टूटा
आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु में बारिश ने पिछले सारे रिकॉड तोड़ दिए हैं। यहां 30 सालों का रिकॉर्ड टूटा है। इस बीच कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई(Basavaraj Bommai) ने कहा है कि परिसर में पानी घुसने से प्रभावित हुए घरों के लिए 10,000 रुपये का मुआवजा, पूरी तरह से नष्ट हुए घरों के लिए 5 लाख रुपये और बेंगलुरु के येलहंका में लगातार बारिश और बाढ़ के कारण क्षतिग्रस्त हुए घरों के लिए 1 लाख रुपये का भुगतान जल्द ही किया जाएगा। कर्नाटक राज्य प्राकृतिक आपदा प्रबंधन प्रधिकरण के आयुक्त मनोज राजन के मुताबिक, राज्य में नवंबर में 129 मिलीमीटर बारिश हुई, जो इस महीने में होने वाली औसत बारिश से 271 प्रतिशत अधिक है।

प्रधानमंत्री लगातार बनाए हुए हैं नजर
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime Minister Narendra Modi) तीनों राज्यों पर लगातार नजर बनाए हुए हैं। वे यहां के मुख्यमंत्रियों के संपर्क में हैं। प्रधानमंत्री ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री बोम्मई से बात की। पीएम ने तीनों राज्यों को हर संभव मदद देने का भरोसा दिलाया है। आंध्र प्रदेश में बाढ़ का सबसे अधिक कहर कडप्पा के अलावा चित्तूर और नेल्लू जिलों में दिखाई दे रहा है। यहां नदी-नहरें सब जबर्दस्त उफान पर हैं। पानी में सड़कें बह गई हैं। बचाव कार्य लगातार जारी है।

यह भी पढ़ें
Andhra Pradesh Rains: क्या मकान; क्या इंसान और जानवर, सबको बहा ले गई भयंकर बाढ़, देखें कुछ shocking videos
Andhra Pradesh Rains: बाढ़ ने मचाई तबाही बांध टूटने से बह गई 50 यात्रियों से भरी बस; 17 की मौत; देखें PICS
Andhra Pradesh flood : चेन्नई-विजयवाड़ा की 17 ट्रेनें रद्द, कई नेशनल हाईवे भी डूबे

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios