Asianet News HindiAsianet News Hindi

लखनऊ में 'साधुओं' के आशीर्वाद से चुनी गई विश्व कुश्ती चैंपियनशिप 2022 के लिए भारतीय महिला टीम

सोमवार को लखनऊ में विश्व कुश्ती चैंपियनशिप 2022 के ट्रायल्स हुए। लेकिन इस दौरान डब्ल्यूएफआई के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने ट्रायल्स से पहले रेफरी को रुकने का आदेश दिया ताकि साधू "आशीर्वाद" दे सकें और पहलवानों के साथ तस्वीरें ले सकें।

World Wrestling Championships 2022: women team picked, with blessing from Ayodhya seers in Lucknow dva
Author
First Published Aug 30, 2022, 7:44 AM IST

स्पोर्ट्स डेस्क : भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) ने सोमवार को अगले महीने होने वाली 2022 विश्व कुश्ती चैंपियनशिप (World Wrestling Championships 2022) के लिए भारतीय महिला टीम की घोषणा की। जिसके ट्रायल्स सोमवार को ही लखनऊ में आयोजित किए गए थे। लेकिन इस ट्रायल में कुछ ऐसा देखने को मिला, जिसने सभी को हैरान कर दिया। दरअसल, डब्ल्यूएफआई के अध्यक्ष और भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने रेफरी को रुकने का आदेश दिया ताकि साधू खिलाड़ियों को "आशीर्वाद" दे सकें और पहलवानों के साथ तस्वीरें ले सकें। 

क्या है पूरा मामला
सोमवार को लखनऊ में भारतीय कुश्ती महासंघ ने साई केंद्र में महिलाओं के चयन परीक्षणों का आयोजन किया। हालांकि, ट्रायल्स शुरू होने के 54 सेकंड बाद ही 59 किग्रा वर्ग में विश्व चैम्पियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले पहलवान की लड़ाई को अचानक रोकना पड़ा। खेल में बाधा चोट या तकनीकी खराबी के कारण नहीं आई थी, बल्कि यहां अयोध्या के संतों के एक समूह को आमंत्रित करना भूल गए, जो मुख्य अतिथि थे। इसके बाद डब्ल्यूएफआई के अध्यक्ष और भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने खेल रुकवाया और संतों ने खिलाड़ियों को आशीर्वाद दिया और उनके साथ फोटो खिंचवाई फिर कहीं जाकर प्रतियोगिता शुरू हो पाई।

इतना ही नहीं सिंह हाथ में माइक्रोफोन लिए मैट के बगल में सोफे पर थे और अपनी मर्जी से कार्यवाही को नियंत्रित कर रहे थे। यहां तक ​​कि उनके पास उन संतों के लिए भी निर्देश थे, जो अयोध्या में हमूमन गढ़ी मठ के थे। सिंह ने उनसे कहा, "ज्यादा समय मत लो।" उन्होंने कहा, 'मुकाबला शुरू हो चुका है और पहलवानों का अभ्यास शुरू हो गया है। तो कृपया अपना आशीर्वाद दें और जल्द ही वापस आएं।'

सभी मुकाबलों के पूरा होने और महिला टीम के फाइनल होने के बाद, 65 वर्षीय बृजभूषण शरण सिंह ने सभी पहलवानों को अपने सामने तीन पंक्तियों में चटाई पर बैठाया और कोचों को टिप्स देते हुए उनमें से कुछ में तकनीकी खामियों की ओर इशारा किया। इतना ही नहीं, उन्होंने एक नई गाइडलाइन भी रखी। इस दौरान उन्होंने पहलवानों से कहा, "हम उम्मीद करते हैं कि आप सभी सरकार, साई और महासंघ की हर उस चीज के लिए प्रशंसा करेंगे जो वे आपके लिए कर रहे हैं। हम हर तरह से आपका समर्थन कर रहे हैं और अगर कोई बाधा है, तो मुझे बताएं और मैं सुनिश्चित करूंगा कि इसका ध्यान रखा जाए।"

ये खिलाड़ी करेंगे देश का प्रतिनिधित्व
बता दें कि अगले महीने सर्बिया के बेलग्रेड में होने वाली विश्व कुश्ती चैंपियनशिप 2022 का आयोजन होने वाला है। इसके लिए विनेश फोगट, सरिता मोर, सोनम मलिक और अन्य ने अपने टिकट बुक किए। जबकि, दिव्या काकरान, अंशु मलिक, पूजा सिहाग, साक्षी मलिक और पूजा ढांधा जैसे राष्ट्रमंडल पदक विजेताओं ने विभिन्न कारणों से ट्रायल में भाग नहीं लिया। विश्व कुश्ती चैंपियनशिप 10 सितंबर से 18 सितंबर 2022 तक आयोजित की जाएगी।

यह भी पढ़ें- विश्व कप का बदला, टीम इंडिया के इन खिलाड़ियों लगाई रिकॉर्ड्स की झड़ी, फैंस बोले- ' रूलाओगे क्या'

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios