Asianet News Hindi

एक ही घर में ब्याह कर आई थीं सगी बहनें, देवर ने ही उजाड़ दिया दोनों की मांग का सिंदूर

जमीन के बंटवारे से नाराज छोटे भाई ने अपने दो बड़े भाइयों को गोलियों से भून दिया। मरने वाले दोनों भाइयों की पत्नियां भी सगी बहनें थीं। विवाद जमीन पर खड़े पेड़ को काटने को लेकर हुआ था। आरोपी चचेरे भाई के साथ खेत पर पहुंचा था। वहां विवाद होने पर उसने पिस्टल से फिल्मी स्टाइल में ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। घटना की जानकारी जैसे ही गांव में फैली..दहशत का माहौल पैदा हो गया। घटना के बाद आरोपी वहां से भाग निकले।

Tarn Taran crime, sensational case of killing of two elder brothers by younger brother in land dispute kpa
Author
Tarn Taran, First Published Jun 3, 2020, 12:49 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


तरनतारन, पंजाब. जमीन के टुकड़े को लेकर छोटा भाई अपने सगे दो बड़े भाइयों के खून का प्यासा हो गया। उसने बगैर कुछ सोचे-समझे दोनों को गोलियों से भून दिया। आरोपी पिता द्वारा जमीन के बंटवारे से नाराज था। मरने वाले दोनों भाइयों की पत्नियां भी सगी बहनें हैं। विवाद जमीन पर खड़े पेड़ को काटने को लेकर हुआ था। आरोपी चचेरे भाई के साथ खेत पर पहुंचा था। वहां विवाद होने पर उसने पिस्टल से फिल्मी स्टाइल में ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। घटना की जानकारी जैसे ही गांव में फैली..दहशत का माहौल पैदा हो गया। घटना के बाद आरोपी वहां से भाग निकले।

जमीन बनी विवाद..
घटना मंगलवार को झब्बाल कस्बे में हुई। बताते हैं कि यहां रहने वाले किसान बहाल सिंह के तीन लड़के और दो लड़कियां हैं। इनमें से अब दो लड़कों की मौत हो गई। लड़कियों की शादी के बाद बहाल सिंह ने अपनी जायदाद को तीनों लड़कों दिलबाग सिंह, लाल सिंह और आरोपी मनजिंदर सिंह के बीच बांट दी थी। लेकिन इस बंटवारे से मनजिंदर सिंह संतुष्ट नहीं था। उसे लगता था कि पिता ने बंटवारे में बड़े भाइयों की मनमर्जी चलने दी। इसी बात को लेकर तीनों में मनमुटाव चलता रहता था। दोनों बड़े भाई साथ में रहते थे, जबकि छोटा भाई अलग रहता था।

देवर ऐसा करेगा सोचा न था..

तीनों के बीच अकसर झगड़ा होता था। मंगलवार को लाल सिंह और दिलबाग सिंह खेत पर गए थे। वे वहां लगे पेड़ काट रहे थे। इसी दौरान मनजिंदर सिंह चचेरे भाई के साथ वहां पहुंचा। उसने पेड़ काटने से मना किया। इसी बात पर विवाद शुरू हो गया। इसी दौरान गुस्से में आकर मनजिंदर सिंह ने दोनों भाइयों को पिस्टल से गोलियां मार दीं। इसके बाद मौके से भाग गया। घटना की जानकारी मिलने पर डीएसपी सुच्चा सिंह बल्ल मौके पर पहुंचे और शवों को पोस्टमार्टम के लिए पहुंचाया। मरने वालों की पत्नियां सगी बहनें हैं। वे सिर्फ इतना बोल सकीं कि देवर ऐसा करेगा..सोचा न था।

पिता को भी धमकाता था
बहाल सिंह ने बताया कि मनजिंदर सिंह उन्हें और अपनी मां परमजीत कौर को भी लगातार धमकाता था। लेकिन किसी ने ऐसा नहीं सोचा था। पुलिस ने बताया कि घटना के वक्त आरोपी के साथ 8-10 लोग थे। सबके हाथ में हथियार थे।

 

यह भी पढ़ें

कैसी मां हो? भगवान भी देखता है, ये बच्चे कोई कचरा नहीं थे..जिन्हें तड़प-तड़पकर मरने के लिए फेंक दिया

ये तस्वीरें नक्सलियों की बौखलाहट को दिखाती हैं, इस बेटी ने नक्सली हमले में अपने पिता खोये थे

तूफान से उबर नहीं पाया कि बारिश कहर बनकर टूटी, असम पर मौसम की बेरहम मार, देखें कुछ तस्वीरें

इमोशनल कहानी: 'पापा नहीं रहे..अब मां के पास जाना है..'इतना कहकर मायूस हो जाते हैं भाई-बहन

ये तस्वीरें खुश कर देंगी, पुरानी तस्वीरों में देखिए रंगीले राजस्थान की जीवनशैली और जोशीला अंदाज

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios