Asianet News HindiAsianet News Hindi

खेलते-खेलते श्मशान के पास क्या पहुंचे दो भाई, दोनों की हो गई दर्दनाक मौत...पूरे अलवर में मचा कोहराम

राजस्थान के अलवर जिलें  में घर से निकले दो भाइयों के श्मशान घाट के पास बनी टंकी में  तैरते मिले शव। घरवालों को पांच घण्टे तक नहीं लगी भनक। जैसे ही लोगों को घटना के बारे में पता चला, पूरे घर में मचा कोहराम। परिवार वालों का रो- रोकर हुआ बुरा हाल। एक को बचाने में गई दोनों की जान।

alwar news two brother died during saving each other by drowning in water tank sca
Author
Alwar, First Published Jun 28, 2022, 3:12 PM IST

अलवर (Alwar).राजस्थान के अलवर जिले के कैमला गांव में घर से निकले दो चचेरे भाइयों की पानी की टंकी में डूबने से मौत हो गई। दोनों श्मशान घाट के पास स्थित जलदाय विभाग की पानी की टंकी में नहाने गए थे। जहां जानकारी के अनुसार एक को डूबते देख दूसरे ने बचाने की कोशिश की तो वह भी पानी में समा गया। घटना की जानकारी परिजनों को करीब पांच घंटे बाद मिली तो परिवार में कोहराम मच गया। पुलिस के अनुसार मृतक  15 वर्षीय सागर पुत्र गणेश कुमार व 16 वर्षीय नितिन पुत्र विनोद है। जो सोमवार दोपहर करीब 12.30 बजे घर से साथ ही निकले थे। जिनके शव श्मशान घाट के पास बनी पानी की टंकी में मिले हैं। ग्रामीणों के अनुसार करीब दो बजे पहले सागर पानी में नहाने उतरा था। जो डूबने लगा तो नितिन ने उसे बचाने के लिए पानी में छलांग लगा दी। बाद में दोनों की ही पानी में डूबने से मौत हो गई। मृतकों के शवों का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंपने के बाद मंगलवार को दोनों का अंतिम संस्कार किया गया।

पांच घंटे तक तलाशते रहे परिजन
घटना के पांच घंटे बाद तक भी मृतकों के परिजनों को हादसे का पता नहीं चला। देर शाम तक भी जब दोनों भाई घर नहीं आए तो उन्होंने उनके मोबाइल पर फोन किया। जो नहीं उठाने पर घरवालों ने बाहर उनकी तलाश शुरू की। इसी दौरान उनके कपड़े श्मशान घाट के पास मिले। संदेह होने पर पानी की टंकी में देखा तो दोनों के शव तैरते मिले। जिन्हें ग्रामीणों की मदद से बाहर निकाला गया। सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों के शव रात करीब आठ बजे मोर्चरी में रखवाए। जिन्हें पोस्टमार्टम के बाद सुबह परिजनों को सौंपा गया।

11वीं व 12वीं के थे छात्र, मजदूरी करते हैं पिता
मामले की जांच कर रही पुलिस के अनुसार मृतक सागर व नितिन दोनों के पिता मजदूरी कर परिवार चलाते हैं। इनमें सागर 11वीं कक्षा तथा नितिन 12वीं कक्षा में एक ही स्कूल में पढ़ते थे।  सागर छोटे भाई का लड़का था,जिसके तीन भाई- बहन थे जबकि नितिन बड़े भाई का लड़का था, और दो भाइयों में एक था। घटना के बाद दोनों के माता- पिता व भाई- बहनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। दो नौजवान युवकों की मौत से घर में मातम पसरा हुआ है।
 
जलदाय विभाग को ठहराया जिम्मेदार
दोनों भाइयों की मौत की वजह परिजनों ने जलदाय विभाग की लापरवाही को बताया है। जिसने जलदाय विभाग की टंकी को खुला छोड़ कोई चेतावनी बोर्ड भी मौके पर नहीं होने का आरोप लगाया है। ग्रामीणों ने दोनों मृतकों के परिजनों को विभाग से मुआवजा दिए जाने की मांग भी की है।

इसे भी पढ़े- राजस्थान के जालोर और पाली में भीषण हादसा: 7 लोगों की मौत, 4 घायल, कार में ही चिपक गए शव

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios