Asianet News HindiAsianet News Hindi

वीजा केस जीतने के बाद रिहा हुए Novak Djokovic, कहा- अब भी Australian Open में खेलना चाहता हूं

विश्व के नंबर वन टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच को सोमवार को ऑस्ट्रेलियन इमिग्रेशन डिटेंशन से रिहा कर दिया गया। उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर लिखा 'मैं प्रसन्न और आभारी हूं कि न्यायाधीश ने मेरा वीजा रद्द करने के फैसले को रद्द कर दिया। 

Novak Djokovic wins Australia visa case Australian Open
Author
Melbourne VIC, First Published Jan 10, 2022, 11:01 PM IST

स्पोर्ट्स डेस्क: विश्व के नंबर वन टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) को सोमवार को ऑस्ट्रेलियन इमिग्रेशन डिटेंशन से रिहा कर दिया गया। ऑस्ट्रेलिया का वीजा रद्द करने के मामले में हुई सुनवाई के दौरान कोर्ट ने जोकोविच को छोड़ने का आदेश दिया था, जिसके बाद उनकी रिहाई हो पाई। अब जोकोविच ऑस्ट्रेलियन ओपन 2022 में रिकॉर्ड 21वां ग्रैंड स्लैम पुरुष खिताब जीतने के लिए खेल सकते हैं। जोकोविच के पक्ष में अदालत का फैसला आने के बाद उनके प्रशंसकों ने जश्न मनाया। 

कोर्ट के फैसले के बाद नोवाक जोकोविच ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा 'मैं प्रसन्न और आभारी हूं कि न्यायाधीश ने मेरा वीजा रद्द करने के फैसले को रद्द कर दिया। पिछले एक सप्ताह में जो कुछ भी हुआ है, उसके बावजूद मैं ऑस्ट्रेलियन ओपन में खेलना चाहता हूं। मैं यहां अपने प्रशंसकों के बीच सबसे महत्वपूर्ण आयोजनों में से एक में खेलने के लिए आया था। अभी के लिए मैं और कुछ नहीं कह सकता। इस सब में मेरे साथ खड़े रहने और मुझे मजबूत बने रहने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए धन्यवाद।'

 

यह है मामला
बीते सप्ताह ऑस्ट्रेलियन ओपन में भाग लेने के लिए पहुंचे सर्बियाई टेनिस खिलाड़ी जोकोविच का वीजा कोरोना वैक्सीनेशन नहीं होने के कारण रद्द कर दिया गया था। उन्हें हिरासत में रखा गया था। जोकोविच इस लड़ाई को कोर्ट में ले गए थे। जज एंथनी कैली ने जोकोविच के वीजा रद्द करने के ऑस्ट्रेलियाई प्राधिकरण के फैसले को खारिज कर दिया है। अब वह ऑस्ट्रेलिया में दाखिल हो सकते हैं। 

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया में दुनिया में सबसे सख्त कोरोना संबंधी नियम लागू हैं। ऑस्ट्रेलिया के आम लोगों को देश में आजादी से आवागमन करने के लिए टीका लगवाना अनिवार्य है। कोरोना का टीका नहीं लगवाने के बाद भी जोकोविच को ऑस्ट्रेलिया में खेलने के लिए छूट दी गई थी। जोकोविच पर एयरपोर्ट पर पहुंचे तो उनका वीजा रद्द कर दिया गया और उन्हें इमिग्रेशन के डिटेंशन में डाल दिया गया था।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios