Asianet News HindiAsianet News Hindi

माकपा के कद्दावर नेता कोडियेरी बालकृष्णन नहीं रहे...चेन्नई के अपोलो अस्पताल में ली अंतिम सांस

कोडियेरी बालकृष्णन, सीपीएम के ताकतवर नेताओं में शुमार रहे हैं। वह सीपीआई (एम) के केरल राज्य समिति के सचिव के रूप में साल 2015 से 2022 तक कार्य किए हैं। केरल राज्य सचिव के पद पर वह दूसरी बार चुने गए थे लेकिन स्वास्थ्य कारणों से उन्होंने कुछ दिनों पहले ही इस्तीफा दे दिया था।

Senior CPM leader Kodiyeri Balakrishnan passes away, Know Former Minister life journey, DVG
Author
First Published Oct 1, 2022, 9:31 PM IST

Senior CPM leader passes away: मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के बडे़ लीडर रहे कोडियेरी बालकृष्णन का शनिवार को निधन हो गया। वह 68 साल के थे। काफी दिनों से कैंसर से जूझ रहे थे। बालकृष्णन को बीते 29 अगस्त को हालत बिगड़ने के बाद चेन्नई के अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था। स्वास्थ्य कारणों ने उन्होंने हाल ही में पार्टी के राज्य सचिव पद को छोड़ दिया था। वह लंबे समय तक केरल सरकार में गृह मंत्री भी रह चुके हैं।

केरल के ताकतवर नेताओं शुमार थे बालकृष्णन

कोडियेरी बालकृष्णन, सीपीएम के ताकतवर नेताओं में शुमार रहे हैं। वह सीपीआई (एम) के केरल राज्य समिति के सचिव के रूप में साल 2015 से 2022 तक कार्य किए हैं। केरल राज्य सचिव के पद पर वह दूसरी बार चुने गए थे लेकिन स्वास्थ्य कारणों से उन्होंने कुछ दिनों पहले ही इस्तीफा दे दिया था। संगठन के विभिन्न पदों पर रहे बालकृष्णन कई संवैधानिक पदों पर भी रह चुके हैं। वह वीएस अच्युदानंदन की सरकार में गृह मामलों व पर्यटन विभाग के मंत्री रहे। पहली बार बालकृष्णन 1987 में विधायक चुने गए थे। वह केरल के तेलीचेरी विधानसभा क्षेत्र से जीत हासिल किए थे। यूडीएफ शासनकाल में वह 2001 से 2006 तक विपक्ष के उप नेता रहे। जबकि 2011 में वह नेता प्रतिपक्ष रह चुके हैं।

छात्र जीवन से ही सीपीएम की राजनीति में सक्रिय

कोडियेरी बालकृष्णन का जन्म 16 नवम्बर 1953 में हुआ था। उनकी शिक्षा दीक्षा कोडियरी ओनियान हाई स्कूल, महात्मा गांधी कॉलेज माहे और यूनिवर्सिटी कॉलेज त्रिवेंद्रम में हुई। महात्मा गांधी कॉलेज माहे में पढ़ाई के दौरान वह छात्र राजनीति में सक्रिय हुए थे। इसी दौरान उन्होंने सीपीआई (एम) के छात्र विंग को ज्वाइन कर लिया था। बालकृष्णन, एसएफआई की केरल राज्य समिति के सचिव और इसके अखिल भारतीय संयुक्त सचिव बने। उन्होंने 1980 के दशक की शुरुआत में DYFI के कन्नूर जिला अध्यक्ष के रूप में भी काम किया। इमरजेंसी में उनको 16 महीने तक जेल काटनी पड़ी। कोडियेनी की शादी एसआर विनोदिनी से हुई थी। उनके दो बच्चे बिनॉय कोडियेरी और बिनेश कोडियेरी हैं।

यह भी पढ़ें:

'साहब' ने अपने लिए खरीदी अवैध तरीके से 29 गाड़ियां, HC की तल्ख टिप्पणी-देश में घोटालों से बड़ा है जांच घोटाला

भारत के साफ-सुथरा शहरों में इंदौर की बादशाहत बरकरार, नवी मुंबई ने बनाई जगह, वाराणसी-कन्नौज ने रखा यूपी का मान

वंदे भारत ट्रेन: महाराष्ट्र-गुजरात की राजधानियों के बीच रोज दौड़ेगी, पहले ही दिन 96% सीटें बुक, जानिए किराया

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios